विशेष

रेल यात्रियों के लिए खुशखबरी, रेलवे ने शुरू की ये सुविधा, अब चलती ट्रेन में मिलेगा कंफर्म टिकट

ट्रेन में सफर करने का अपना एक अलग ही आनन्द होता है। जब दूर स्थान की यात्रा करनी हो, तो ट्रेन से सफर करना आरामदायक और सुविधाजनक होता है। भारतीय रेलवे दुनिया का चौथा और एशिया का दूसरा सबसे बड़ा नेटवर्क है। रोजाना ही लाखों-करोड़ों की संख्या में यात्री ट्रेन में सफर करते हैं। भारतीय रेलवे अपने यात्रियों की सुविधाओं का पूरा ध्यान रखती है और लगातार अपनी सेवाओं में सुधार करती रहती है। ताकि यात्रियों को किसी भी प्रकार की असुविधा का सामना ना करना पड़े।

भारतीय रेलवे समय-समय पर ऐसे कई नियम लागू करती रहती है, जो यात्रियों के लिए बेहतर साबित होते हैं। इसी बीच हाल ही में, रेलवे ने ट्रेन में सफर करने वाले करोड़ों यात्रियों को बड़ी खुशखबरी दी है। अब आपको चलती हुई ट्रेन में भी कंफर्म सीट मिल जाएगी। जी हां, अब आपको सीट के लिए परेशान नहीं होना पड़ेगा। इसके लिए रेलवे ने नई टेक्नोलॉजी की शुरुआत की है। तो चलिए बताते हैं इसके बारे में…

चलती ट्रेन में मिलेगा कंफर्म टिकट

अक्सर ऐसा होता है कि हमें अचानक ही किसी यात्रा पर जाना पड़ जाता है। ऐसी स्थिति में कंफर्म टिकट लेने में यात्रियों को परेशानी होती है। लेकिन हाल ही में रेलवे ने यात्रियों को बड़ी सौगात देने का काम किया है। अब आपको चलती ट्रेन में भी कंफर्म सीट मिलेगी। आपको सीट के लिए परेशान नहीं होना पड़ेगा। बता दें कि इस टेक्नोलॉजी के इस्तेमाल से यात्रियों को वेटिंग या आरएसी टिकट को कंफर्म कराने के लिए किसी TTE के चक्कर नहीं लगाने होंगे।

यह सुविधा रेलवे की हैंड होल्डिंग (HHT) डिवाइस की मदद से मिलेगी। इन मशीनों से खाली सीटें रियल टाइम अपडेट हो रही हैं। इसका सीधा फायदा यात्रियों को मिल रहा है। हजारों यात्रियों की टिकट कंफर्म इसका इस्तेमाल करके रोजाना ही हो रही है। अगर आपको अचानक ट्रेन से सफर करना पड़ जाए और टिकट पास नहीं है और ट्रेन का समय हो गया है तो आप ट्रेन पर जाकर तुरंत अपना टिकट बुक कराकर यात्रा कर पाएंगे।

ऐसे करता है काम

आपको बता दें कि अगर किसी यात्री ने टिकट कंफर्म कराया हुआ है परंतु वह यात्री किसी कारण की वजह से यात्रा नहीं करता है तो ऐसी स्थिति में उसकी सीट खाली रह जाती है। पहले ऐसा होता था कि इस खाली सीट को वेटिंग वाले को को टीटीई अलॉट कर देता था। लेकिन अब खाली सीट की जानकारी HHT डिवाइस में मिल जाती है। अगर ट्रेन में कोई खाली सीट रहती है, तो वह वेटिंग या आरएसी वाले यात्री को मिलेगी। ऐसे में आपको चलती ट्रेन में ही कंफर्म टिकट मिल जाएगा और यात्रियों को काफी सुविधा होगी।

जानिए यह कैसी टेक्नोलॉजी है

आपको बता दें कि पिछले महीने ही रेलवे के द्वारा इस नई टेक्नोलॉजी की शुरुआत की गई थी। HHT मशीन आईपैड की तरह होती है। इसमें पैसेंजर का चार्ट होता है। यह चार्ट लगातार अपडेट होता रहता है। इससे वेटिंग, आरएसी और कैंसिल सीटों की जानकारी अपडेट होती रहती है। रेलवे के रिजर्वेशन सिस्टम से यह सुविधा जुड़ी रहती है इसीलिए इस पर 100% सही जानकारी अपडेट होती है।

Related Articles

Back to top button