बॉलीवुड

मिथुन ने किया खुलासा, पापा कहकर नहीं बुलाते उनके बच्चे, ऐसा है अभिनेता का बच्चों संग रिश्ता

बॉलीवुड इंडस्ट्री के मशहूर अभिनेता मिथुन चक्रवर्ती को भला कौन नहीं जानता। मिथुन चक्रवर्ती अपने समय के एक ऐसे अभिनेता थे जिन्होंने फिल्मों में अपनी एक्टिंग से सभी लोगों का दिल जीत लिया था। 80 के दशक के अपने सुनहरे दौर में एक डांसिंग स्टार के रूप में मिथुन चक्रवर्ती के बहुत सारे प्रशंसक बने और उन्होंने खुद को भारत के सबसे लोकप्रिय प्रमुख अभिनेता के रूप में स्थापित भी किया है। बॉलीवुड में उन्होंने कई हिट फिल्में दी हैं। आपको बता दें कि मिथुन चक्रवर्ती 71 साल के हो चुके और लोग उन्हें प्यार से “मिथुन दा” भी कहते हैं।

मिथुन चक्रवर्ती ने अपने करेर की शुरुआत 1976 में आई फिल्मों “मृगया” से की थी जिसके लिए उन्हें सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के लिए पहला राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार भी मिल चुका है। हिंदी फिल्मों के अलावा मिथुन चक्रवर्ती बांग्ला, उड़िया और भोजपुरी फिल्मों में भी काम कर चुके हैं। साल 1982 में आई फिल्म “डिस्को डांसर” ने उन्हें बॉलीवुड इंडस्ट्री का पहला डांसिंग स्टार बना दिया और उनके डांसिंग स्टाइल ने भारत के गांव-गांव और गली-कुचो में धूम मचा दी।

मिथुन चक्रवर्ती ने साल 1982 में फिल्म अभिनेत्री योगिता बाली से शादी रचाई और उनके तीन बेटे और एक बेटी है लेकिन वह चारों अपने पापा मिथुन को पापा नहीं बुलाते हैं। इस बात का खुलासा खुद मिथुन चक्रवर्ती ने किया है। तो चलिए जानते हैं आखिर इसके पीछे क्या वजह है।

आपको बता दें कि साल 2019 में मिथुन चक्रवर्ती डांस रियलिटी शो “सुपरडांसर चैप्टर 3” में गेस्ट के रूप में आए हुए थे। तब उन्होंने इस बात का खुलासा किया था कि उनके बच्चे उन्हें पापा कहकर नहीं बुलाते हैं। आपको बता दें कि शो में एक कंटेस्टेंट में यह बताया था कि वह अपने पापा को बहुत प्यार करता है और यही वजह है कि वह अपने पापा को ब्रो कह कर बुलाता है। जब मिथुन चक्रवर्ती ने उस कंटेस्टेंट की बात सुनी तो अभिनेता ने यह कहा था कि वह तीन बेटों और एक बेटी के पिता हैं। लेकिन उनके चारों बच्चों में से कोई भी उन्हें पापा कहते नहीं बुलाता है।

मिथुन चक्रवर्ती ने रियलिटी शो के दौरान यह बताया था कि उनके सारे बच्चे उनके नाम यानी मिथुन कह कर बुलाते हैं। अभिनेता ने यह बताया था कि उनका बड़ा बेटा मिमोह 4 साल तक बोल नहीं पाता था परंतु अचानक से ही एक दिन उसने मिथुन कहना शुरू कर दिया। जब मिमोह के डॉक्टर को यह बात पता लगी तो उन्होंने मिथुन बोलने पर बढ़ावा देने की सलाह दी थी।

मिथुन चक्रवर्ती ने डॉक्टर की सलाह मानते हुए अपने बेटे को मिथुन बोलने दिया लेकिन बाद में उसके भाई बहनों ने भी यही बोलना शुरू कर दिया था। मिथुन चक्रवर्ती आगे बताते हुए कहते हैं कि इससे एक फायदा हुआ कि बच्चों और उनके बीच दोस्ती जैसा रिश्ता कायम हो गया है। मिथुन चक्रवर्ती की यह कहानी सुनकर सभी लोग हंसने लगे थे।

बताते चलें कि मिथुन चक्रवर्ती 80 के दशक में एक्शन से भरपूर फिल्में, रोमांटिक और पारिवारिक फिल्मों में नजर आए हैं। वैसे आज भी मिथुन चक्रवर्ती फिल्मों की शूटिंग में काफी बिजी रहते हैं। मिथुन चक्रवर्ती ने अपने एक्टिंग करियर में 350 से ज्यादा फिल्मों में काम किया है।

Back to top button