धार्मिक

वास्तु शास्त्र: रोजाना हर हाल में करें ये 10 काम, जीवन का अंधकार हो जाएगा दूर, मिलेंगे यह फायदे

जैसा कि हम सभी लोग जानते हैं देश भर में कोरोना महामारी का संकट छाया हुआ है। कोरोना काल में लोग बहुत ज्यादा परेशान चल रहे हैं। लोगों का काम धंधा बंद हो गया है। ऐसी स्थिति में घर चलाना बहुत मुश्किल हो रहा है। लोग किसी न किसी तरीके से घर का गुजारा करने की कोशिश कर रहे हैं। कोई भी छोटा मोटा काम करके किसी तरह अपनी जिंदगी काट रहे हैं। कोरोना बीमारी के कारण लोगों की जान भी जा रही है। चारों तरफ नकारात्मकता का वातावरण दिखाई दे रहा है। हर जगह कोरोना वायरस ने हाहाकार मचा रखा है।

कोरोना काल में अगर जीवन को ठीक प्रकार से चलाना है तो तन और मन को सकारात्मक बनाए रखना बहुत ही आवश्यक है। अगर आप सकारात्मक रहेंगे तो इसका परिवार के अन्य लोगों पर भी अच्छा प्रभाव पड़ेगा और इस कठिनाई को आसानी से पार किया जा सकता है।

वास्तु में ऐसे 10 आसान तरीके बताए गए हैं, जिनकी मदद से जीवन की नकारात्मकता को हटाया जा सकता है और सकारात्मक ऊर्जा का संचार हो सकता है। आखिर वास्तु शास्त्र में बताए गए कौन से उपायों का पालन करके जीवन में छाए हुए अंधकार को दूर किया जा सकता है। चलिए जानते हैं इसके बारे में।

इन 10 उपायों का करें पालन

  • अगर आप अपने जीवन को सकारात्मक ऊर्जा से भरपूर बनाना चाहते हैं तो इसके लिए आप सूर्य देव के प्रकाश में रहने का प्रयास कीजिए। आपको बता दें कि सूर्य देवता हमारे जीवन की ऊर्जा का मुख्य स्रोत है। इसलिए आप ऐसा प्रबंध कीजिए ताकि घर के हर कोने में सूर्य का प्रकाश जरूर पहुंच पाए।
  • आपको इस बात का ध्यान रखना होगा कि आप रोजाना नियमित रूप से स्नान जरूर करें। स्नान करने के पश्चात आप शरीर को अच्छी तरह से सुखाना ना भूलें। ऐसे आपके शरीर की सफाई रहेगी इतना ही नहीं बल्कि तन के साथ साथ मन से भी आप खुद को तरोताजा महसूस करेंगे।

  • आप रोजाना सुबह उठकर गायत्री मंत्र का जाप जरूर कीजिए। अगर आप गायत्री मंत्र का जाप करते हैं तो इससे मन को संतुष्टि मिलती है और जीवन में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है। ऐसा करने से आपकी सोच सकारात्मक होगी।
  • आप इस बात का ध्यान रखें कि दिन में हल्का भोजन कीजिए। आपको जितनी भूख है उससे थोड़ा कम ही भोजन करने का प्रयास कीजिए और खाने के बाद बैठे नहीं बल्कि थोड़ी देर जरूर टहलें। रात्रि के समय आप 6:00 से 7:00 तक भोजन करने की कोशिश कीजिए।

  • आप अपने घर के आंगन में तुलसी का पौधा जरूर लगाएं। ऐसा माना जाता है कि जिस घर के अंदर तुलसी का पौधा होता है उस घर में सकारात्मक ऊर्जा का संचार तेजी से बढ़ता है। धार्मिक महत्व के साथ-साथ आयुर्वेद में भी तुलसी के पौधे को बहुत गुणकारी बताया गया है। अगर आपके घर में तुलसी का पौधा लगा हुआ है तो इससे बैक्टीरिया और वायरस आपके घर में प्रवेश नहीं करेंगे।
  • आप अपने दैनिक क्रियाकलाप में नारंगी रंग का इस्तेमाल कीजिए। ऐसा करने से जीवन में सकारात्मक ऊर्जा का संचार बना रहता है। आपको बता दें कि नारंगी रंग आंखों को बहुत प्रिय होता है। इससे मन को खुशी मिलती है।

  • आप अपने पूरे घर में गूगल का धुआँ जरूर कीजिए। इससे घर में छिपे हुए वायरस और बैक्टीरिया नष्ट होंगे। इसके साथ ही मच्छर मक्खी जैसे कीटाणु भी घर से दूर भाग जाएंगे।
  • आपको इस बात का ध्यान रखना होगा कि समय-समय पर घर के कोने कोने में गंगाजल छिड़कें। गंगाजल को बहुत पवित्र माना जाता है अगर आप गंगा जल छिड़कते हैं तो इससे बुरी शक्तियां दूर भाग जाती हैं और घर के अंदर सकारात्मक ऊर्जा का संचार बढ़ने लगता है।
  • अगर आप सकारात्मकता में वृद्धि करना चाहते हैं तो घर में सरसों के तेल में के दीए में लौंग डालकर जलाएं। इससे लौंग की खुशबू से घर महकने लगेगा और आपके मन को खुशी प्राप्त होगी। ऐसा करने से सकारात्मकता का संचार होने लगता है।
  • वास्तु शास्त्र के अनुसार आप शीशे के बर्तन में नमक डालकर घर के किसी कोने में रख दीजिए और घर में सुगंधित धूप जरूर जलाएं और घर के हर कोने में दिखाएं।

Related Articles

Back to top button