विशेष

कक्षा 3 में पढ़ता है बॉबी, लेकिन 10वीं तक के छात्रों को पढ़ाता है गणित, सोनू सूद ने भी की तारीफ

अगर हम भारत में बिहार की बात करें तो बिहार की प्रतिभा किसी से भी छुपी नहीं है। हर क्षेत्र में ही बिहार के युवा अव्वल रहते हैं। यहां पर छोटे-छोटे बच्चे भी अपने हुनर का लोहा मनवा रहे हैं। ऐसे में आज हम आपको एक ऐसे ही छात्र के बारे में बताने वाले हैं, जो खुद तीसरी कक्षा में पढ़ाई करता है, लेकिन आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि वह 10वीं कक्षा तक के छात्रों को गणित पढ़ाता है। जी हां, हम जिस छात्र के बारे में आपको बता रहे हैं, उसका नाम बॉबी राज है, जो पटना जिले के मसौढ़ी के रहने वाला है। बॉबी राज का नाम इन दिनों पूरे पटना जिले में सुर्खियों में है।

आपको बता दें कि तीसरी कक्षा में पढ़ने वाला बॉबी राज की याद्दाश्त इतनी मजबूत है कि उसे दसवीं तक का सिलेबस मुंह जुबानी याद है। भले ही बॉबी राज की उम्र बहुत कम है परंतु उसका दिमाग किसी विद्वान से कम नहीं है। बॉबी राज दसवीं तक के छात्रों को बड़े ही आसानी से गणित पढ़ा लेता है। बॉबी राज के टैलेंट की बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता सोनू सूद ने भी तारीफ की है और एक्टर ने उसकी पढ़ाई की पूरी जिम्मेदारी खुद उठा ली है।

मिलिए पटना के 8 साल के मैथ गुरु से

आपको बता दें कि बॉबी राज, मैथ गुरु के नाम से पूरे पटना जिले में चर्चा का विषय बने हुए हैं। पटना से सटे मसौढ़ी प्रखंड के चपौर गांव के रहने वाले बॉबी राज के पिताजी का नाम राजकुमार है, जो एक शिक्षक हैं। बॉबी राज के पिता राजकुमार प्राइवेट ट्यूशन पढ़ाकर घर चलाते हैं। अभी बॉबी राज की आयु सिर्फ 8 वर्ष की हुई है लेकिन इतनी छोटी उम्र में इसकी काबिलियत बड़े बड़ों को पछाड़ रही है। बॉबी राज नौवीं और दसवीं के मैथ को बड़ी ही आसानी से हल करके छात्रों को पढ़ाते हैं।

10वीं तक के छात्रों को गणित पढ़ाता है बॉबी राज

एक मीडिया से बातचीत के दौरान बॉबी राज और उनके माता-पिता के द्वारा ऐसा बताया गया कि कोरोना काल के बीच जब कोचिंग स्कूल बंद हो गए थे तो घर में ही बॉबी राज को बैठाकर पढ़ने पढ़ाने की प्रक्रिया आरंभ हुई थी। बॉबी राज सातवीं से लेकर 10वीं तक के मैथ को बड़े ही सरलता से हल कर देते हैं। बॉबी राज का ऐसा बताना है कि वह तीसरी कक्षा में पढ़ते हैं और वह गणित पढ़ाते हैं। वह चाहते हैं कि बड़े होकर वैज्ञानिक बने।

आपको बता दें कि साल 2018 बॉबी के पिता राजकुमार और मां चंद्रप्रभा कुमारी ने एक प्राइवेट स्कूल खोला था। इस स्कूल में नर्सरी से लेकर 10वीं तक के बच्चों की पढ़ाई कराई जाती है। चपौर गांव के ज्यादातर बच्चे इसी स्कूल में पढ़ाई करने के लिए आते हैं। इसके साथ ही घर में ट्यूशन भी बच्चों को दी जाती है। इसी कोचिंग में बॉबी अपने से सीनियर क्लास के छात्रों को गणित बड़ी ही आसानी से पढ़ा लेता है।

वहीं बॉबी राज की मां चंद्रप्रभा कुमारी का ऐसा कहना है कि “बॉबी की प्रतिभा को देखने के बाद इसे कोचिंग पढ़ाने के लिए हम लोगों ने रखा है। सभी छात्रों को बड़ी आसानी से बॉबी मैथ पढ़ाता है। सब क्लास का मैथ हल कर देता है। कोई भी प्रसन्न हो, बॉबी आसानी से समझा देता है। कोरोना काल हममें सभी को शिक्षा देने के लिए यह कदम उठाया।”

सोनू सूद ने ली बॉबी को पढ़ाने की जिम्मेदारी

ग़ौरतलब है कि 21 सितंबर को बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद बापू सभागार आए थे। उस कार्यक्रम में बॉबी राज भी शामिल हुआ था। वहां पर बॉबी ने सोनू सूद से मिलने की इच्छा जताई थी, जिसके बाद अभिनेता ने बॉबी को मंच पर बुलाया था और अभिनेता ने बॉबी के साथ एक फोटो ट्वीट कर लिखा “जब आप किसी जीवन को स्पर्श करते हैं, तो वह समय होता है जब आपका जीवन बदल जाता है।” सोनू सूद ने बॉबी की पढ़ाई की जिम्मेदारी भी ली है।

Related Articles

Back to top button