राम तेरी गंगा मैली में बोल्ड सीन देकर चर्चा में आई थीं मंदाकिनी, अब ऐसे बिता रही हैं जिंदगी

पूर्व बॉलीवुड अभिनेत्री मंदाकिनी को राज कपूर की खोज कहा गया है। राम तेरी गंगा मैली हो गई नामक फिल्म, जो 1985 में रिलीज हुई थी, इस फिल्म ने उन्हें बेहद मशहूर बना दिया था। विशेषकर इस फिल्म में जो उनका झरने में नहाने वाला दृश्य देखने को मिला था, उसकी वजह से बहुत से लोगों ने इस फिल्म को बार-बार देखा था।

एक वक्त बोल्ड और बिंदास अदाओं की वजह से मंदाकिनी की बड़ी चर्चा होती थी। उन्हें कई फिल्मों में मिथुन चक्रवर्ती के साथ डांस करते हुए तो कई में गोविंदा के साथ प्यार करते हुए देखा गया था। फिर भी मंदाकिनी अचानक से 80 के दशक में बड़े पर्दे से गायब हो गई थीं।

इसमें कोई शक नहीं कि फिल्म राम तेरी गंगा मैली हो गई उनकी जिंदगी की सबसे बड़ी हिट फिल्म थी। बाद में मंदाकिनी को लोहा और तेजाब जैसी फिल्मों में भी काम करने का मौका मिला था, लेकिन जिस तरह की भूमिका उन्हें फिल्म राम तेरी गंगा मैली में मिली थी, उस तरह का किरदार उन्हें किसी और फिल्म में नहीं मिल सका।

मंदाकिनी को हवालात, शेषनाग, कमांडो, जीते हैं शान से और जीवा जैसी लगभग 42 फिल्मों में काम करते हुए देखा गया। हालांकि, अधिकतर फिल्में इनकी कोई कमाल कर पाने में नाकाम रहीं। मंदाकिनी का असली नाम यास्मिन जोसेफ था। वर्ष 1969 में 30 जुलाई को उनका जन्म हुआ था। मां उनकी मुस्लिम थीं, जबकि पिता ईसाई थे।

बचपन से ही एक्टिंग का शौक रखने वालीं मंदाकिनी को केवल 16 साल की उम्र में फिल्मों में काम करने का अवसर मिल गया था। हिंदी फिल्मों के अलावा बांग्ला और दक्षिण भारतीय फिल्मों में भी उन्होंने काम किया है। मंदाकिनी का करियर छोटा, मगर यह विवादों से भी भरा हुआ था।

दाऊद के साथ रिश्ता

बताया जाता है कि अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम और मंदाकिनी का प्यार 90 के दशक के शुरुआती दिनों में खूब परवान चढ़ा था। यहां तक कि दोनों सार्वजनिक तौर पर भी साथ में दिखने लगे थे। डॉन को मंदाकिनी भी इतना पसंद कर रही थीं कि उनसे मिलने वे दुबई तक चली जाती थीं।

डॉन की जितनी भी पार्टी होती थी, इन सब में मंदाकिनी हिस्सा लेते हुए नजर आती थीं। उनके साथ भारत और पाकिस्तान का क्रिकेट मैच भी उन्हें देखते हुए देखा गया था।

नौबत यहां तक आ गई थी कि दाऊद की पत्नी महजबीन को अब तलाक का डर भी सताने लगा था। फिर किसी वजह से मंदाकिनी और दाऊद के बीच दूरियां आ गईं, जिसके बाद वे मुंबई लौट गईं। यह भी कहा जाता है कि मंदाकिनी का दाऊद से एक बेटा भी था।

इनसे हुई शादी

फिल्मी दुनिया को जब मंदाकिनी नहीं अलविदा कह दिया तो एक बुद्धिस्त संत काग्यूर टी रिनपोचे ठाकुर से उन्होंने 1995 में शादी रचा ली थी। वर्तमान में वे मुंबई में रह रही हैं और तिब्बती हर्बल सेंटर चला रही हैं। यहां वे तिब्बती योगा सिखाती हैं।

यही नहीं, उन्होंने अब बौद्ध धर्म को भी अपना लिया है। मर्फी वीडियो 1970 और 1980 के दशक में लांच हुआ था। इस दौरान उसके जो विज्ञापन आ रहे थे, उसमें जो एक छोटा बच्चा नजर आता था, बहुत ही कम लोगों को मालूम है कि वे डॉ काग्यूर टी रिनपोचे ठाकुर ही थे।

मंदाकिनी का रब्बील नाम का एक बेटा और राब्जे नाम की एक बेटी हैं। फिल्म की चकाचौंध वाली दुनिया से अब वे पूरी तरीके से अलग हैं। पूरा परिवार योग का नियमित रूप से अभ्यास करता है। दलाई लामा के भी ये अनुयाई हैं।

पढ़ें बोल्ड सीन करते वक़्त विनोद खन्ना ने काट लिए थे माधुरी के होंठ, देना पड़ा था 1 करोड़ का हर्ज़ाना

SHARE