बंद कमरे में जज के सामने निकिता की सहेली ने दर्ज करवाया बयान, खोला बड़े राज़ से पर्दा

निकिता तोमर हत्याकांड की चश्मदीद गवाह ने अपना बयान दर्ज करवा दिया है। सोमवार को निकिता की दोस्त ने न्यायधीश के सामने अपना बयान दर्ज किया है और निकिता के साथ जो कुछ भी उस दिन हुआ वो खुलकर बताया है। निकिता की सहेली का साहस देखकर एसआईटी भी हैरान रहे गई है। क्योंकि निकिता की दोस्त ने बिना कोई झिझक के न्यायधीश के सामने पूरी वारदात को अच्छे से बताया है।

दरअसल जिस वक्त तौसीफ निकिता का अपहरण करने की कोशिश कर रहा था। उस समय निकिता की सहेली भी उसके साथ मौजूद थी। निकिता की सहेली को अच्छे से पता है कि आखिर उस दिन हुआ क्या था। वहीं निकिता हत्याकांड की जो सीसीटीवी फुटेज सामने आई थी। उसमें भी देखा गया था कि कैसे निकिता की सहेली उसे बचाने की कोशिश कर रही थी और निकिता को गोली लगने के बाद भी उसकी सहेली उसकी मदद करती हुई दिखाई दी थी।

बेहद ही महत्वपूर्ण है दोस्त का बयान

इस हत्याकांड की जांच कर रही एसआईटी के लिए निकिता की दोस्त का बयान काफी महत्वपूर्ण है। अगर निकिता की दोस्त बयान देने से मना कर देती, तो इस केस की जांच पर असर पड़ सकता था। लेकिन निकिता की दोस्त ने बिना डरे खुद से सामने आकर जज के सामने अपना बयान दर्ज करवाया। ताकि उसकी दोस्त को इंसाफ मिल सके।

अकेले जज के सामने दिया बयान

ये बयान सीआरपीसी (कोड आफ क्रिमिनल प्रोसिजर) की धारा-164 के तहत दर्ज किया गया है। जो कि जज के समक्ष ही दर्ज किया जाता है और जज ये सुनिश्चित करता है कि बयान किसी दबाव, लालच या डर में ना दिया जाए। इतना ही नहीं एक बार जज के सामने जो बयान दे दिया जाता है। उससे पलट नहीं जा सकता है। बयान देने के बाद उसे सीलबंद किया जाता है और केस की सुनवाई के दौरान सीधे न्यायाधीश के सामने इसे खोला जाता है।

 

पुलिस आयुक्त ओपी सिंह ने इस केस के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि तीन दिन के अंदर चार्जशीट दाखिल कर दी जाएगी। पुलिस के पास पर्याप्त सबूत हैं और आरोपियों को कड़ी सजा दी जाएगी। वहीं रविवार को महापंचायत के दौरान सड़क पर उपद्रव करने वालों के खिलाफ भी कार्यवाही की जाएगी। पुलिस ने अब तक 32 लोगों को गिरफ्तार कर लिया। जिनमें से तीन कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। निकिता के भाई नवीन तोमर को पुलिस आयुक्त ने शस्त्र लाइसेंस जारी किया है और परिवार की सुरक्षा बढ़ा दी है। परिवार के सभी लोगों के साथ दो-दो गनमैन रहेंगे।

गोली मारकर की थी हत्या

तौसीफ ने हाल ही में निकिता तोमर की गोली मारकर हत्या कर दी थी। तौसीफ ने उस वक्त निकिता की हत्या की थी जब वो अपना पेपर देकर कॉलेज से बाहर आ रही थी। तौसीफ ने पहले निकिता को पकड़कर अपनी गाड़ी के अंदर डालने की कोशिश की। लेकिन निकिता ने इसका विरोध किया। जिसके बाद तौसीफ ने निकिता को गोली मार दी। इस पूरी वारदात के समय निकिता की दोस्त उसके साथ ही थी। जबकि तौसीफ का दोस्त गाड़ी के अंदर था।

SHARE