SIT ने दाखिल की निकिता हत्याकांड की चार्जशीट,रिपोर्ट में हुआ चौकाने वाला खुलासा

फरीदाबाद के बल्लभगढ़ में हुए निकिता तोमर हत्याकांड की चार्जशीट एसआईटी ने अदालत में दाखिल कर दी है। जो कि 700 पेजों की है। एसआईटी ने मात्र 11 दिनों में ये चार्जशीट तैयार की है और इस चार्जशीट में निकिता के साथ क्या-क्या हुआ था, इसका जिक्र किया है। चार्जशीट में लिखा गया है कि निकिता ने खुद इस बात की पुष्टि की थी कि उसे तौसीफ ने गोली मारी थी। घायल हुई निकिता तोमर ने अस्पताल जाते समय ये बात कही थी।

जब निकिता को गोली लगी थी, तो उसे एक युवक वहां से उठाकर अस्पताल ले गया था। अस्पताल ले जाते समय निकिता ने इस युवक को बताया कि उसपर तौसीफ ने हमला किया है और उसे गोली मारी है। चार्जशीट में पुलिस ने इस युवक के बयान को शामिल किया है। इसके अलावा एसआईटी ने साल 2018 में तौसीफ द्वारा किए गए निकिता के अपहरण का उल्लेख भी किया है।

निकिता से करना चाहता था शादी

साल 2018 में जब तौसीफ ने निकिता का अपहरण किया था, तो निकिता के परिवार वालों की ओर से केस दर्ज किया गया था। जिसके बाद तौसीफ को गिरफ्तार किया गया था। तौसीफ निकिता का अपहरण कर उसे मेरठ ले गया था। वहीं जब तौसीफ से पुलिस ने पूछताछ की तो उसने बताया कि वो निकिता से शादी करना चाहता था।

निकिता के परिवार वालों ने ये आरोप भी लगाया था कि तौसीफ निकिता का धर्म परिवर्तन भी करना चाहता था। लेकिन जबरन धर्म परिवर्तन के दबाव की बात पुलिस जांच में सामने नहीं आई है। वहीं दो साल पहले ये केस निकिता के परिवार वालों ने वापस ले लिया था।

दो साल बाद यानी 26 अक्तूबर साल 2020 को तौसीफ ने फिर से निकिता के अपहरण की कोशिशि की। बीकॉम अंतिम वर्ष की छात्रा निकिता तोमर जब अपना पेपर देकर कॉलेज से निकली तो तौसीफ ने उसका अपहरण करना चाहा। अपहरण ना कर पाने पर तौसीफ ने निकिता को गोली मार दी और मौके से फरार हो गया।

निकिता हत्याकांड मामले की जांच एसआईटी को सौंपी गई और एसआईटी ने इस मामले को फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलाने के लिए चार्जशीट के साथ ही अर्जी दाखिल कर दी है। इस अर्जी पर संज्ञान लिया जाएगा और ये फैसला किया जाएगा की ये केस फास्ट ट्रैक में चलाया जाए या नही।

साल 2018 में निकिता अपहरण केस को भी एसआईटी दोबारा से खोलना चाहती है। हालांकि केस को दोबारा से खोलने की मंजूरी नहीं मिली है और अदालत ने इसकी सुनवाई के लिए 9 नवंबर की तारीख दी है।

SHARE