समाचार

पति ने नशे में दे दिया था तीन तलाक, सनातन धर्म अपना रुबीना ने पुष्पा बन प्रेमी से रचाई शादी

तीन तलाक के खिलाफ शख्त कानून बनाए जाने के बावजूद अभी बहुत सारी मुस्लिम महिलाओं को इसका दंश झेलना पड़ा रहा है। लेकिन वहीं अब मुस्लिम महिलाओं ने भी इसके खिलाफ आवाज उठाना और इसका विरोध करना सीख लिया है। अब मुस्लिम औरतें तीन तलाक के बाद आंसू बहाने के बजाए शौहर के ऐसे कारनामों का खुलकर विरोध कर रही हैं और अपने लिए नई राहें बना रही हैं। यूपी के बरेली से कुछ ऐसा ही मामला (bareilly triple talaq case) सामने आया है जहां एक मुस्लिम महिला को उसके पति ने 5 साल पहले नशे की हालत में तीन तलाक दे दिया था। वहीं अब इस महिला ने हिंदू धर्म अपनाकर अपने प्रेमी के साथ नए जीवन की शुरूआत की है।

प्रेमी संग मंदिर में शादी रचा कर अपनाया सनातन धर्म

दरअसल, बरेली के विलासपुर गेट की रहने वाली रुबीना ने शनिवार, 24 सिंतबर को प्रेमपाल नाम के युवक से मंदिर में शादी रचा कर सनातन धर्म अपना लिया है। बता दें कि धर्म परिवर्तन के बाद रुबीना अब पुष्पा बन चुकी है। वहीं शादी के बाद मीडिया से बातचीत में महिला ने बताया है कि उसका पहला पति शोएब हर रोज उसे प्रताड़ित करता था। शराब पीने के बाद रुबीना से लड़ाई झगड़ा करना शोएब के लिए आम बात थी। वहीं एक रोज इसी शराब के नशे में उसने तीन तलाक बोलकर रुबीना को अपने घर से निकाल दिया था।

इसके बाद वो अकेले जिंदगी काट रही थी। लेकिन फिर उसके जीवन में प्रेमपाल आया जिसने उसका प्यार और भरोसा दोनो जीता। ऐसे में उसने अपनी मर्जी से धर्म परिवर्तन कर ये शादी रचाई है।

शादी के बाद भी सता रहा है पहले पति का डर

गौरतलब है कि रुबीना की 9 साल पहले हल्द्वानी के रहने वाले शोएब से लव मैरिज हुई थी, जिसके उसके 3 बेटे हैं। पर शादी के बाद से शोएब के बर्ताव रुबीना के लिए पूरी तरह से बदल गया वो आए दिन उसके साथ मारपीट करता था। वहीं इस शादी के बाद रूबीना को अपने पहले पति का डर सता रहा है। दरअसल, रुबीना और प्रेमपाल दोनो ने मीडिया में ये बात कही है कि उनकी जान को शोएब से खतरा है। शोएब इस शादी की जानकारी के बाद से दोनो को जान से मारने की धमकी दे रहा हैं। वहीं रुबीना के परिवार वाले भी शोएब के ही साथ हैं। ऐसे में रुबीना और प्रेमपाल दोनो ने हत्या की साजिश की आशंका भी जताई है।

वहीं इस मामले (bareilly triple talaq case) में रुबीना और प्रेमपाल की शिकायत के आधार प्रशासन ने कार्यवाही का आश्वासन दिया है।

Related Articles

Back to top button