बॉलीवुड

सुशांत सिंह राजपूत मामले में शेखर सुमन ने मांगी CBI जांच, आखिर मरने के पहले क्यों बदले थे सुशांत ने 50 सिम कार्ड

बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत आज हमारे बीच नही हैं. पुलिस के अनुसार सुशांत ने मुंबई के अपने फ्लैट में गले मे फंदा डाल कर जान दे दी थी. हालांकि उन्हें गुज़रे अब 15 दिन बीत चुके हैं लेकिन फैन्स अब भी उनके जाने का सदमा भुला नही पा रहे हैं. अभी तक पुलिस ने 27 लोगों से इस मामले में पूछताछ की है. वहीँ बॉलीवुड के जाने माने स्टार्स और कुछ राजनेता सीबीआई जांच की मांग कर रहे हैं. बता दें कि बीते दिन बॉलीवुड एक्टर शेखर सुमन सुशांत सिंह राजपूत के पटना वाले घर उनके परिवार से मुलाकात करने पहुंचे. जब उन्होंने सुशांत के पिता से बात की तो उन्हें कईं अनसुलझी बातों का पता चला.

अब शेखर सुमन सरकार से इस केस की सीबीआई जाँच करने की अपील कर रहे हैं. गौरतलब है कि शेखर सुमन का यह मानना है कि सुशांत सिंह राजपूत ने अपनी जान खुद नहीं ली बल्कि उनका मर्डर अंजाम दिया गया है. इसके लिए शेखर ने सोशल मीडिया पर सुशांत को इंसाफ दिलवाने के लिए जस्टिस फॉर सुशांत फोरम शुरू किया है.

प्रेस कांफ्रेस बुलवा किए खुलासे 

मिली जानकारी के अनुसार सुशांत सिंह राजपूत के पिता से भेंट करने के बाद शेखर सुमन ने एक प्रेस कांफ्रेस बुलवाई और कुछ मुद्दों पर से पर्दा उठाया. उनकी बातों से यह साफ़ लग रहा है कि वह इस केस को मर्डर मान रहे हैं. क्यूंकि अभिनेता सुशांत ने मरने से पहले ना तो कोई आखिरी लेटर छोड़ा था और ना ही उनके बिहेवियर से कुछ अजीब लगा हा कि वह इस तरह अपनी जान ले लेंगे.

एक महीने में बदले थे 50 सिम कार्ड 

शेखर सुमन ने बताया कि सुशांत सिंह राजपूत ने पिछले एक महीने से लगभग 50 मोबाइल नंबर बदले थे. ऐसे में कोई भी बड़ा स्टार तब ही सिम कार्ड चेंज करता है, जब कोई उसको धमका रहा हो या फिर ब्लैकमेल कर रहा हो. उन्होंने यह सवाल खड़ा किया कि आखिर सुशांत जैसा होनहार कलाकार जो रात तक पार्टी कर रहा था और सुबह जूस गिलास पी रहा था, उसके मन में ऐसा अचानक से क्या आ गया जो उसने बिना सोचे समझे खुद को खत्म कर दिया.

गले पर पतले निशान होना भी है गंभीर मुद्दा 

इसके इलावा शेखर सुमन ने सुशांत सिंह राजपूत के गले पर पड़े निशानों को लेकर भी बड़ा खुलासा किया. उन्होंने कहा कि मुंबई के घरों की छत ज्यादा ऊपर नहीं होती, ऐसे में सुशांत अपने बिस्तर पर चढ़ कर कैसे पंखे से लटक सकते थे जबकि उनका अपना कद ही 6 फीट था. वहीँ उनके सवालों से एक और बात खुल कर सामने आई है कि अगर उन्होंने कुर्ते की मदद से फंदा लगाया था तो गले पर पड़े निशान मोटे होने चाहिए थे जबकि सुशांत के गले पर पतले निशान थे. इन सब बातों को मुख्य रखते हुए अब शेखर सुमन ने सरकार से सीबीआई जांच बिठाने की मांग की है ताकि जल्द से जल्द सुशांत और उनके परिवार को इंसाफ दिलाया जा सके.

Related Articles

Back to top button