समाचार

जिस टीचर से ट्यूशन पढ़ा, उसी से रचाई थी शादी फिर पति की लाश संग पत्नी ने बिताए 17 महीने

कानपुर में शव के साथ एक परिवार के 17 महीने बिताने की घटना ने शहर के साथ पूरे देश में सनसनी मचा दी है। गौरतलब है कि स्वास्थ्य विभाग की टीम की जांच में मामला सामने आया है, जिसमें पाया गया है कि कानपुर शहर के रावतपुर के कृष्णापुरी क्षेत्र में एक व्यक्ति के शव के साथ उसकी पत्नी, मां-बाप और भाई समेत पूरा परिवार बीते डेढ़ साल से रह रहा था, इस दौरान इसकी भनक न तो आस-पास के लोगों की लगी और नही पुलिस की। ऐसे में जैसे ही इस घटना (Kanpur dead body case)का खुलासा हुआ इसे लेकर मीडिया में तरह तरह की बातें सामने आ रही हैं। वहीं मृत व्यक्ति की निजी जिंदगी को लेकर भी कई सारे तथ्य सामने आ रहे हैं।

गौरतलब है कि 35 वर्षीय विमलेश हैदराबाद में आयकर अफसर के पद पर तैनात थे और साल 2019 में बीमारी के कारण वो अपने कानपुर स्थित घर लौटे थे। जहां उनका 2 साल तक इलाज चला और 22 अप्रैल 2021 को उनकी अस्पताल में मृत्यु हो गई। पर वहीं उसके बाद भी परिवार वाले उन्हें जीवित मानकर उनका शव घर लाएं और घर पर उनका इलाज कराते रहे। इस दौरान विमलेश की पत्नी मिताली भी उनके शव के साथ ही रही हैं।

जिस लड़की को ट्यूशन पढ़ाया, विमलेश ने उसी से रचाई थी शादी

बताया जा रहा है मृत विमलेश गौतम को सालों पहले एक लड़की को ट्यूशन के दौरान प्यार हुआ और उसी के साथ उसने अपनी गृहस्थी बसाई थी। लेकिन अब इस टूटी गृहस्थी के किस्से पूरी दुनिया के सामने हैं। वैसे तो विमलेश गौतम की पत्नी मिताली अभी तक मीडिया के सामने नहीं आई हैं, लेकिन उनकी प्रेम और शादी के किस्से सुर्खियां बटोर रहे हैं। मालूम हो कि विमलेश की पत्नी मिताली दीक्षित किदवई नगर की कोआपरेटिव बैंक में डिप्टी मैनेजर हैं और मिताली के साथ विमलेश का प्रेम विवाह था।

मीडिया से बात चीत में विमलेश के भाई दिनेश ने दोनो की प्रेम कहानी बताई है। दिनेश बताते हैं कि आयकर विभाग में नौकरी पाने से पहले विमलेश, मिताली के घर ट्यूशन पढ़ाने के लिए जाते थे। यहीं ट्यूशन ने के दौरान ही दोनों में नजदीकियां बढ़ी और प्यार हो गया। ऐसे में दोनो अपने घर वालों से शादी की बात की लेकिन दोनो परिवार इसके लिए तैयार नहीं हुए। ऐसे में मिताली और विमलेश घरवालों की बिना मर्जी के लिए ही प्रेम विवाह रचा लिया।

घरवालों के बिना मर्जी के हुई थी विमलेश और मिताली की शादी

हालांकि जब बाद में दोनों के घर वालों को पता चला तो उन्होने इस शादी का काफी विरोध किया पर धीरे-धीरे दोनों परिवारों ने भी इस रिश्ते को स्वीकार कर लिया। शादी के बाद मिताली और विमलेश हमेशा बेहद प्यार से रहे हैं और इस प्यार की निशानी के रूप में दो बच्चे भी हैं, जिसमें एक पांच का बेटा और लगभग डेढ़ साल की बेटी। लेकिन अब विमलेश के मौत के बाद इस परिवार की खुशियां उजड़ चुकी हैं। साथ ही जिस तरह से शव के साथ परिवार के डेढ़ साल से रहने की बात (Kanpur dead body case) सामने आई है। उससे विमलेश का परिवार पूरे शहर चर्चा का विषय बन गया है।

Related Articles

Back to top button