युवक ने अपने ही अपहरण की साज़िश रच कर मांगी 50 करोड़ की फिरौती, फिर ऐसे आया पकड़ में

आरिफ अपहरण कांड को पुलिस ने 24 घंटे के अंदर हल कर लिया है। पुलिस के अनुसार आरिफ ने खुद के अपहरण की साजिश रची थी और घर से फरार हो गया था। मेरठ का रहने वाला आरिफ अपने सौतेले पिता आसिफ और सौतेली मां को सबक सिखाना चाहता था। इसलिए उसने ये सब किया। पुलिस के अनुसार 15 साल का आरिफ भागकर मेरठ से दिल्ली आ गया था। फरार होने से पहले इसने अपने घर में एक नोट भी छोड़ा था। जिसमें लिखा था कि ‘50 खोखे दो और बेटे को ले जाओ’।

इसके अलावा आरिफ ने अपनी छोटी बहन के फोन पर अपने फोन से एक मैसेज भी भेजा था। जिसमें उसने पैसों की मांग की थी। आरिफ के सौतेले पिता ने पुलिस को अपहरण की जानकारी दी थी। जिसके बाद पुलिस ने मामले की जांच की। पुलिस ने 24 घंटे के अदंर इस केस को हल कर लिया और आरिफ पुलिस को दिल्ली से मिला है।

पुलिस के अनुसार आरिफ ने खुद के अपहरण की साजिश रची थी और दिल्ली आ गया था। दिल्ली आकर जैसे ही उसने अपने फोन को ऑन किया, पुलिस को उसकी लोकेशन मिल गई। उसे दिल्ली से पकड़ लिया गया। पुलिस ने आरिफ से पूछताछ की तो उसने बताया कि सौतेली मां उसके सौतेले पिता को भड़काती रहती थी। जिससे वो परेशान था।

पुलिस के अनुसार आरिफ के पिता की 4-5 साल पहले मौत हो गई थी। जिसके बाद उसकी मां ने आसिफ से निकाह कर लिया था। करीब दो साल पहले मां की भी मौत हो गई। आसिफ ने दूसरी शादी कर ली। आरिफ सौतेली मां और सौतेले पिता दोनों के व्यवहार से परेशान था। आरिफ के अनुसार वो दिल्ली शिफ्ट होना चाहता था और बाद में अपनी बहन को भी अपने साथ ले जाने वाला था।

आरिफ उस समय अपने घर से फरार हुआ था, जब उसके सौतेले मां-बाप अपनी छोटी बेटी के साथ गांव गए थे। ये लोग घर में आसिफ और उसकी बहन को छोड़ गए थे। मौके का फायदा उठाते हुए आसिफ घर से फरार हो गया।

पुलिस ने किए 9. 31 लाख रुपए बरामद

पुलिस ने आरिफ के पास से करीब 9.31 लाख रुपये भी बरामद किए हैं। पुलिस के अनुसार आरिफ घर से ये पैसे लेकर फरार हुआ था। लेकिन पिता आसिफ ने इसके बारे में पुलिस को जानकारी नहीं दी। अगर आसिफ पहले ही पैसों के बारे में बता देता, तो पुलिस ये केस और जल्दी हल कर लेती।

पुलिस के अनुसार, आरिफ की कुल दो बहनें हैं। सबसे छोटी वाली बहन उसकी सगी मां और सौतेले पिता की बेटी है। आरिफ के सौतेले पिता ने दो महीने पहले ही दूसरी शादी की थी। वहीं 24 घंटे में घटना का खुलासा करने पर अपर प्रमुख सचिव अवनीश अवस्थी ने पुलिस टीम को एक लाख का इनाम दिया है।

SHARE