धार्मिक

शनि ग्रह बदलने वाले हैं अपनी राशि, कुछ महिनों में इस राशि पर शुरू हो जाएगी शनि की साढ़ेसाती

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार शनि ग्रह सबसे प्रभावी ग्रह माना जाता है। यदि किसी व्यक्ति की कुंडली में शनि ग्रह की स्थिति ठीक है तो इसकी वजह से जीवन में शुभ परिणाम मिलते हैं परंतु शनि ग्रह की स्थिति ठीक ना होने के कारण जीवन में बहुत सी परेशानियां उत्पन्न होने लगती हैं। ज्योतिष शास्त्र के नजरिए से शनि की राशि परिवर्तन होना बहुत महत्वपूर्ण माना गया है। अगर शनि अपनी राशि बदलता है तो इसकी वजह से कुछ राशियों पर शनि की साढ़ेसाती लग जाती है। वहीं कुछ राशियों पर शनि की साढ़ेसाती का प्रभाव खत्म हो जाता है।

आपको बता दें कि शनि ग्रह की चाल बहुत ही धीमी होती है। अगर शनि एक राशि से दूसरी राशि में स्थान परिवर्तन करता है तो उसको ढाई साल का समय लग जाता है। शनि किसी एक राशि से 12वीं राशि तक पहुंचता है तो उसको 30 साल का समय लगता है। आज हम आपको इस लेख के माध्यम से शनि ग्रह अपनी राशि कब बदलने वाले हैं और किस नई राशि पर शनि की साढ़ेसाती का प्रभाव शुरू होगा और किसे छुटकारा मिल सकता है, इसके बारे में जानकारी देने जा रहे हैं।

इन तीन राशियों पर शनि की साढ़ेसाती होगी संवारा

आपको बता दें कि फिलहाल शनि मकर राशि में भ्रमण पर हैं। ऐसी स्थिति में धनु, मकर और कुंभ राशि पर शनि की साढ़ेसाती का प्रभाव चल रहा है। इसके पश्चात शनि अपनी ढाई साल की अवधि मकर राशि में पूरी करने के पश्चात 29 अप्रैल 2022 को कुंभ राशि में प्रवेश करेंगे। बता दें कि कुंभ राशि शनि देव की स्वराशि है। अगर शनि ग्रह कुंभ राशि में प्रवेश करता है तो इसकी वजह से मीन राशि वाले लोगों पर शनि की साढ़ेसाती का पहला चरण शुरू होगा और धनु राशि वाले लोगों के ऊपर से शनि की साढ़ेसाती का प्रभाव खत्म हो जाएगा यानी मकर, कुंभ और मीन इन 3 राशियों पर शनि की साढ़ेसाती का प्रभाव रहने वाला है।

इस समय के दौरान धनु, मकर और कुंभ राशि वालों पर शनि की साढ़ेसाती का असर है। वहीँ मिथुन और तुला राशि वालों पर शनि की ढैया चल रही है।

जानिए धनु राशि पर शनि की साढ़ेसाती कब तक रहेगी

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार शनि ग्रह 29 अप्रैल 2022 से मकर को छोड़कर खुद की राशि कुंभ में प्रवेश करेंगे। ऐसे में धनु राशि वालों के ऊपर से शनि की साढ़ेसाती का प्रभाव खत्म हो जाएगा परंतु आपको इस बात का ध्यान रखना होगा कि शनि ग्रह 2022 में वक्री चाल से चलते हुए पुनः मकर राशि में आएंगे और इस राशि में वक्री और मार्गी होने से कुछ समय के लिए धनु राशि पर साढ़ेसाती का प्रभाव रहेगा। साल 2023 में धनु राशि वालों के ऊपर से शनि की साढ़ेसाती का प्रभाव पूरी तरह से खत्म हो जाएगा।

जानिए मकर राशि पर शनि की साढ़ेसाती कब तक रहेगी

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, मकर राशि वाले लोगों के ऊपर से शनि की साढ़ेसाती का प्रभाव 2025 में खत्म होगा। शनि एक राशि में ढाई साल तक विराजमान रहता है। उस समय राशि से एक राशि पहले और बाद की राशि पर शनि की साढ़ेसाती का प्रभाव देखने को मिलता है। यहां कहने का मतलब यह है कि तीन राशि पर शनि की साढ़ेसाती ढाई ढाई साल तक होती है। जब शनि ग्रह मीन राशि में प्रवेश करेगा तब मकर राशि के ऊपर से शनि की साढ़ेसाती का प्रभाव खत्म हो जाएगा।

जानिए कुंभ राशि पर कब तक रहेगी शनि की साढ़ेसाती

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार 23 जनवरी 2028 को कुंभ राशि वाले लोगों के ऊपर से शनि की साढ़ेसाती पूरी तरह से हट जाएगी। अभी कुंभ राशि वालों पर शनि की साढ़ेसाती का पहला चरण चल रहा है। जब मेष राशि में शनि गोचर करेंगे तब कुंभ राशि वाले लोगों को शनि की साढ़ेसाती से छुटकारा मिल जाएगा।

Related Articles

Back to top button