बॉलीवुड

49 की उम्र में राज कौशल का निधन, बरसों पुरानी प्रथा को तोड़ मंदिरा बेदी ने उठाई पति की अर्थी

बॉलीवुड इंडस्ट्री से बीते कुछ समय से एक के बाद एक कई दुखद खबर सुनने को मिल रही हैं। बॉलीवुड इंडस्ट्री के ऐसे कई कलाकार हैं जो इस दुनिया को अचानक से ही अलविदा कह कर चले गए, जिनके निधन की सूचना पाकर बॉलीवुड इंडस्ट्री से लेकर फैंस तक काफी सदमे में आ गए थे। इसी बीच बुधवार को बॉलीवुड अभिनेत्री मंदिरा बेदी पर भी दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है। उस समय पूरी फिल्म इंडस्ट्री सदमे में आ गई, जब अचानक से ही मंदिरा बेदी के पति राज कौशल के निधन की खबरें सबके सामने आई थीं।

आपको बता दें कि 30 जून 2021 दिन बुधवार को मंदिरा बेदी के पति राज कौशल का दिल का दौरा पड़ने की वजह से निधन हो गया, वो 49 साल की उम्र में दुनिया को अलविदा कह गए। अभिनेत्री मंदिरा बेदी अपने परिवार और दोस्तों के साथ राज कौशल का अंतिम संस्कार करने पहुंचीं। अपने पति राज की आखिरी विदाई देते हुए मंदिरा बेदी खुद को संभाल नहीं पाईं और वह फूट-फूट कर रोने लगीं। सोशल मीडिया पर दोस्त और नाते-रिश्तेदारों ने उनके लिए श्रद्धांजलि पोस्ट शेयर किया है।

सोशल मीडिया पर मंदिरा बेदी के पति राज कौशल के अंतिम संस्कार की कुछ तस्वीरें काफी तेजी से वायरल हो रही हैं, जिनको देखकर सभी लोग शोक व्यक्त कर रहे हैं। राज कौशल के अचानक निधन से मंदिरा बेदी पूरी तरह से टूट गई हैं। आपको बता दें कि बुधवार सुबह लगभग 11:00 बजे राज कौशल की अंतिम यात्रा उनके घर से निकली थी। यह घड़ी मंदिरा बेदी के लिए बेहद भावुक कर देने वाली थी। अंतिम यात्रा के दौरान मंदिरा बेदी अपने दोस्त के कंधे पर सिर रखकर रोती हुई नजर आई थीं।

मंदिरा बेदी के पति राज कौशल के अंतिम संस्कार की कई तस्वीरें सामने आई है, जिनमें से कुछ तस्वीरों में देखा जा सकता है कि मंदिरा बेदी अपने पति की अर्थी को उठाती हुई दिख रही है। जैसा कि हम सभी लोग जानते हैं भारतीय समाज में यह धारणा है कि महिलाएं किसी भी व्यक्ति की अंतिम यात्रा में शामिल नहीं हो सकती हैं। ऐसी स्थिति इनमें मंदिरा बेदी ने कई साल पुरानी प्रथा तोड़ते हुए अपने पति की अर्थी उठाई है।

मंदिरा बेदी के हाथ में एक मिट्टी का घड़ा था, जिसे हिंदू धर्म में क्रिया कर्म के दौरान तोडा जाता है और इस घड़े को परिवार का कोई पुरुष ही उठा सकता है और वही चिता को आग देता है लेकिन बरसों पुरानी रूढ़िवादी इस परंपरा को मंदिरा बेदी ने अपने पति का अंतिम संस्कार कर तोड़ दिया है।

आपको बता दें कि बहुत से धर्मों में अपने साथी को अलविदा कहने के बाद महिलाओं को यह हक नहीं दिया जाता है कि वह अपने साथी का अंतिम संस्कार करें परंतु मंदिरा बेदी में राज कौशल का अंतिम संस्कार किया है। राज कौशल की आखिरी विदाई के दौरान मंदिरा बेदी के साथ खड़े होने के लिए अपूर्व अग्निहोत्री, रोहित रॉय, हुमा कुरेशी, समीर सोनी और आशीष चौधरी पहुंचे थे।

आपको बता दें कि राज कौशल 90 के दशक और 2000 के बीच के दशक के सक्रिय प्रोड्यूसर और डायरेक्टर थे। राज कौशल एक स्टंट कॉर्डिनेटर भी थे। उन्होंने एंथनी कौन है, शादी का लड्डू और प्यार में कभी कभी जैसी फिल्में निर्देशित की थी। बता दें कि मंदिरा बेदी और राज कौशल की पहली मुलाकात साल 1996 में मुकुल आनंद के घर पर हुई थी। जहां पर मंदिरा बेदी ऑडिशन देने के लिए पहुंची थीं और राज, मुकुल आनंद के असिस्टेंट के रूप में कार्य कर रहे थे। यहीं से इन दोनों के बीच प्यार का सिलसिला शुरू हुआ था और बाद में 14 फरवरी 1999 को मंदिरा बेदी और राज कौशल ने विवाह कर लिया।

Back to top button