धार्मिक

वसंत पंचमी के दिन इन 7 कामों को करने की ना करें गलती, माना जाता है अशुभ

वसंत पंचमी के दिन विद्या की देवी मां सरस्वती जी की पूजा की जाती है। हिंदी पंचांग के अनुसार देखा जाए तो साल 2021 में बसंत पंचमी का पर्व फरवरी महीने में 16 फरवरी को मनाई जाएगी। शिक्षा और संगीत के क्षेत्र से जुड़े हुए लोगों को इस पर्व का साल भर से इंतजार रहता है। बसंत पंचमी का दिन बहुत ही शुभ माना गया है। इस दिन अगर मां सरस्वती जी की विधि-विधान पूर्वक पूजा की जाए तो इससे जीवन में विशेष लाभ की प्राप्ति होती है।

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार देखा जाए तो ज्ञान की देवी मां सरस्वती जी इसी दिन प्रकट हुई थीं। इसी वजह से मां सरस्वती जी की इस दिन विधि-विधान पूर्वक पूजा की जाती है। वसंत पंचमी के दिन अगर सरस्वती माता जी की पूजा की जाए तो इससे ज्ञान में वृद्धि होती है और उनका आशीर्वाद प्राप्त होता है। ज्ञान से जीवन के सभी प्रकार के अंधकार दूर होते हैं।

शास्त्रों के अनुसार, वसंत पंचमी के शुभ दिन कुछ बातों का ध्यान रखना बहुत ही जरूरी है। दरअसल, आपको वसंत पंचमी के दिन कुछ कामों को करने से बचना होगा अन्यथा इसकी वजह से जीवन में अशुभ फल की प्राप्ति होती है। इतना ही नहीं बल्कि इन कामों को करने से सरस्वती माता नाराज हो सकती हैं। तो चलिए जानते हैं आखिर वसंत पंचमी के पर्व पर कौन से काम ना करें…..

वसंत पंचमी के दिन बिना स्नान किए भोजन ना करें

धार्मिक शास्त्रों के अनुसार देखा जाए तो वसंत पंचमी का पर्व बहुत ही महत्वपूर्ण बताया गया है। यह दिन ज्ञान और सुरो की देवी मां सरस्वती जी को समर्पित है। वसंत पंचमी के दिन आपको इस बात का ध्यान रखना होगा कि बिना स्नान किए भोजन ना करें। आप इस दिन सरस्वती मां का व्रत कर सकते हैं। इससे माता का आशीर्वाद मिलेगा।

इस रंग के कपड़े ना पहनें

वसंत पंचमी के दिन पीले रंग के कपड़े विद्या की देवी मां सरस्वती जी को अर्पित किए जाते हैं। आपको इस बात का ध्यान रखना होगा कि वसंत पंचमी पर आप रंग-बिरंगे कपड़े ना पहनें। इस दिन पीले रंग के वस्त्र धारण करें। यह शुभ माना जाता है।

मन में बुरे विचार ना लाएं

शास्त्रों के अनुसार वसंत पंचमी के दिन मां सरस्वती का ध्यान करना चाहिए। इस दिन आप अपने मन में बुरे विचार भूलकर भी ना लाएं। वसंत पंचमी के शुभ दिन आप मां सरस्वती का ध्यान करके माता का आशीर्वाद प्राप्त कर सकते हैं।

अपशब्द ना बोलें

शास्त्रों के अनुसार, विद्यारंभ और अन्य प्रकार के मांगलिक कार्यों के लिए वसंत पंचमी का दिन अत्यंत शुभ माना जाता है। आपको इस बात का ध्यान रखना होगा कि वसंत पंचमी के दिन आप किसी को भी गलत शब्द ना बोलें।

मांस-मदिरा के सेवन से दूर रहें

वसंत पंचमी के दिन विद्या की देवी सरस्वती माता की विधि-विधान पूर्वक पूजा की जाती है। सरस्वती माता ज्ञान की देवी हैं और ज्ञान से जीवन का अंधकार दूर हो जाता है। आपको इस बात का ध्यान रखना होगा कि आप वसंत पंचमी के दिन मांस-मदिरा का सेवन भूलकर भी मत कीजिए। इस दिन सात्विक जीवन व्यतीत करें।

पेड़ पौधों की कटाई ना करें

शास्त्रों के अनुसार देखा जाए तो वसंत पंचमी का पर्व बहुत ही शुभ माना जाता है। शुभ कार्यों के लिए यह पर्व बहुत ही शुभ माना जाता है। आप बसंत पंचमी के दिन पेड़ पौधों की कटाई ना करें।

ब्रह्मचर्य का पालन करें

वसंत पंचमी के दिन खासतौर से पति-पत्नी को इस बात का ध्यान रखना होगा कि इस पावन दिन आप शारीरिक संबंध बनाने से बचें। इस दिन ब्रह्मचर्य का पालन करें। वसंत पंचमी के दिन आप अपने मन में इस प्रकार का कोई भी भाव आने मत दीजिए।

Related Articles

Back to top button