मनोरंजन

“द कपिल शर्मा शो” के खजूर को कभी दो वक्त की रोटी नहीं होती थी नसीब, अब 1 एपिसोड से कमाता है इतना

छोटे पर्दे पर ऐसे बहुत से कॉमेडी शो है जो लाखों लोग देखना पसंद करते हैं, परंतु “द कपिल शर्मा शो” दर्शकों का सबसे पसंदीदा शो है। इस शो के अंदर कपिल शर्मा समेत अन्य किरदार लोगों का खूब मनोरंजन करते हैं। दिन पर दिन इस शो को पसंद करने वाले लोगों की संख्या बढ़ती ही जा रही है। आप लोगों ने द कपिल शर्मा शो के अंदर एक छोटा सा लड़का देखा होगा। जी हां, हम इस शो के “खजूर” की बात कर रहे हैं। कपिल शर्मा शो का हिस्सा बनने से पहले खजूर को लोग उनके असल नाम से बुलाया करते थे। इस छोटे से लड़के का नाम कार्तिकेय राज है। द कपिल शर्मा शो से इस छोटे लड़के ने काफी लोकप्रियता हासिल की है। आपको बता दें कि वर्ष 2016 में जब यह लड़का कपिल की नजरों में आया तो ना सिर्फ इसकी किस्मत बदली बल्कि टीवी इंडस्ट्री की दुनिया में यह नन्हा सा लड़का हास्य कलाकार के रूप में उभर कर आया और अपनी कॉमेडी से लोगों का दिल जीत रहा है।

अगर हम कार्तिकेय राज की वर्तमान स्थिति के बारे में जाने तो इनको अब सभी लोग पहचानने लगे हैं और इनके पास पैसों की भी कमी नहीं है, परंतु एक वक्त ऐसा भी था जब इस नन्हे से हास्य कलाकार के पास दो वक्त की रोटी के भी पैसे नहीं हुआ करते थे। इसके परिवार को दो वक्त की रोटी भी नसीब नहीं हो पाती थी, लेकिन अब यह द कपिल शर्मा शो से अपनी बेहतरीन कॉमेडी से लोगों का दिल जीत रहा है। आज हम आपको इस नन्हे कलाकार के संघर्ष के बारे में जानकारी देने वाले हैं, जिसको जानकर आप भावुक हो जाएंगे।

कार्तिकेय राज बेहद गरीब परिवार से रखते हैं ताल्लुक

कार्तिकेय राज पटना के एक छोटे से गांव सैदपुर का रहने वाला है और यह बेहद निर्धन परिवार से ताल्लुक रखता है। इसके पिता मजदूरी करके अपने घर-परिवार का पालन-पोषण किया करते थे। यह बहुत ज्यादा निर्धन थे, परंतु पिता ने अपना पेट काटकर भी कार्तिकेय और उसके भाई-बहनों को पढ़ाया। मेहनत मजदूरी करके अपनी तरफ से इन्होंने बच्चों के लिए सब कुछ किया, लेकिन घर की गरीबी इतनी थी कि दो वक्त की रोटी मिल पाना भी काफी मुश्किल था। घर के अंदर कभी रोटी बनती थी तो सब्जी नहीं रहती थी। कभी चावल से ही काम चलाना पड़ता था।

भाई की वजह से एक्टिंग में जागी रुचि

आपको बता दें कि कार्तिकेय को पढ़ाई में बिल्कुल भी रुचि नहीं थी। जब यह अपने छोटे भाई अभिषेक के साथ स्कूल जाते थे तब इनका मन पढ़ने में बिल्कुल भी नहीं लगता था। यह सारा दिन बच्चों के साथ खेल-कूद में व्यतीत किया करते थे। तब इनके भाई ने कार्तिकेय को कहा कि तुम एक्टिव सीख लो। इन्होंने सरकार से सहायता प्राप्त एक्टिंग स्कूल में दाखिला लिया था और वहां पर एक्टिंग सीखी थी। दोनों भाइयों ने ही एक्टिंग की सभी बारीकियों को सीखा।

वर्ष 2013 में कार्तिकेय की किस्मत ने अचानक ही करवट ली और ज़ी टीवी के सबसे मशहूर कॉमेडी शो “बेस्ट ड्रामेबाज” में इनका चयन हुआ था। इस शो के टीम ने कार्तिकेय और उनके साथ जो भी बच्चे सेलेक्ट हुए थे उनको अपने साथ लेकर कोलकाता लेकर गए थे। कोलकाता के अंदर इनको एक बड़े होटल में ठहराया गया था। जब इनको होटल से खाना खाने के लिए मिलता था तो वह आधा खाना खाते थे और बाकी को बचा करघर पर अपनी मां को देते थे।

खजूर के किरदार से मिली लोकप्रियता

जब “बेस्ट ड्रामेबाज” शो का छठा राउंड हो रहा था तब कपिल शर्मा की नजर कार्तिकेय राज पर पड़ी थी। कपिल कार्तिकेय की एक्टिंग से बहुत प्रभावित हुए थे और उन्होंने कार्तिकेय राज को शो का प्रस्ताव दिया था। तब इनका ऑडिशन हुआ और यह शो का हिस्सा बने। इसके बाद खजूर के किरदार से इन्होंने लाखों दिलों पर राज किया। 13 वर्षीय कार्तिक अब मुंबई में रहते हैं।

हर एपिसोड से कमा लेते हैं इतना

कार्तिकेय राज एक्टिंग के साथ-साथ अपनी पढ़ाई भी कर रहे हैं अब यह टीवी शो के एक एपिसोड से ₹1 लाख रुपये से लेकर ₹2 लाख रुपये तक कमा लेते हैं।

Related Articles

Back to top button