बॉलीवुड के इन सितारों ने गरीबी में गुजारे दिन, एक ने तो सड़क में भीख भी मांगी

बॉलीवुड की दुनिया बाहर से तो खूब चमकती है मगर इसके अंदर की सच्चाई कुछ और ही है, सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड मामले में जिस तरह से एक के बाद एक चौंकाने वाले खुलासे हुए उससे साफ पता चलता है कि फिल्मी दुनिया में कब क्या हो जाए, ये किसी को नहीं मालूम। हालांकि बॉलीवुड ने कई लोगों को रातों रात स्टार बनाया है तो कुछ को सीधे अर्श से फर्श पर भी ला दिया है। जी हां, कुछ सितारों ने कड़ी मेहनत के बाद अपना मुकाम तो जरूर हासिल किया, मगर वो अपने स्टारडम को बरकरार नहीं रख पाए।

इन सितारों को जैसे ही काम मिलना बंद हुआ, इनकी आर्थिक तंगी शुरू हो गई। लिहाजा आज हम इस आर्टिकल में कुछ ऐसे ही सेलेब्स के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्होंने पहले तो अमीरी देखी, मगर बाद में गरीबी में अपने दिन काटने पड़े और आखिरकार इनकी मौत हो गई। आइये जानते हैं, आखिर इस लिस्ट में कौन कौन है शामिल…

परवीन बॉबी

परवीन बॉबी

70 के दशक की सबसे ग्लैमरस और मशहूर अदाकारा परवीन बॉबी से भला कोई कैसे परिचित नहीं होगा। उन्होंने अमर अकबर एंथोनी, दीवार, सुहाग और नमक हलाल जैसी कई बेहतरीन फिल्मों में काम किया है। एक्ट्रेस का निधन महज 55 साल की उम्र में ही हो गया था, उनकी मौत बड़ी दर्दनाक तरीके से हुई थी। अपने आखिरी दिनों में परवीन बिल्कुल अकेली थीं और पोस्टमार्टम रिपोर्ट में ये बात सामने आई थी कि परवीन ने पिछले दो दिनों से कुछ खाया नहीं था। दरअसल फिल्मों में काम न मिलने की वजह से परवीन की आर्थिक स्थिति बेहद खराब हो गई थी।

अचला सचदेव 

अचला सचदेवा

बॉलीवुड के मील का पत्थर कहा जाने वाला फिल्म ‘दिलवाले दुल्हनियां ले जाएंगे’ में काजोल की दादी का रोल प्ले करने वाली एक्ट्रेस अचला सचदेवा 30 अप्रैल 2012 को दुनिया छोड़ कर चली गई। अचला अपने पति के निधन के बाद 12 साल तक अकेले अपने पुणे वाले घर में रही। उनका एक बेटा है, जो कभी कभी  मिलने आया करता था। आखिरी समय में अचला के पास इतने पैसे नहीं थे कि वो अपना इलाज करवा सके और अंत में 2012 में उनकी मौत हो गई।

गीतांजलि नागपाल

एक वक्त था जब गीतांजलि नागपाल एक्ट्रेस सुष्मिता सेन के साथ रैंप पर वॉक करती थी। मॉडल गीतांजलि नागपाल एक एक्ट्रेस बनकर उभरी थीं, मगर वो अपना स्टारडम संभाल नहीं पाईं। फिल्मों में उन्हें सफलता नहीं मिली तो ड्रग्स और शराब की बुरी लत लग गई, उन दिनों गीतांजलि नशे के जाल में बुरी तरह फंस गई थीं और अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए उन्होंने बर्तन धोने और झाड़ू-पोछे तक का काम भी किया था। साल 2007 में गीतांजलि को भीख मांगते हुए देखा गया था। तंगी की वजह से साल 2008 में उनकी मौत हो गई।

विम्मी

विम्मी

साल 1967 में रिलीज हुई  फिल्म हमराज से रातों रात सुपरस्टार बनने वाली एक्ट्रेस विम्मी को भला कोई कैसे भूल सकता है। बता दें कि विम्मी ने हमराज के बाद भी कई बेहतरीन फिल्मों में काम किया, मगर कर्ज और शराब के नशे तले दब गईं और बेहद कम उम्र में उनकी  मौत हो गई। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो जब विमी की मौत हुई थी, तब उनके पास खाने तक के पैसे नहीं थे। बताया जाता है कि विम्मी के शव को रिक्शे से श्मशान घाट तक ले जाया गया था।

मिताली शर्मा

मिताली शर्मा

एक वक्त था जब मिताली शर्मा को बॉलीवुड की जानी मानी अभिनेत्रियों में गिना जाता था। मिताली दिल्ली की रहने वाली थीं और एक अभिनेत्री बनने का सपना लेकर मुंबई पहुंची थीं। मगर बॉलीवुड में वो ज्यादा दिन तक टिक नहीं सकी और उन्हें दिल्ली की सड़कों पर भीख मांगते हुए और चोरी करते हुए पुलिस ने रंगे हाथ पकड़ा था।

निशा नूर

निशा नूर

निशा नूर साउथ फिल्म इंडस्ट्री का एक जाना पहचाना नाम थीं। 80 के दशक में निशा का सिक्का चलता था। उन्होंने साउथ फिल्म के लेजेंड कहे जाने वाले रजनीकांत और कमल हासन के साथ काम किया था। मगर उनका स्टारडम ज्यादा दिन तक चल नहीं सका। बीमारियों और अनेक परेशानियों ने निशा को जकड़ लिया और इसी हालत में वो दुनिया छोड़कर चली गईं।

गीता कपूर 

गीता कपूर

पाकीजा, रजिया सुल्तान और प्यार करके देखो जैसी कई फिल्मों में काम कर चुकीं गीता कपूर को आखिरी बार एक अस्पताल में देखा गया था। गीता को अस्पताल में जिस हालत में देखा गया, उससे उनके फैंस को काफी गहरा धक्क लगा था। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो गीता के बेटे ने उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया था और जब बिल देने की बारी आई तो छोड़कर भाग गए।

भरत भूषण 

भरत भूषण

50 और 60 के दशक के मशहूर अभिनेता भरत भूषण ने कई हिट फिल्मों में काम किया, मगर एक बार जब उनकी  फिल्में फ्लॉप होनी शुरू हुईं तो वे पाई-पाई के मोहताज हो गए। बताया जाता है कि मुंबई में उनके पास कई बंगले थे और कई महंगी महंगी गाड़ियां थीं। मगर वो अपना स्टारडम संभाल नहीं पाए और जितना उन्होंने कमाया था, सब गंवा दिया। भरत भूषण को अपने अंतिम दिनों में सड़क पर रहना पड़ा था।

SHARE