दशहरे के दिन दिख जाए अगर ये पक्षी तो चमक जाता है भाग्य, घर में आती है सुख-शांति

दशहरे का पर्व पूरे भारत में धूमधाम से मनाया जाता है और इस दिन रावण का दहन किया जाता है। ये पर्व बुराई पर अच्छी की जीत का संदेश हमें देता है। इस दिन शमी के पेड़ की पूजा करना शुभ फल माना गया है। इसी तरह से दशहरे पर नीलकंठ पक्षी का दिखना भी बेहद ही शुभ संकेत होता है। मान्यता है कि अगर ये पक्षी दशहरे के दिन आपको अचानक से दिख जाए, तो आपका भाग्य बदल जाता है। आपके जीवन में खुशियां आने लग जाती है। इस दिन नीलकंठ पक्षी दिखने से एक कथा जुड़ी हुई है। जो कि इस प्रकार है।

रावण ने धोखे से मां सीता का अपहरण कर लिया था और मां सीता को अपने साथ लंका ले आया था। अपनी पत्नी को रावण की कैद से रिहा करवाने के लिए राम जी अपने भाई लक्ष्मण, व वनर सेना के साथ श्रीलंका गए थे। यहां पर राम जी और रावण के बीच युद्ध हुआ। इस युद्ध में राम जी ने रावण का वध कर दिया और सीता मां को रावण की कैद से रिहा करवा लिया था। रावण को हराने के बाद राम जी अयोध्या जाने के लिए रवाना हुए थे। लेकिन राम जी पर ब्राह्मण हत्या का पाप लगा था। जिसे वो दूर करना चाहते थे। राम जी को ब्राह्मण हत्या के पाप से मुक्ति दिलाने हेतु भगवान शिव की पूजा करने का उपाय उन्हें दिया गया। जिसके बाद राम जी ने अपने भाई लक्ष्मण के साथ मिलकर भगवान शिव की पूजा अर्चना की और ब्राह्मण हत्या के पाप से मुक्ति पाने की कोशिश की।

इस पूजा से प्रसन्न होकर भगवान शिव नीलकंठ पक्षी के रुप में धरती पर पधारे थे और राम जी को दर्शन दिए। तभी से धरती पर भगवान शिव का प्रतिनिधि नीलकंठ पक्षी को माना गया है।

शास्त्रों के मुताबिक नीलकंठ पक्षी भगवान शिव का ही रुप है। भगवान शिव नीलकंठ पक्षी का रूप धारण कर धरती पर धूमते हैं। वहीं दशहरे पर नीलकंठ का दर्शन होना शुभदायक होता है। माना जाता है कि दशहरे पर अगर आपको नीलकंठ पक्षी के दर्शन हो जाए या ये आपके घर की छत पर आ जाए, तो घर के धन-धान्य में वृद्धि होती है। पूरा साल अच्छे से गुजर जाता है। ये पक्षी मुख्यतः उष्णकटिबन्धीय क्षेत्रों में पाया जाता है और बेहद ही कम लोग होते हैं, जिस इस पक्ष के दर्शन हो पाते हैं। इसलिए अगर आपके ये पक्षी दिखे तो अपने आपको भाग्यवान माना। हो सके तो इस पक्षी के लिए छत पर पानी और अनाज भी रख दें।

ये भी पढ़ें- इन 7 राशियों के जीवन की मुसीबतें हुई कम, सूर्य देव भाग्य करेंगे रोशन, मिलेगा अपार सुख

SHARE