21 साल की उम्र में 2 बेटियों की माँ बनी थी रवीना टंडन, तो लोगों ने कहा-अब कौन शादी करेगा तुमसे

90 के दशक की मशहूर एक्ट्रेस रवीना टंडन आज 46 साल की हो गई हैं। उनका जन्म आज ही के दिन यानी 26 अक्टूबर 1974 को मुंबई में हुआ था। शुरूआत से ही रवीना एक्ट्रेस बनना चाहती थीं और उन्होंने पत्थर के फूल फिल्म से बॉलीवुड में अपने कदम रखे। इस फिल्म की सफलता ने उन्हें स्टारडम दिला दिया और फिर रवीना ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। खैर, उनकी रील लाइफ की तरह ही उनकी रीयल लाइफ भी काफी चर्चा में रही है। आइये जानते हैं, रवीना से जुड़े कुछ अनसुने किस्से…

शादी के पहले ही मां बन गई थीं रवीना…

फिल्म इंडस्ट्री में कई ऐसे स्टार्स रहे हैं, जो अपने रीयल लाइफ में किसी सुपरहीरो से कम नहीं है। इन्हीं में रवीना टंडन का नाम भी शामिल है। बता दें कि रवीना महज 21 साल की उम्र में ही पहली बार मां बनी थीं, जबकि 21 साल वो उम्र होती है जब हर कोई अपने करियर पर फोकस करता है। इसके लिए उन्हें लोगों ने खूब भला बुरा भी कहा था।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि साल 1995 में रवीना बिना शादी के मां बन गई थीं। मगर इसके पीछे की सच्चाई जान आप भी रवीना की तारीफ करते नहीं थकेंगे। जी हां, रवीना टंडन ने 21 की उम्र में ही दो बेटियों पूजा और छाया को आधिकारिक रूप से गोद लिया था। उस समय पूजा की उम्र 11 साल थी तो वहीं छाया महज 8 साल की थीं। बता दें कि पूजा और छाया, रवीना के कजिन की बेटियां हैं।

बता दें कि तकरीबन 10 साल तक रवीना ने पूजा और छाया की बतौर सिंगर मदर परवरिश की। 2004 में रवीना ने मुंबई के एक बिजनेसमैन और फिल्म ड्रिस्ट्रिब्यूटर अनिल थडानी से शादी कर ली। इसके बाद रवीना ने साल 2005 में बेटी राशी को और 2008 में बेटे रणबीरवर्धन को जन्म दिया। इस तरह से रवीना 3 बेटियों और 1 बेटे की मां हैं।

जानिए रवीना ने क्यों गोद लिया पूजा और छाया को…

पूजा और छाया को गोद लेने के बारे में रवीना टंडन बताती हैं कि मैंने साल 1994 में ही इस बारे में विचार करना शुरू कर दिया था, मैं अपने मां के साथ अक्सर आशा सदन नाम के एक अनाथालय में जाती थी, जहां मेरे कजिन के दोनों बच्चे पूजा और छाया थे। रवीना कहती हैं कि मैंने अनाथालय में देखा कि बच्चों का ठीक से ख्याल नहीं रखा जा रहा है, इसलिए मैं उन दोनों को घर ले आई।

रवीना बताती हैं कि मैं पूजा और छाया को एक जिंदगी देना चाहती थी, जो उनका हक था। एक्ट्रेस ने बताया कि मैं उन दिनों कोई बड़ी शख्सियत नहीं थी या मेरे पास कोई बहुत ज्यादा धन-दौलत नहीं था, मगर मुझे इतना पता था कि मैं पूजा और छाया को एक बेहतर भविष्य जरूर दे सकती हूं।

इस बारे में रवीना कई इंटरव्यू में भी बात कर चुकी हैं। ऐसे ही एक इंटरव्यू में चर्चा के दौरान उन्होंने कहा था कि मेरे बारे में बहुत से लोगों ने तब निगेटिव बातें की थीं, मुझे लोग हीन भावना से देखते थे। लोग मेरे बारे में ये कहते थे कि न जाने क्या होगा जब इसकी शादी होगी। रवीना कहती हैं कि मेरे बारे में तब लोग कहते थे कि जब किसी से ये शादी करेगी तो ये दोनों बेटियां उनके पार्टनर के लिए बोझ बन जाएंगी।

रवीना अपने इसी इंटरव्यू में बताती हैं कि मैंने लोगों की एक नहीं सुनी और मुझे खुशी है कि मेरे पति अनिल और मेरे ससुराल वालों ने पूजा और छाया को भरपूर प्यार दिया। मेरे ससुराल वाले मेरे दोनों बेटियों को उतना ही प्यार करते हैं, जितना वो मुझसे करते हैं।

रवीना टंडन कहती हैं कि मेरे घर में आज वो सबकुछ मौजूद है, जिससे एक घर खुशहाल घर बनता है।मेरे घर में सदस्यों की आपसी समझ, प्यार और एक दूसरे के लिए सम्मान हर चीज मौजूद है। रवीना ने बताया कि पूजा, छाया, राशी और रणबीरवर्धन में बहुत प्यार है।

मालूम हो कि रवीना टंडन की बड़ी बेटी पूजा मां भी बन चुकी हैं, यानी रवीना टंडन अब नानी भी कहलाती हैं। पूजा एक इवेंट मैनेजर हैं, तो वहीं रवीना की दूसरी बेटी छाया एक एयरहोस्टेस हैं। दोनों ही अपनी अपनी जिंदगी में खुश हैं।

रवीना के वर्कफ्रंट की बात करें तो फिल्म पत्थर के फूल से अपना बॉलीवुड किया और इसके बाद उन्ई बेहतरीन फिल्में बॉलीवुड को दी हैं। उन्होंने मोहरा, दिलवाले, लाडला, अंदाज अपना अपना जैसी कई फिल्मों में अपने एक्टिंग का लोहा मनवाया है।

SHARE