पत्नी को मरा समझकर उसे नाले में फेंकने जा रहा था पति, तभी जाम में पत्नी की खुल गई आंख फिर…

ग्वालियर निवासी रूबी कुशवाहा को उसके पति ने अपने दोस्तों के साथ मिलकर मारने की कोशिश की। लेकिन रूबी की किस्मत अच्छी निकली और उसकी जान बच गई। रूबी किसी तरह से पति के चंगुल से फरार होने में कामयाब हुई। ये घटना ग्वालियर की है। कहा जा रहा है कि रूबी कुशवाहा को पति मान सिंह ने अधिवक्ता से बातचीत के बहाने अपनी कार में बैठाया। फिर अपने तीन साथियों की मदद से कार में ही उसका गला दबा दिया। साथ में ही रूबी को नींद की गोली भी खिला दी। रूबी नींद की गोली खाकर बेहोश हो गई। रूबी के पति और उसके दोस्तों को लगा कि वो मर गई है। जिसके बाद ये सभी उसके शव को ठिकाने लगाने के लिए आगरा निकल पड़े।

आगरा जाते समय रूबी को होश आ गया और वो गाड़ी से निकलकर भाग गई। रूबी के पति की गाड़ी जाम में फंस गई और रूबी को गाड़ी से निकलने का मौका मिला गया। कार से निकलकर रूबी ने लोगों से मदद मांगी। जिसके बाद लोगों ने पुलिस को फोन किया और पुलिस ने आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया।

रूबी के पति पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस का कहना है कि ग्वालियर में सिकंदरपुर स्थित कंपू निवासी रूबी कुशवाहा की शादी दस साल पहले मान सिंह कुशवाहा के साथ हुई थी। इनके दो बच्चे भी हैं। पति-पत्नी के बीच विवाद चल रहा है।

रूबी ने पुलिस को बताया कि वो पांच साल से अलग रह रहे हैं और उसने अपने पति और पति के परिवार वालों के खिलाफ केस दर्ज करवाया हुआ है। शुक्रवार को मान सिंह ने उसे फोन किया था और कहा था कि अधिवक्ता के पास चलना है। रूबी मान सिंह के साथ जाने को तैयार हो गई और ग्वालियर में अचलेश्वर मंदिर के पास रूबी अपने पति से मिली।

मान सिंह तवेरा ने गाड़ी में रूबी को बैठा लिया और रास्ते में विजय नामक युवक को भी गाड़ी में बैठाया। जबकि एक युवक कार में पीछे की सीट पर छिपकर बैठा था। रास्ते में वो भी बाहर आ गया। तीसरा साथी भी गाड़ी में बैठ गया।

रूबी ने बताया कि विजय गाड़ी चलाने लगा और पति ने प्लास्टिक की रस्सी से गला घोंटना शुरू कर दिया। बाकी दोनों ने उसके पैर और हाथ पकड़ लिए। फिर मान सिंह ने उसे नींद की कई गोली खिला दीं। वो बेहोश हो गई। कार जाम में रुकी तब रूबी को होश आया और वो कार से कूद गई। इसके बाद लोगों ने उसकी मदद की।

रूबी ने पुलिस को बताया कि वो पूरी तरह से बेहोश नहीं हुई थी। मगर, पति उसे मरा समझ रहा था। जिसके बाद इन लोगों ने दूसरे जिले में रूबी के शव को फेंककर आने का प्लान तैयार किया। सीओ सदर महेश कुमार ने बताया कि पति-पत्नी के बीच विवाद चल रहा था। पीड़िता को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। शनिवार मुकदमा दर्ज किया गया है। इसमें जान से मारने की कोशिश और जहरखुरानी की धारा लगाई हैं। आरोपी को जेल भेजा जाएगा।

SHARE