विशेष

बिहार के इस गार्ड ने जान पर खेलकर बचाए लाखों रुपए, कैश वैन लूटने आए थे बदमाश, देखें वीडियो

आजकल के समय में लोग पैसा कमाने के लिए कुछ भी करने को तैयार हो जाते हैं। आए दिन लूटमार जैसी वारदात की खबरें सुनने को मिल ही जाती हैं। न्यूज़पेपर और टीवी में रोजाना ही इस तरह की खबरें देखने और सुनने को मिलती हैं। आप सभी लोगों ने अक्सर देखा होगा कि एटीएम बैंक जैसी जगहों पर एक गार्ड बन्दुक लिए खड़ा होता है। हम सभी को ऐसा लगता है कि यह सिर्फ चुपचाप खड़ा रहने के लिए ही है परंतु ऐसा बिल्कुल भी नहीं है।

आज हम आपको बिहार के एक ऐसे मामले के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं जिससे आपको यह पता हो जाएगा कि असल में गार्ड का क्या मतलब होता है। जब किसी भी तरह की मुसीबत आती है तो यह गार्ड अपनी जान को जोखिम में भी डालने को तैयार रहते हैं।

आपको बता दें कि बिहार के मुजफ्फरपुर स्थित पुरानी बाजार सब्जी मंडी की एक घटना सामने आई है। यहां पर कुछ ही दूर पर खड़ी सेंट्रल बैंक की कैश वैन को दो बाइक सवारों ने बंदूक के बल पर दिनदहाड़े लूटने का प्रयत्न किया परंतु कैश वैन के गार्ड ने अगर साहस नहीं दिखाया होता तो यह बदमाश कैश वैन को लूटने में सफल भी हो जाते। रिपोर्ट के अनुसार यह घटना मंगलवार दोपहर 3:12 बजे की है, जब दो बाइक सवार हाथ में बंदूक लिए कैश वैन के पास लूटने की मंशा से पहुंचे थे और उन्होंने गार्ड पर अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी।

अचानक से ही जब बाइक सवार ने फायरिंग शुरू कर दी तो इसमें गार्ड जख्मी हो गया था परंतु इसके बावजूद भी इस बहादुर गार्ड ने अपने साहस का प्रदर्शन दिखाते हुए जवाबी फायरिंग की। गार्ड के साहस के आगे यह बदमाश टिक नहीं पाए और आखिर में मजबूर होकर उनको भागना पड़ गया। आपको बता दें कि कैश वैन में करीब 88 लाख रुपए थे, जो गार्ड की बहादुरी की वजह से बच गए। हालांकि अपराधी बाइक पर सवार होकर वहां से भाग गए।

खबरों के अनुसार ऐसा बताया जा रहा है कि बदमाशों ने कैश वैन पर हमला तब किया था जब इसमें कैश लोड किया जा रहा था। गार्ड विजय सिंह और एक अन्य गार्ड अखिलेश कुमार कैश वैन की सुरक्षा में तैनात थे। इसी बीच एक बाइक पर सवार दो बदमाश वैन के पास पहुंचे। एक बदमाश ने नारंगी रंग की शर्ट और काले रंग का पेंट पहना हुआ था और दूसरे ने मटमैले रंग की शर्ट और सफेद पेंट पहनी हुई थी।

इन दोनों बदमाशों में से एक बदमाश बाइक से उतरा और गार्ड कुछ समझ पाता कि इससे पहले ही बदमाश ताबड़तोड़ गोलियां बरसाने लगा था। गार्ड को गोली लग गई परंतु इसके बावजूद भी उसने अपनी हिम्मत नहीं हारी और जवाबी फायरिंग शुरू कर दी थी। वहीं दूसरे गार्ड ने भी गोलियां चलानी शुरू कर दी। गार्ड के साहस के आगे बदमाशों को भागना पड़ गया।

इस पूरी घटना का वीडियो देखने के बाद ऐसा लग रहा है जैसे गार्डन ने जो गोली चलाई थी वह गोली एक बदमाश की कमर के नीचे लग गई हो परंतु इसके बावजूद भी बदमाश उधर बिल्कुल भी नहीं रुके, वह तुरंत ही उधर से भाग निकले। फिलहाल घायल गार्ड विजय सिंह को बैरिया स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती किया गया है। इस पूरे घटना का वीडियो बैंक में लगे कैमरे में कैद हो गया। दिनदहाड़े हुई इस अपराधिक घटना की सूचना मिलते ही नगर डीएसपी राम नरेश पासवान घटनास्थल पर पहुंचे और घटना की छानबीन करने लगे। भले ही अपराधी हाथ से निकल गए परंतु गार्ड विजय सिंह की बहादुरी की वजह से वैन में रखे लाखों रुपए बच गए।

Related Articles

Back to top button