मोदी ने पूछा लोन लेने में कोई परेशानी तो नहीं हुई, पीएम को पसंद आई बनारस के मोमोज वाले की स्कीम

कोरोना महामारी और लंबे लॉकडाउन की वजह से बहुत से लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ा है। कई लोगों की नौकरियां छूट गई तो कईयों को बिजनेस में बहुत नुकसान हुआ। लेकिन इनमें सबसे ज्यादा तकलीफ रेहड़ी पटरी वाले और छोटे दुकानदारों को हुई। यह लोग दिनभर में अपना सामान बेचकर सुकून से रात को दो रोटी खाते थे। लेकिन लंबे समय तक काम ना कर पाने की वजह से इन्हें बहुत परेशानियां उठानी पड़ी। यहां तक कि अभी भी लोग रेहड़ी पटरी से कुछ खरीदने से पहले चार बार सोचते हैं।

ऐसे में सरकार उन्हें मदद करने की भरपूर कोशिश कर रही है। पीएम नरेंद्र मोदी ने मंगलवार की सुबह वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए उत्तर प्रदेश के ऐसे ही छोटे दुकानदार और रेहड़ी पटरी वालों से बातचीत की। पीएम मोदी ने बताया कि प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के तहत रेहड़ी पटरी वालों को दस हज़ार तक का लोन दिया जाएगा। उन्हीं में से कुछ लाभार्थियों ने मोदी जी से बात की। बातचीत के दौरान पीएम मोदी को बनारस के एक मोमोज बेचने वाले का आइडिया इतना पसंद आया कि उन्होंने सबको उससे सीख लेने की हिदायत दी।

आधार कार्ड जमा करने पर मिल गया लोन


बनारस के मोमोज बेचने वाले अरविंद मौर्य ने प्रधानमंत्री से बातचीत की। पीएम मोदी ने उनसे उनके काम से जुड़े कई सवाल पूछे। जिस पर उन्होंने बताया कि वह किस तरह से सुबह उठकर सबसे पहले सब्जियां खरीद कर लाते हैं। पीएम मोदी ने उनसे स्वनिधि योजना से मिली मदद के बारे में भी पूछा। इस पर अरविंद ने बताया कि उन्हें लोन के लिए ज्यादा चक्कर नहीं काटने पड़े।

केवल आधार कार्ड जमा करने पर ही उन्हें बड़ी आसानी से लोन मिल गया। उन्होंने यह भी बताया कि लोन मिलने के बाद उनका बिजनेस बढ़ गया है। उन्होंने स्विगी से भी टाइअप कर लिया है। उन्हें एक दिन में बहुत से ऑनलाइन आर्डर मिल जाते हैं।

सोशल डिस्टेंसिंग के लिए निकाली है स्कीम

बातचीत के दौरान अरविंद ने बताया कि उन्होंने लोगों को कोरोना से सुरक्षित रखने के लिए एक तरकीब सोची है। उन्होंने लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग फॉलो करवाने के लिए स्कीम निकाली है। उन्होंने बताया कि जो भी व्यक्ति उनके यहां पर मास्क लगाकर और सोशल डिस्टेंसिंग का पूरी तरह पालन करके मोमोज खरीदना है। उससे वह अपनी तरफ से एक मोमोज मुफ्त में देते हैं।

पीएम मोदी को अरविंद की यह बात बहुत पसंद आई। उन्होंने अरविंद की बहुत सराहना की। उन्होंने कहा कि सभी को अरविंद से सीख लेनी चाहिए। पीएम मोदी का कहना है कि जब एक छोटा व्यक्ति इस तरह की पहल कर सकता है। तो फिर बड़े पढ़े लिखे व्यक्तियों को इनसे सीख ले कर लोगों के हित में काम करने चाहिए। इसी प्रकार हमारा देश कोरोना मुक्त हो सकता है। पीएम मोदी ने और भी कई दुकानदारों से बात करके डिजिटल पेमेंट करने पर भी जोर दिया।

SHARE