बॉलीवुड

इंजीनियरिंग में सुशांत ने किया था टॉप, अभिनेता करते थे खूब मस्ती, ऐसी थी उनकी कॉलेज लाइफ

बॉलीवुड इंडस्ट्री के मशहूर अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत बेहतरीन कलाकारों के लिस्ट में शुमार हैं। यह एक ऐसे अभिनेता थे जिन्होंने बहुत कम समय में अच्छा खासा नाम कमाया था। उन्होंने अपनी मेहनत के बलबूते इंडस्ट्री में खुद की एक अलग ही पहचान बनाई थी। सुशांत का फिल्मी सफर बेहद रोचक और सफल रहा है। अभिनेता ने अपने करियर की शुरुआत छोटे पर्दे से की थी। उसके बाद उन्होंने बड़े पर्दे पर भी काम किया। सुशांत सिंह राजपूत एक हंसमुख कलाकार थे परंतु वह अब हमारे बीच में नहीं रहे।

आपको बता दें कि 14 जून 2020 को अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत अपने मुंबई के बांद्रा स्थित घर में मृत पाए गए थे। अचानक से ही अभिनेता की मृत्यु की खबर सुनकर परिवार वालों के साथ-साथ फैंस को भी काफी गहरा सदमा लगा था। आज भी अभिनेता का परिवार उनके गम को नहीं भुला पाया है। सुशांत सिंह राजपूत के जाने का गम परिवार के लोगों के साथ साथ फैंस को भी बहुत हुआ है।

सुशांत के निधन के बाद ऐसा बताया जा रहा था कि अभिनेता काफी लंबे समय से डिप्रेशन के शिकार थे और वह दवाइयों का भी सेवन कर रहे थे। अभिनेता की मौत को हत्या भी बताया गया है लेकिन अभी तक सुशांत की मौत का असली कारण सामने नहीं आया है। महज 34 साल की उम्र में सुशांत सिंह राजपूत ने अपने जीवन में बहुत कुछ हासिल किया और उन्होंने बॉलीवुड इंडस्ट्री में एक से बढ़कर एक सुपरहिट फिल्में दी।

अभिनेता सुशांत के चाहने वाले फिल्मों में उनके अभिनय को बहुत पसंद करते थे और अभिनेता के हाथ में कई अच्छे प्रोजेक्ट भी थे। सुशांत सिंह राजपूत ने फिल्म पीके, छिछोरे, एमएस धोनी में अपने किरदार से सभी फैंस का दिल जीत लिया था। सुशांत बेहतरीन कलाकार थे परंतु यह पढ़ाई में भी बहुत होशियार थे। उनके सोशल मीडिया पोस्ट को देखकर इस बात का अनुमान लगाया जा सकता है कि अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत चांद, तारों की दुनिया में खोए रहते थे। आज हम आपको इस लेख के माध्यम से सुशांत सिंह राजपूत की पढ़ाई और उनकी कॉलेज लाइफ के विषय में जानकारी देने वाले हैं।

बिहार के पटना में जन्मे सुशांत सिंह राजपूत के पिताजी सरकारी अधिकारी है। अभिनेता का परिवार साल 2000 के शुरुआती समय में दिल्ली में बस गया था। सुशांत की चार बहने भी हैं, जिसमें से एक मितू सिंह राज्य स्तर के क्रिकेट खिलाड़ी हैं। सुशांत सिंह राजपूत एक साधारण परिवार से ताल्लुक रखते हैं और उनका इंडस्ट्री से कोई भी नाता नहीं रहा था। सुशांत पढ़ाई में बहुत ज्यादा होशियार थे। सुशांत राजपूत की शुरुआती पढ़ाई सैंट करेंस हाई स्कूल पटना से हुई है और इसके आगे की पढ़ाई दिल्ली के कुलाची हंसराज मॉडल स्कूल से हुई।

अभिनेता ने ऑल इंडिया इंजीनियरिंग एंट्रेंस एग्जामिनेशन में सातवीं रैंक प्राप्त की थी। अगर अभिनेता फिल्म इंडस्ट्री में अपने कदम नहीं रखते तो वह इंजीनियरिंग के क्षेत्र में भी जबरदस्त सफलता प्राप्त करते। इसके बाद सुशांत ने दिल्ली कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग ( DCE) अब दिल्ली टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी) मैकेनिकल इंजीनियरिंग कोर्स में एडमिशन लिया था परंतु उन्होंने बीच में ही इंजीनियरिंग की पढ़ाई छोड़ दी थी क्योंकि वह मनोरंजन जगत में अपने आपको स्थापित करने की कोशिश में लग गए।

सुशांत सिंह राजपूत एक ऐसे कलाकार थे जो अपने जीवन के बारे में खुलकर बात किया करते थे। उन्होंने एक टीवी शो के दौरान अपने कॉलेज के दिनों के बारे में खुलकर बातचीत की थी अभिनेता थे यह कहा था कि “जब मैं डीसीई में पढ़ता था तब अपने कॉलेज में एक अच्छे स्टूडेंट के तौर पर जाना जाता था लेकिन मुझे फर्स्ट सेमेस्टर से हॉस्टल से बाहर निकाल दिया गया था।” उन्होंने आगे बताया कि “हमारे कॉलेज में एक नियम था जिसमें शाम को 7:00 बजे के बाद एंट्री नहीं मिलती थी। ऐसे में जब मैं सुबह निकलता तो अगली सुबह हॉस्टल वापस आना पड़ता था ताकि एंट्री मिल जाए।”

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत ने बातचीत के दौरान आगे यह बताया था कि शुरुआत से ही उनकी दिलचस्पी इंजीनियरिंग में थी। उन्होंने बताया कि जब थर्ड ईयर में छठे सेमेस्टर में 6 महीने बाकी थे तो उन्होंने पढ़ाई छोड़ दी थी और इसके बाद वह मनोरंजन की दुनिया में आ गए थे। आपको बता दें कि सुशांत ने अपने करियर की शुरुआत डांस से की थी। साल 2008 में बालाजी टेलीफिल्म्स ने उन्हें “किस देश में है मेरा दिल” के लिए सिलेक्ट किया था। इसके बाद दूसरे सीरियल और फिर फिल्मों में उनका आना हुआ।

सुशांत ने मशहूर सीरियल “पवित्र रिश्ता” में भी काम किया है और इस सीरियल के माध्यम से उन्हें अच्छी खासी लोकप्रियता हासिल हुई। इसके बाद उन्होंने फिल्म “काई पो छे” से अपने फिल्मी करियर की शुरुआत की थी। फिल्म “एमएस धोनी: द अनटोल्ड स्टोरी” में उनके द्वारा निभाए गए धोनी के किरदार की लोगों ने खूब प्रशंसा की और इस फिल्म के माध्यम से उन्हें अच्छी खासी पहचान प्राप्त हुई। इसके बाद पीके और छिछोरी जैसी फिल्मों में सुशांत सिंह राजपूत ने काम किया। सुशांत की आखिरी फिल्म “दिल बेचारा” थी जो अभिनेता के निधन के बाद रिलीज हुई थी। सुशांत खुद अपनी आखिरी फिल्म नहीं देख पाए थे।

Related Articles

Back to top button