धार्मिक

अजा एकादशी के शुभयोग पर इन 7 राशियों पर रहेगी विष्णुजी की कृपा, नौकरी-व्यापार में मिलेगी तरक्की

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार समय और ग्रहों की चाल निरंतर बदलती रहती है, जिसकी वजह से हर किसी व्यक्ति का जीवन, परिवार, नौकरी, व्यापार प्रभावित होता है। यदि ग्रहों की स्थिति राशि में ठीक है तो इससे हर तरफ से फायदा मिलता है, परंतु ग्रहों की स्थिति ठीक ना होने के कारण जीवन कठिनाई पूर्वक व्यतीत होता है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार आज अजा एकादशी व्रत है। आज आकाशमंडल में शुभयोग का निर्माण हो रहा है, जिसकी वजह से कुछ राशियों के लोग ऐसे हैं, जिनके ऊपर भगवान विष्णु जी की कृपा दृष्टि बनी रहेगी। इनको व्यापार के साथ-साथ नौकरी में भी लगातार तरक्की मिलने के योग बन रहे हैं। आखिर यह भाग्यशाली राशियों के लोग कौन से हैं? चलिए जानते हैं इनके बारे में।

मेष राशि (Aries, चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, आ)

मेष राशि वाले जातकों को विदेश से कोई खुशखबरी मिलने के संकेत बने हुए हैं, जिससे आपका मन अति प्रफुल्लित होगा। परिवार के लोगों के बीच सौहार्द बना रहेगा। हर क्षेत्र में परिवार के लोगों का सहयोग मिलने वाला है। कामकाज की योजनाएं आसानी से पूरी होंगी। आप किसी लाभदायक यात्रा पर जा सकते हैं। अचानक आर्थिक लाभ मिलने के संकेत हैं। आपका रुका हुआ पैसा वापस मिलेगा। बच्चों की तरक्की की खुशखबरी मिल सकती है, जिससे आपको गर्व और खुशी महसूस होगी। आप सकारात्मक उर्जा से लबरेज रहेंगे।

वृषभ राशि (Taurus, ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो)

वृषभ राशि वाले जातकों के लिए यह शुभयोग सफलता प्रदान करने वाला है। काफी लंबे समय से रुके कामकाज पूरे होंगे। विष्णु जी की कृपा से नौकरी के क्षेत्र में उन्नति मिलने के योग बन रहे हैं। पुराने मित्रों से मुलाकात हो सकती है। आप कुछ लोगों की समस्याओं का समाधान निकाल सकते हैं। आपके अच्छे स्वभाव से लोग प्रभावित होंगे। पारिवारिक जीवन बेहतर व्यतीत होगा। पति-पत्नी के बीच चल रहे मतभेद दूर हो सकते हैं। आपके व्यक्तित्व में निखार आएगा।

मिथुन राशि (Gemini, का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, ह)

मिथुन राशि वाले जातकों को अपनी जरूरी योजनाओं पर ध्यान केंद्रित करना होगा। कुछ कामों में आपको कठिनाई महसूस हो सकती है। व्यापार से जुड़े हुए लोगों का समय मिलाजुला रहेगा। आप अपने कामकाज की योजनाओं को ठीक प्रकार से समझकर पूर्ण कीजिए। बिना सोचे-समझे किसी भी कार्य में हाथ ना डालें। आमदनी आपकी ठीक रहेगी। आप अपनी आर्थिक योजनाओं को लेकर सोच-विचार कर सकते हैं।

कर्क राशि (Cancer, ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो)

कर्क राशि वाले जातकों को विष्णु जी की कृपा से लाभ के कई अवसर हाथ लगेंगे। संतान के साथ संबंध रहने वाले हैं। व्यवसाय से अन्य व्यापारी भी धन लाभ प्राप्त कर सकते हैं। लंबे समय से रुकी हुई योजना प्रगति पर आएगी। आपकी सेहत अच्छी रहेगी। करीबी रिश्तेदारों से शुभ समाचार मिल सकता है। कार्यालय का वातावरण आपके पक्ष में रहेगा। गृहस्थ जीवन सुख और संतोष भरा रहने वाला है। कारोबार में आप लगातार पदोन्नति से लाभ प्राप्त करेंगे। सामाजिक क्षेत्र में मान-सम्मान की प्राप्ति होगी।

सिंह राशि (Leo, मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे)

सिंह राशि वाले जातकों का समय कठिन रहेगा। आपकी इच्छा में बढ़ोतरी हो सकती है। किसी पुरानी बात को लेकर आप काफी विचलित रहेंगे। आपकी आमदनी में कमी आ सकती है। खर्चे बढ़ेंगे, इसलिए आप अपनी फिजूलखर्ची पर ध्यान रखें। धर्म-कर्म के कार्यों में रुचि बढ़ेगी। आप किसी नई योजना का आरंभ करने का मन बना सकते हैं। आपको अपनी गलतियों से सीख लेने की जरूरत है।

कन्या राशि (Virgo, ढो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो)

