Uncategorized

मेहंदी के इन फायदें जानकर हो जायेंगे हैरान…

मेहंदी भारत नहीं बल्कि अरब देश से लायी गयी चीज है। मेहंदी का इस्तेमाल महिलाएँ अपने हाथों की खुबसूरती बढानें के लिए करती हैं। साथ ही इसका उपयोग बालों को रंगनें के लिए भी किया जाता है। शादी-ब्याह हो या अन्य कोई पर्व भारत में महिलाएँ मेहँदी जरुर लगाती हैं। मेहंदी का उपयोग इसके अलावा स्वास्थ्य सम्बन्धी कई समस्याओं को ठीक करनें में भी किया जाता है।

अंजान होंगे आप मेहँदी के इन फायदों से:

जी हाँ आपने बिलकुल सही सुना, मेहन्दी के इस्तेमाल से आप कई बिमारियों से छुटकारा पा सकते हैं। मेहन्दी प्राचीनकाल से ही भारत और अन्य देशों में औषधि के रूप में इस्तेमाल की जाती रही है। आज हम आपको मेहँदी के कुछ ऐसे फायदों के बारे में बतानें जा रहे हैं, जिससे आप यक़ीनन अनजान होंगे।

मेहंदी से करें इन रोगों का इलाज:

*- माइग्रेन की समस्या आज के समय में कई लोगों को हो गयी है। आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में यह रोग ज्यादातर लोगों को हो रहा है। यह अत्यंत ही पीड़ादायक होता है। अगर आप भी माइग्रेन के भयानक दर्द से परेशान हैं तो रात को सोते समय 200 पानी में 100 ग्राम मेहन्दी के पत्तों को कूटकर भिगो दें। दुबह उठकर इस पानी से पत्तों को निकालकर पानी पी जाएँ।

*- चरम रोग:

मेहँदी कई तरह के चरम रोगों में रामबाण इलाज होती है। यह बैक्टीरिया को मारकर त्वचा सम्बन्धी समस्या को दूर करता है। अगर आप भी किसी तरह के चर्मरोग से परेशान हैं तो मेहँदी की छाल को पीसकर काढ़ा बना लेंइसका सेवन लगातार एक महीने तक करें। जब तक आप इसका सेवन करें साबुन लगानें से बचें।

*- गुर्दे का रोग:

बदलती जीवनशैली की वजह से किसी ना किसी को गुर्दे सम्बन्धी कोई ना कोई समस्या लगी रहती है। अगर आप भी गुर्दे की समस्या से परेशान हैं तो 50 ग्राम मेहँदी के पत्तो को पीसकर आधा लीटर पानी में मिला दें। इस पानी को अच्छे से उबाल लें और पत्तों को छानकर पिएं।

*- उच्च रक्तचाप:

हाई वीपी यानि उच्च रक्तचाप में भी मेहन्दी काफी फायदेमंद होती है। आज के समय में इससे छोटे और बड़े दोनों परेशान हैं। जो लोग हाई वीपी की समस्या का सामना कर रहे हैं, उन्हें मेहँदी के पत्तों को पीसकर हाथ में और पैरों के तलवों में अच्छी तरह से लगाना चाहिए। इससे काफी फायदा मिलता है।

Related Articles

Back to top button