बॉलीवुड

गुमनामी के अंधेरे में खो गए बॉलीवुड के ये एक्टर्स लेकिन उनकी को-स्टार बन गई सुपरस्टार

हर कलाकार यही चाहता है कि फिल्मी दुनिया में वो सफल मुकाम हासिल करे लेकिन हर किसी की किस्मत में वो सफल मुकाम हासिल कर पाना आसान बात नही है, बहुत कम लोग ही फिल्मी दुनिया में अपना नाम चमका पाते हैं। लेकिन आज हम आपको बताने वाले हैं उन सितारों के बारे में खास जो शुरुआत में सफल होकर ना जाने कहां गुमनाम हो गए लेकिन उनकी को-स्टार कहीं-ना-कहीं अपनी पहचान बनाने में सफल रहीं।

काजोल – कमल सदाना

हिन्दी सिनेमा जगत में 90 के दशक में अभिनेत्री काजोल का नाम टॉप पर था। आज भी काजोल इंडस्ट्री को कई हिट फिल्में दे रही हैं। लेकिन इनके को-स्टार कमल सदाना फिल्म इंडस्ट्री में कब आए और कब चले गए इस बात की खबर किसी को नहीं रही। बता दें कि साल 1992 में रिलीज हुई फिल्म ‘बेखुदी’ में काजोल के अपोज़िट अभिनेता कमल सदाना नजर आए थे। अफसोस यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर फ्लॉप साबित हुई, लेकिन इस फिल्म के बाद कमल की दूसरी फिल्म ‘रंग’ सुपरहिट रही। इसके बाद कई फिल्मों में नजर आने के बाद बी कमल फिल्म इंडस्ट्री में कुछ खास कमाल नही दिखा सके और आज फिल्म इंडस्ट्री से गुमनाम हो चुके हैं।

करिश्मा कपूर – हरीश कुमार

काजोल के अलावा अभिनेत्री करिश्मा कपूर ने भी 90 के दशक में खूब नाम कमाया। बता दें कि करिश्मा के पहले हीरो अभिनेता हरीष कुमार थे। वैसे तो हरीश बतौर चाइल्ड एक्टर कई फिल्मों में नजर आए लेकिन बड़े होने के बाद कोई कमाल नही दिखा पाए। साल 1991 में रिलीज़ हुई फिल्म ‘प्रेम कैदी’ से करिश्मा और हरीश ने फिल्म इंडस्ट्री में डेब्यू किया। लेकिन इस डेब्यू के बाद करिश्मा की किस्मत तो चमक गई लेकिन हरीश कुमार ना जाने कहां गुमनाम हो गए।

मनीषा कोइराला – विवेक मुशरान

फिल्म ‘सौदागर’ से अपने फिल्मी करियर की शुरुआत करने वाले सुपरस्टार विवेक मुशरान को तो आप पहचानते ही होंगे। इस फिल्म के साथ विवेक ही नहीं बल्कि मनीषा कोईराला ने भी अपने फिल्मी करियर का आगाज़ किया था। लेकिन जहां सौदागर के बाद मनीषा ने कई सुपरहिट फिल्मों में नजर आईं वहीं विवेक को रोल्स मिलने बंद हो गए और फिर वह भी फिल्म इंडस्ट्री से गायब हो गए। लेकिन विवेक टीवी सीरियल्स और वेब सीरिज़ में किरदार निभाते हुए नजर आते हैं।

उर्मिला मंतोडकर – जुगल हंसराज

साल 1994 में अभिनेता जुगल हंसराज ने फिल्म ‘आ गले जा’ से अभिनेत्री उर्मिला मंतोडर का को-स्टार बनकर फिल्म इंडस्ट्री में डेब्यू किया। लेकिन इसके बाद उर्मिला ने जहां लंबे वक्त तक फिल्मी पर्दे पर राज किया, वहीं जुगल हंसराज का फिल्मी करियर फ्लॉप होते ही वो गुमनामी के साय में खो गए।

रानी मुखर्जी – शादाब खान

रानी मुखर्जी के साथ फिल्म ‘राजा की आएगी बारात’ से फिल्म इंडस्ट्री में कदम रखने वाले अभिनेता शादाब खान के साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ। इस फिल्म के बाद शादाब की को-स्टार यानि रानी मुखर्जी ने दर्शकों को दिलों पर कई साल राज किया, लेकिन शादाब खान फिल्मी दुनिया से हमेशा के लिए दूर हो गए। ऐसे कई ही कलाकार हुए जिन्हें फिल्मों में आने का मौका तो मिला लेकिन वो एक सफल मुकाम हासिल करने में नाकामयाब रहे।

Related Articles

Back to top button