कन्या राशि वाले जातकों का समय उत्तम रहेगा। विष्णु जी के आशीर्वाद से आपको शुभ योग का अच्छा नतीजा मिलेगा। शारीरिक स्फूर्ति और मानसिक प्रफुल्लता बनी रहेगी। परिजनों और मित्रों के साथ आप उत्तम भोजन का आनंद ले सकते हैं। शारीरिक स्वास्थ्य बेहतर रहेगा। काफी लंबे समय से चल रही मानसिक परेशानियां दूर हो सकती है। किसी नए कार्य का आयोजन करने का मन बना सकते हैं। नौकरी और व्यवसाय में आपको लाभ मिलेंगे। व्यापार में नई दिशा प्राप्त होगी।

तुला राशि (Libra, रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते)

तुला राशि वाले जातकों का समय मध्यम फलदाई रहने वाला है। रचनात्मक कार्यों में रुचि बढ़ेगी। आप कुछ नया करने का सोच-विचार कर सकते हैं। कार्यालय में मेहनत अधिक रहेगी, परंतु उसके अनुसार फल की प्राप्ति नहीं हो पाएगी। आपको अपने गुप्त शत्रुओं से संभल कर रहना होगा क्योंकि यह आपको हानि पहुंचाने की कोशिश करेंगे। शेयर बाजार से जुड़े हुए लोगों को हानि हो सकती है। विद्यार्थियों को किसी प्रतियोगी परीक्षा के लिए कठिन मेहनत करनी पड़ेगी।

वृश्चिक राशि (Scorpio, तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू)

वृश्चिक राशि वाले जातकों के जीवन में बहुत से महत्वपूर्ण उतार-चढ़ाव आने वाले हैं। आपको परिस्थितियों के अनुसार अपनी चतुराई का प्रयोग करना होगा। दांपत्य जीवन अच्छा रहेगा। किसी काम के सिलसिले में आपको अधिक मेहनत करनी पड़ेगी, परंतु इसका भविष्य में अच्छा नतीजा मिल सकता है। माता-पिता की सेहत में सुधार आएगा। आप कहीं भी धन निवेश करने की योजना ना बनाएं। आपको अपने रुके हुए कामकाज पर ध्यान देना होगा।

धनु राशि (Sagittarius, ये, यो, भा, भी, भू, धा, फा, ढा, भे)

धनु राशि वाले जातकों को कार्यालय में अधिक मेहनत करनी पड़ेगी परंतु उसके अनुसार आपको फल की प्राप्ति नहीं हो पाएगी। आप कुछ नया कदम उठाने की कोशिश करेंगे। मित्रों का पूरा सहयोग मिलेगा। आप अपनी सोच सकारात्मक रखें। आपको अपनी आमदनी और खर्चों का बजट बना कर चलना होगा। कई महत्वपूर्ण मामले टल सकते हैं।

मकर राशि (Capricorn, भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, गा, गी)

मकर राशि वाले जातकों को अपने जीवन में कई क्षेत्रों से परेशानी हो सकती है। आप अपने लक्ष्य निर्धारित कीजिए। दोस्तों के बीच तनाव उत्पन्न होने की संभावना बन रही है। आप बेवजह के कामों से दूर रहें। आयात-निर्यात से जुड़े हुए लोगों का समय मिलाजुला रहने वाला है। कुछ लोग आपके अच्छे स्वभाव का लाभ उठाने की कोशिश करेंगे, इसलिए आप सतर्क रहें। व्यापार में आप किसी के ऊपर जरूरत से ज्यादा भरोसा मत कीजिए।

कुंभ राशि (Aquarius, गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा)

कुंभ राशि वाले जातकों का मन व्याकुल रहेगा। सामाजिक दृष्टि से अपमानित ना होना पड़े इस बात पर ध्यान देने की जरूरत है। आप किसी नए कार्य की शुरुआत करने की योजना बना सकते हैं। संतान की तरफ से शुभ समाचार मिल सकता है। परिवार के लोगों के साथ आप किसी अच्छी जगह घूमने फिरने की योजना बना सकते हैं। जीवनसाथी का पूर्ण सहयोग मिलेगा। बाहर के खानपान से आपको दूर रहने की जरूरत है अन्यथा आपका स्वास्थ्य प्रभावित हो सकता है. सगे-संबंधियों से अचानक शुभ समाचार मिलेगा, जिससे आपका मन खुश रहेगा।

मीन राशि (Pisces, दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची)

मीन राशि वाले जातकों को अजा एकादशी पर बन रहे शुभ योग की वजह से सकारात्मक परिणाम मिलेंगे। वित्तीय स्थिति में सुधार आएगा। नौकरी के क्षेत्र में पदोन्नति और वेतन वृद्धि हो सकती है। आपका व्यवसाय अच्छा चलेगा। आप अपने कामकाज में नई तकनीकी का इस्तेमाल करेंगे, जो आपके लिए लाभदायक रहने वाला है। भविष्य की योजनाओं पर सोच-विचार कर सकते हैं। माता-पिता के साथ किसी तीर्थ यात्रा पर जाने का प्रोग्राम बना सकते हैं। ईश्वर की भक्ति में आपका अधिक मन लगेगा।

Related Articles

Back to top button