यूपी के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के होटल पर चला बुलडोजर, गिराया गया अवैध हिस्सा

बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के खिलाफ यूपी प्रशासन लगातार कार्यवाही करने में लगा हुआ है और आज अंसारी के होटल पर बुलडोजर चलाया गया है। ये होटल मऊ के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी की पत्नी व बेटों के नाम पर था। गाजीपुर में संचालित गजल होटल पर सुबह 6.38 बजे बुलडोजर चलाया गया और होटल की दूसरी तल, सीढ़ी व अन्य अतिक्रमण के हिस्से को गिरा दिया गया।

खारिज की थी अपील

मुख्तार अंसारी के दोनों बेटों ने होटल ना गिराने की अपील की थी, जिसे शनिवार देर शाम जिलाधिकारी की अध्यक्षता में हुई एक बैठक में खारिज कर दिया गया। जिसके बाद गजल होटल को खाली करवाने का काम शुरू किया गया। दरअसल आठ अक्टूबर को गजल होटल को गिराने का आदेश उप जिलाधिकारी प्रभास कुमार ने दिए थे।

जिसके बाद एसडीएम कोर्ट ने भी गजल होटल के अवैध हिस्से को गिराने की मंजूरी दे दी थी। इस होटल की दूसरा तल, सीढी तथा अन्य हिस्सा अवैध जमीन पर बनाया गया था। ये आदेश पारित होने के बाद इसके खिलाफ अंसारी के दोनों बेटों ने हाईकोर्ट में अपील की थी।

जिसपर हाई कोर्ट में सुनवाई की गई और डीएम कोर्ट में अपील करने का आदेश इन्हें दिया गया। डीएम की अगुवाई में एक बोर्ड बनाया गया, जिसने मुख्तार अंसारी के दोनों बेटों की अपील को खारिज कर दिया और एसडीएम के आदेश को बहाल किया गया।

होटल के अवैध हिस्से को गिराने का आदेश पारित होते ही शनिवार रात को महुआ बाग इलाके में काफी अफरा- तफरी मची रही और रात में होटल से सामान को निकाला गया। वहीं अगले दिन जिला प्रशासन ने गजल होटल पर बुलडोजर चला दिया। इस दौरान पुलिस बल भी मौजूद थे। गजल होटल के पास सुबह ही आला अफसरों, पीएसी व प्रशासनिक अधिकारियों का भी जमावड़ा लग गया था।

जिला प्रशासन ने पांच पोकलेन मशीनों की मदद से होटल को तोड़ने का काम किया। इस दौरान पूरे गजल होटल के आसपास के इलाके को पुलिस छावनी में बदल दिया गया। रविवार सुबह 6.38 बजे पांच पोकलेन से दूसरे तल के ध्वस्तीकरण की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। इस दौरान एडीएम राजेश कुमार, सदर एसडीएम प्रभास कुमार, जखनियां एसडीएम सूरज यादव, अतरिक्त एसडीएम, एसपी सिटी गोपीनाथ सोनी, सीओ सिटी ओजस्वी चावला, महमूद अली मौजूद रहे। साथ में ही महुआबाग तिराह से मिश्र बाजार तक बैरिकेडिंग की गई है।

SHARE