समाचार

बिना जुर्म 20 साल काटे सलाखों के पीछे, जेल से बाहर आकर घर बसाने के लिए की शादी तो…

अगर इंसान बिना किसी गलती के ही सजा काटे, तो उस इंसान पर क्या बीतती है, यह सिर्फ वही जान सकता है। इसी बीच उत्तर प्रदेश के ललितपुर से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है, जहां पर जीवन के 20 साल बिना जुर्म के सलाखों के पीछे अंधेरे में गुजारने के बाद जब शख्स बाहर आया तो जीवन को नई सुबह देने की चाह में बस उसके हाथ निराशा ही आई है।

जी हां, यूपी के ललितपुर के रहने वाले विष्णु तिवारी ने अपने जीवन के 20 साल जेल की सलाखों के पीछे बिताए हैं। आखिर में केसी झूठा निकला। जब वह जेल से बाहर निकले तो 2 साल के बाद उनका जीवन धीरे-धीरे पटरी पर आ रहा था। उन्होंने अपना घर बसाने के लिए शादी का मन बना लिया और दुल्हन भी पसंद करके शादी कर ली।

लेकिन फिर से विष्णु तिवारी धोखा ही मिला। विष्णु ने पुलिस में शिकायत करते हुए न्याय की फरियाद की है। आखिर यह पूरा मामला क्या है? चलिए जानते हैं…

विष्णु ने घर बसाने के लिए की शादी, लेकिन…

20 साल जिंदगी के जेल में काट चुके विष्णु तिवारी जब अपने घर वापस लौटे तो उनके पास कुछ भी नहीं बचा था। दो साल बाद उन्होंने अपने अकेलेपन को दूर करने और एक बार फिर से जिंदगी जीने की लालसा में शादी कर घर बसाने का मन बनाया। विष्णु ने एमपी के सागर जिले की रहने वाली राजकुमारी नाम की लड़की से 22 जुलाई को एक मंदिर में धार्मिक रीति-रिवाजों के मुताबिक शादी कर ली।

विष्णु तिवारी ने अपनी जिंदगी की नई शुरुआत करने से पहले ही 23 जुलाई को शहर के एक मंदिर में अपनी दुल्हन और उसके एक सहयोगी के साथ भगवान का आशीर्वाद लेने के लिए आए थे। यहीं पर दुल्हन अपने साथियों के साथ विष्णु को चकमा देकर गायब हो गई। एक बार फिर से जिंदगी की मार देखकर विष्णु तिवारी काफी दुखी हो गए। लेकिन इस बार वह फरार ठग दुल्हन और ठगी करने वाले परिवार को सबक सिखाना चाहते हैं।

नई दुल्हन नगदी और जेवर लेकर भाग गई

विष्णु के अनुसार, शादी से पहले उसने दुल्हन के माता-पिता को एक लाख रुपए दिए थे। वहीं दुल्हन भी अपने साथ 50 हजार नगद और गहने लेकर चली गई है। शादी के नाम पर ठगी का शिकार हुए विष्णु ने एसपी से मामले की शिकायत की है। मामले की जांच जारी है। पीड़ित विष्णु ने पुलिस अधीक्षक को शिकायत पत्र देकर आरोपियों के विरुद्ध कार्यवाही की मांग की। इस पूरे मामले की जांच में पुलिस जुटी हुई है।

जानिए विष्णु तिवारी कौन हैं?

आपको बता दें कि विष्णु तिवारी ललितपुर के महरौनी कोतवाली क्षेत्र के ग्राम सिलावन निवासी हैं। 20 साल पहले रेप के एक मामले में विष्णु तिवारी को जेल की सलाखों के पीछे भेज दिया गया था। उन्होंने अपने जीवन के 20 साल जेल की सलाखों के पीछे काटे हैं। निर्दोष होने के बावजूद भी उन्हें 20 साल जेल में बिताना पड़ा। बाद में यह मामला झूठा निकला।

हाई कोर्ट के निर्देश के बाद 2 साल पहले ही विष्णु तिवारी को जेल से रिहा किया गया था। यह मामला भी काफी सुर्खियों में रहा था। लेकिन एक बार फिर से जिंदगी में धोखा खाकर विष्णु तिवारी काफी दुखी हो गए हैं। उन्होंने पुलिस से शिकायत कर सभी आरोपियों के खिलाफ कानूनी कार्यवाही करने की मांग की है।

Related Articles

Back to top button