विशेष

पहले बेहद दर्दनाक तरीकों से होता था महिलाओं का गर्भपात, जानकर कांप जायेगी आपकी रुह – देखिए

गर्भपात आजकल बैन हो गया है। गर्भपात कराने को लेकर देश में कड़े कानून लागू हो चुके हैं। लेकिन, पुराने वक्त में गर्भपात के लिए अमानवीय तरीके अपनाये जाते थे जो महिलाओं के लिए बेहद दर्दनाक होता था। लेकिन, भगवान का शुक्र है कि आज समय बदल चुका है। आज गर्भपात कराना बिल्कुल बैन है। इसके लिए डॉक्टर को भी जेल की सजा हो सकती है। लेकिन हम आज आपको गर्भपात के कुछ ऐसे तरीके बताने जा रहे हैं जो पहले के जमाने में अपनाये जाते थे। तो आइये आपको गर्भपात के लिए अमानवीय तरीके बताते हैं जो गर्भपात के लिए इस्तेमाल किये जाते थे।

ये हैं गर्भपात के लिए अमानवीय तरीके जिनका होता था इस्तेमाल

#1. वाशिंग पाउडर खिलाकर

आपको जानकर हैरानी होगी की उस वक्त में महिलाएं गर्भपात के लिए वाशिंग पाउडर खाया करती थीं। यह तरीका बेहद दर्दनाक होता था। इसकी वजह से महिलाओं को असहनीय दर्द झेलना पड़ता था।

#2. उबलते हुए पानी से नहलाना

गर्भपात के लिए महिलाओं को उस वक्त गर्म पानी से नहलाया जाता था। गर्म पानी से नहाने की वजह से महिला के पेट में मौजूद बच्चा अंदर ही मर जाता था। यह तरीका इतना दर्दनाक था कि कई बार महिलाएं भी जल जाती थीं।

#3. Tansy आयल का इस्तेमाल

Tansy आयल का इस्तेमाल गर्भ में पल रहे बच्चे को अंदर की सड़ाने के लिए किया जाता था। इस तेल की वजह से गर्भपात हो जाता था।

#4. Ergot खिलाकर

आपको बता दें कि Ergot गेंहू में पाया जाने वाला एक फंगस है।  गर्भपात के लिए महिलाओं को Ergot खिलाया जाता था। कभी कभी इसका मात्रा अधिक होने की वजह से महिला की भी मौत हो जाती थी।

#5. अफीम खिलाकर

अफीम के बारे में सब जानते हैं। अगर नहीं जानते तो आपको बता दें अफीम एक नशीला पदार्थ है। पुराने समय में महिलाओं को गर्भपात के लिए अफीम भी खिलाया जाता था।

#6. पेट पर मारना

गर्भपात का यह बेहद दर्दनाक तरीका माना जाता है। इस तरीके में महिला के पेट पर डंडे या किसी अन्य चीज से मारा जाता था जिसकी वजह से गर्भवती महिला का गर्भपात हो जाता है। यह तरीका बेहद पीड़ादायक माना जाता था।

#7. तारपीन का तेल पिलाकर

महिलाओं को गर्भपात के लिए तारपीन का तेल पीलाया जाता था। तारपीन एक जहरीला तेल माना जाता है। इसकी वजह से महिलाओं की सेहत पर असर पड़ता था।

#8. वजाइना में लीच डालकर

आप सोच सकते हैं कि ये तरीका कितना दर्दनाक होता होगा। इस तरीके में गर्भवती महिलाओं की वजाइना में लीच डाला जाता था जिससे उनका गर्भपात हो जाता था।

#9. लाल मिर्च

मिर्च खाना ही मुश्किल होता है। अगर इसका इस्तेमाल गर्भपात के लिए किया जाये तो सोच सकते हैं कि कितना अमानवीय तरीका हो सकता है। लेकिन, पुराने समय में ऐसा किया जाता था।

#10.  नीचे गिराकर

पुराने समय में गर्भवती महिला का गर्भपात कराने के लिए उसे कई बार नीचे गिराया जाता था। यह बेहद दर्दनाक और शर्मनाक तरीका होता था। इस अमानवीय तरीके की वजह से कई बार महिलाओं की जान भी जा चुकी है।

Related Articles

Back to top button