ऑपरेशन के दौरान डॉक्टर ने महिला के पेट में छोड़ दिया तौलिया, 4 महीने तक महिला की हालत रही ऐसे

यूपी के सीतापुर के एक अस्पताल की काफी बड़ी लापरवाही सामने आई है। इस अस्पताल की एक डॉक्टर ने ऑपरेशन के दौरान कथित तौर पर महिला के पेट में तौलिया छोड़ दिया। हद तो तब हुई जब महिला ने पेट में दर्द की शिकायत की लेकिन उसकी बात अस्पताल वालों ने बिलकुल नहीं सुनी। जिसके बाद महिला को दूसरे अस्पताल ले जाया गया। जहां पर उसका इलाज हुई। ये पूरा मामला सीतापुर में स्थित एक जिला महिला अस्पताल का है। पीड़िता के पति के अनुसार उनकी पत्नी को बच्चा होना था और उसे इलाज के लिए अस्पताल भर्ती किया गया। जहां सीएमएस डॉ. सुषमा कर्णवाल ने उसका ऑपरेशन किया।

शहर के कजियारा पुराना सीतापुर निवासी मोहम्मद फैजान अख्तर अंसारी ने बताया कि उनकी पत्नी शगुफ्ता अंजुम को प्रसव पीड़ा होने पर 5 जून 2020 को जिला महिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था। हालत गंभीर होने पर सीएमएस डॉ. सुषमा कर्णवाल ने ऑपरेशन की बात कही और ऑपरेशन के बाद पत्नी ने एक बेटी को जन्म दिया।

हालाकिं ऑपरेशन के बाद शगुफ्ता अंजुम को लगातार पेट दर्द व उल्टियां होती रही। शगुफ्ता अंजुम ने इस बात की शिकायत डॉक्टर से की। लेकिन डॉक्टर ने एक ना सुनी। डॉक्टर ने दर्द और उल्टी की दवाई लिख दी। जिसके बाद इन्हें अस्पताल से घर भेज दिया गया। लेकिन घर आकर भी शगुफ्ता अंजुम की हालत सही नहीं हुई और उसका पेट काफी सख्त हो गया। पत्नी की खराब हालत को देखते हुए पति मोहम्मद फैजान अख्तर अंसारी उसे लखनऊ ले गया। जहां पर पेट में तौलिया होने की बाद इनको पता चली।

मोहम्मद फैजान के अनुसार ऑपरेशन के बाद पत्नी का पेट बहुत कड़ा हो गया था। दवाई से फायदा न होने पर पत्नी को लखनऊ में दिखाया गया। अल्ट्रासांउड, सिटी स्कैन भी कराया। लेकिन उनसे भी कुछ स्पष्ट नहीं हो रहा था। जिसके बाद लखीमपुर के चिकित्सक डॉ. जेड खान ने उन्हें एमआरआई कराने को कहा। एमआरआई में पेट में कुछ ठोस वस्तु दिखी। डॉक्टर ने दोबारा ऑपरेशन करने को कहा। इसके बाद ऑपरेशन किया गया तो पेट से तौलिया निकला।

डॉक्टर के अनुसार तौलिए के कारण पेट में संक्रमण फैल गया था और मरीज की जान खतरे में थी। उसकी एक आंत सड़ चुकी थी। जिसे काटना पड़ा। हालांकि अब शगुफ्ता अंजुम की हालत सही है। ये मामला करीब 4 माह पहले का बताया जा रहा है। वहीं इस घटना के बाद सीएमएस डॉ. सुषमा कर्णवाल पर कार्यवाही की जाएगी।

SHARE