यूपी में दिनदहाड़े किया गया व्यापारी का अपहरण, फिर फोन कर परिवार से मांगी एक करोड़ की फिरौती

उत्तर प्रदेश के बागपत में एक व्यापारी का अपहरण कर लिया गया है और उसकी रिहाई के बदले परिवार वालों से एक करोड़ रुपए की फिरौती की मांग की गई। व्यापारी का अपहरण उस समय किया गया, जब ये दुकान से जुड़ा काम कर रहा था। वहीं अपहरण करने के कुछ समय बाद ही परिवार वालों को फोन कर फिरौती मांगी गई।

अपहरणकर्ताओं का फोन आने के बाद परिवार वालों ने तुरंत पुलिस को फोन किया और उनसे मदद मांगी। पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए केस दर्ज कर अपनी जांच शुरू कर दी है। पुलिस ने कई टीमें बनाई हैं जो कि अपहरणकर्ताओं को पकड़ने में लगी हुई हैं।

दुकान के सामने किया अपहरण

बताया जा रहा है कि बड़ौत थाना क्षेत्र से लोहा व्यापारी आदेश जैन का अपहरण उनकी दुकान के सामने से ही किया है। जिस समय इनका अपहरण किया गया ये अपनी दुकान पर माल उतरवाने के लिए गए थे। इस दौरान कुछ बदमाश आए और इनको पकड़कर अपने साथ ले गए। ये बदमाश गाड़ी में आए थे।

अपहरण की घटना के समय दुकान पर काम करने वाले मजदूर भी वहां मौजूद थे और उन्होंने फौरन परिवार वालों को इसकी जानकारी दी। जिसके कुछ समय बाद परिजनों को बदमाशों का फोन आया। फोन पर इन्होंने आदेश जैन की रिहाई के लिए एक करोड़ की फिरौती मांगी।

इस घटना की सूचना मिलते ही एसपी बागपत के साथ कई थानों की फोर्स मौके पर गई। पुलिस के अनुसार अपहरणकर्ताओं को पकड़ने के लिए पुलिस की टीमें लगाई गई हैं। साथ में ही सीसीटीवी कैमरे की मदद से अपहरणकर्ताओं की पहचान करने की कोशिश भी की जा रही है। पुलिस ने आसपास के इलाके में दबिश तेज कर दी है।

पुलिस अधीक्षक अभिषेक सिंह ने बताया कि सूचना मिली की व्यापारी आदेश जैन का अपहरण कर उनके बेटे से एक करोड़ की फिरौती मांगी गई है। पुलिस सीसीटीवी फुटेज को खंगाल रही है। पुलिस की आठ टीमें लगाई गई हैं। साथ ही एसटीएफ को भी लगाया गया है।

बागपत जनपद में हुई इस वारदात से लोग डरे हुए हैं और व्यापारियों में काफी रोष है। बड़ौत के चेयरमैन अमित राणा ने इस घटना पर कहा कि व्यापारियों के खिलाफ हो रही ये घटनाएं चिंताजनक हैं। पुलिस को व्यापारियों की सुरक्षा के लिए ठोस कदम उठाने चाहिए। क्योंकि पिछले दिनों एक व्यापारी की हत्या भी की गई थी और अब व्यापारी का अपहरण कर एक करोड़ की फिरौती मांगी गई है।

अमित राणा ने बताया कि आदेश जैन सुबह पांच बजे के करीब अपने गोदाम पर माल उतरवाने के लिए गए थे और उनका अपहरण हो गया। फिर एक घंटे के अंदर सुबह 6 बजे के करीब उनके बेटे के मोबाइल पर फोनकर एक करोड़ की फिरौती मांगी गई है।

SHARE