धार्मिक

गंगा दशहरा पर कर लें ये छोटा सा टोटका, धन-संपत्ति की होगी वर्षा, मिलेंगे कई लाभ

हिंदू पंचांग के अनुसार हर साल जेष्ठ मास की शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि को गंगा दशहरा का पावन पर्व मनाया जाता है। आपको बता दें कि इस साल जेष्ठ माह के शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि 20 जून 2021 को है यानी 20 जून, दिन रविवार को इस वर्ष गंगा दशहरा मनाया जाएगा। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार इसी दिन गंगा माता स्वर्ग से पृथ्वी पर आई थीं। इसी वजह से इस दिन को बहुत ज्यादा महत्वपूर्ण माना जाता है। ऐसा बताया जाता है कि इस दिन मां गंगा की विधि-विधान पूर्वक पूजा करनी चाहिए इससे व्यक्ति के जीवन के समस्त आप खत्म हो जाते हैं और मृत्यु के पश्चात मोक्ष की प्राप्ति होती है।

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, अगर इस दिन गंगा में स्नान किया जाए तो इससे बहुत लाभ मिलता है परंतु जैसा कि हम सभी लोग जानते हैं कोरोना महामारी की वजह से इस समय गंगा स्नान करना उचित नहीं रहेगा। इसी वजह से आप घर पर ही नहाने के पानी में थोड़ा सा गंगाजल मिलाकर स्नान कर सकते हैं। इससे भी आपको पुण्य लाभ की प्राप्ति हो सकती है।

मां गंगा सिर्फ व्यक्ति के पापों का नाश ही नहीं करती हैं बल्कि उनकी पूजा-आराधना से धन-धान्य, खुशहाली भी प्राप्त होती है। आज हम आपको इस लेख के माध्यम से गंगा दशहरे के दिन किए जाने वाले कुछ टोटकों के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं, जिनको अपनाकर आप धनवान बन सकते हैं।

गंगा दशहरा पर करें ये उपाय/टोटके

1. अगर आप चाहते हैं कि आपको समृद्धि की प्राप्ति हो और दोस्तों के साथ आपके संबंध मजबूत बने रहें तो आप गंगा दशहरा के दिन यह छोटा सा उपाय कर सकते हैं। आप इस दिन मां गंगा की स्तुति कीजिए। इसके लिए आप “बृहत्यै ते नमस्तेSस्तु लोकधात्र्यै नमोSस्तु ते. नमस्ते विश्व मित्रायै नन्दिन्यै ते नमो नमः॥” का पाठ कर सकते हैं।

2. अक्सर देखा गया है कि लोग अपने कामकाज में खूब मेहनत करते हैं परंतु इसके बावजूद भी उनको संतुष्टि नहीं मिल पाती है। ऐसी स्थिति में आप गंगा दशहरा के दिन मिट्टी से बना एक मटका लेकर आएं और उसके गले तक पानी भर दीजिए। इसके बाद आप इसमें गंगाजल की कुछ बूंदें डालकर मटके को ढक दीजिए और उस पर कुछ दक्षिणा रख दें। इसके बाद आपको इस मटके को किसी शिव मंदिर में दान करना होगा। इस उपाय को करने से आपके जीवन की सारी उलझनें दूर हो जाएंगी।

3. जैसा कि हम लोग जानते हैं कोरोना संकट के बीच सभी लोगों को अपने स्वास्थ्य की बहुत ज्यादा चिंता है। अगर आप अच्छा स्वास्थ्य और लंबी आयु की इच्छा चाहते हैं तो इसके लिए गंगा दशहरा स्त्रोत में दी गई “संसार विष नाशिन्यै, जीवनायै नमोऽस्तु ते. ताप त्रय संहन्त्र्यै, प्राणेश्यै ते नमो नमः॥” पंक्तियों का 5 बार पाठ कीजिए।

4. अगर आप अपने जीवन में शुभ फल की प्राप्ति करना चाहते हैं तो इसके लिए गंगा दशहरा के दिन 10 ब्राह्मणों को 16-16 मुट्ठी तिल का दान जरूर कीजिए। इसके अलावा आटे से मछली, मेंढक और कछुआ बनाकर उनकी पूजा कीजिए। आप गंगा दशहरा के दिन 10 दीपक जलाकर उन्हें जल में प्रवाहित कर दीजिए।

Back to top button