मनोरंजन

साउथ सुपरस्टार अल्लू अर्जुन बोले- “ऐसी फिल्म नहीं करूंगा जिसे बेटी-पत्नी संग देख न पाऊं”

साउथ फिल्म इंडस्ट्री के सुपरस्टार अल्लू अर्जुन ने फिल्म “पुष्पा: द राइज” से धमाल मचा दिया है। जब से यह फिल्म रिलीज हुई है, तब से लेकर अभी तक लगातार अल्लू अर्जुन सुर्खियों में बने हुए हैं। अल्लू अर्जुन की इस फिल्म ने सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि भारत के तमाम अन्य हिस्सों में भी दर्शकों के बीच खूब लोकप्रियता हासिल की है। इस फिल्म में अल्लू अर्जुन के अभिनय को काफी सराहा गया है। इस फिल्म की सफलता के बाद अल्लू अर्जुन की लोकप्रियता में जबरदस्त उछाल देखने को मिला है।

मौजूदा समय में अल्लू अर्जुन अपने फैंस के बीच आइकन स्टार के नाम से अपनी पहचान रखते हैं। अल्लू अर्जुन को सिर्फ साउथ की एक भाषा के दर्शक ही पसंद नहीं करते बल्कि वह तमिल, तेलुगू और मलयालम हर फिल्म इंडस्ट्री पर राज करते हैं और इनकी लोकप्रियता का सबसे मुख्य कारण है उनका व्यवहार और दर्शकों के प्रति उनका भी नरम स्वभाव।

मौजूदा समय में अल्लू अर्जुन की फैन फॉलोइंग बहुत तगड़ी है। फैंस उनकी एक झलक पाने को बेताब रहते हैं। इसी बीच अल्लू अर्जुन अपने हाल ही के इंटरव्यू को लेकर सुर्खियों में बने हुए। दरअसल, उन्होंने इस इंटरव्यू के दौरान वैसे तो बहुत सी बातें कहीं, मगर दर्शकों और अपनी फिल्मों को लेकर उनकी जो सोच है, उसमें सबका दिल जीत लिया है। तो चलिए आपको बताते हैं कि आखिर अल्लू अर्जुन ने क्या कहा?

प्रशंसक हमारा परिवार हैं

दरअसल, अल्लू अर्जुन ने हाल ही में अमर उजाला को एक इंटरव्यू दिया था, जिसमें उनसे पूछा गया कि वह प्रशंसकों और सितारों के बीच के रिश्तों को कैसे परिभाषित करते हैं? ऐसे में इस सवाल के जवाब में अल्लू अर्जुन ने कहा था कि यह बहुत ही खूबसूरत रिश्ता है। उन्होंने कहा था कि हम एक तरह से विस्तृत परिवार में बदल चुके हैं और इसके साथ उनके ऊपर एक बहुत बड़ी जिम्मेदारी भी आ जाती है।

अल्लू अर्जुन ने कहा था कि यहां उनकी खुशी और दिल को ठेस पहुंचाने जैसे किसी भी बात के लिए हम उत्तरदायी बन जाते हैं। अल्लू अर्जुन कहते हैं कि कुछ भी गलत ना हो इसके लिए उनकी अच्छे से देखरेख करनी पड़ती है। कई बार पैसों से तो कई बार अन्य माध्यमों से इनकी मदद करनी होती है। अल्लू अर्जुन कहते हैं कि जिन्होंने हमें इतना कुछ दिया है, उनके लिए हम अगर उन्हें थोड़ा कुछ दे पाते हैं तो यह हमारा सौभाग्य होता है।

ऐसी फिल्म नहीं करेंगे जिसे परिवार के साथ ना देखा जा सके

अल्लू अर्जुन ने इसी बातचीत के दौरान यह बताया कि जब भी वह किसी भी कमर्शियल फिल्म को बनाते हैं तो इस बात का पूरा ध्यान रखते हैं कि उनकी फिल्मों को देखते वक्त बच्चे कभी भी असहज महसूस ना करें और सिनेमा हॉल में बैठी अन्य महिलाओं को भी संकोच ना हो।

अल्लू अर्जुन कहते हैं वह कभी भी ऐसी फिल्म नहीं करेंगे, जिसे वह अपनी पत्नी और अपनी बेटी के साथ ना देख पाएं। उन्होंने कहा कि अगर वह अपनी फिल्म अपने परिवार के साथ देखते हुए अगर सहज नहीं हो सकते, तो वह ऐसी फिल्म कभी नहीं करेंगे।

साउथ नहीं भारतीय सिनेमा कहिए

अल्लू अर्जुन इंटरव्यू के दौरान फिल्म इंडस्ट्री के बारे में बात करते हुए कहते हैं कि दक्षिण या फिर उत्तर सिनेमा का नहीं बल्कि भारतीय सिनेमा का दौर आ गया है और उन्होंने अब यह भी कहा कि एक वक्त तक वह हिंदी फिल्मों के लिए तैयार नहीं थी लेकिन अब वह हिंदी फिल्मों के लिए पूरी तरह से तैयार हो चुके हैं और अच्छे प्रस्ताव मिलने पर वह बॉलीवुड की फिल्मों में जरूर नजर आएंगे।

अल्लू अर्जुन कहते हैं कि वह अभी पूरी तरह से “पुष्पा पार्ट 2” पर फोकस करना चाहते हैं। लेकिन भविष्य में वह हिंदी सिनेमा की ओर से आने वाले अच्छे प्रस्ताव का इंतजार करेंगे। उन्होंने कहा कि अब वह हिंदी फिल्में करने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं और अच्छे प्रस्ताव लेकर आने वाले मुंबई के निर्माता-निर्देशकों के लिए उनके घर के दरवाजे पूरी तरह से खुल चुके हैं।

Related Articles

Back to top button