बॉलीवुड

एक कमी की वजह से कभी पिता नहीं बन पाए दिलीप कुमार, इसका सदमा उन्हें आखरी वक़्त तक था

बॉलीवुड के ट्रैजडी किंग दिलीप कुमार ( Dilip Kumar) सभी को छोड़ कर चले गए है. लेकिन उनके किस्से इतने है जो ख़त्म होने का नाम ही नहीं ले रहे है. दिलीप कुमार ने न सिर्फ सिनेमा पर बल्कि लोगों के दिलों पर भी राज़ किया था. दिलीप कुमार के बिना हिंदी सिनेमा का इतिहास अधूरा है. दिलीप कुमार फिल्म इंडस्ट्री का एक मजबूत स्तंभ रहे है. दिलीप कुमार के जितने फ़िल्मी किस्से है उतने ही किस्से उनकी निजी जिंदगी के भी है.

dilip kumar and saira bano

दिलीप कुमार ने मुगले आजम, नया दौर, शहीद, गंगा जमुना, देवदास, राम और श्याम जैसी फिल्मों ने उन्हें अभिनय सम्राट बनाया. मधुबाला, कामिनी कौशल, वैजयंती माली जैसी अभिनेत्रियों से उनके रोमांस के चर्चों ने खूब सुर्खियां बटोरी. मगर शादी उन्होंने सायरा बानों से ही रचाई. वर्ष 1996 में जब दिलीप कुमार ने खुद से 22 साल छोटी सायरा बानो से शादी की तो जमाना चौक गया था. आपको बता दें कि सायरा बानों उस समय की ब्यूटी क्वीन के नाम से जानी जाती थी. इन दोनों का ही मिज़ाज़ अलग हुआ करता था. दोनों में उम्र का फासला भी बहुत था. मगर जब दोनों के बीच प्यार हुआ तो बेपनाह हुआ था.

Dilip kumar

dilip kumar and saira bano

दिलीप और सायरा की जोड़ी को हमेशा एक यादगार जोड़ी के रूप में देखा जाता है. फ़िल्मी दुनिया का ऐसा एक पल नहीं होगा जब दोनों साथ नहीं दिखाई दिए होंगे. दिलीप कुमार और सायरा की कहानी भी एक दम फ़िल्मी है. सायरा बानों किसी और को चाहती थी मगर उन्होंने शादी दिलीप साहब से की.

Dilip kumar

dilip kumar

वह राजेंद्र कुमार को चाहती थी, मगर जब दिलीप कुमार ने उन्हें समझाया कि शादीशुदा और दो बच्चों के पिता के चक्कर में मत पड़ो तो उन्होंने झट से पूछ लिया, क्या आप मुझसे शादी करेंगे. दिलीप कुमार को मजबूरन हां करनी पड़ी और 60 के दशक के मोस्ट डिमांडेड बैचलर दिलीप कुमार सायरा बानों के हमसफ़र बन गए.

dilip kumar and saira bano

शादी करने के बाद ये दोनों कई अन्य फिल्मों में भी साथ नज़र आए. दिलीप और सायरा की जिंदगी काफी खुशहाल चल रही थी. 1971 में सायरा माँ बनने वाली थी. इस समय उन्होंने अपनी फिल्मों की शूटिंग भी जारी रखी. फिल्म विक्टोरिया 203 के दौरान वह गर्भवती थी. शूटिंग के दौरान सायरा गिर पड़ी थीं और डिलीवरी के दौरान उन्होंने एक मरे हुए बच्चे को जन्म दिया. ये वो समय था जब दिलीप कुमार फूट-फूटकर रोए थे. इस हादसे के बाद से ही सायरा कभी माँ नहीं बन पाई थी. वहीं दिलीप कुमार हमेशा से एक औलाद चाहते थे. इसी वजह से 1980 में उनकी जिंदगी में आस्मां नाम की महिला आई.

dilip kumar

dilip kumar and saira bano

दिलीप कुमार के संबंध पहले से शादी शुदा महिला और तीन बच्चों की मां आस्मां से बन गए. इसके बाद उन्होंने 1980 में 30 मई को सायरा बानो से चोरी छिपे बंगलौर में इस महिला से शादी कर ली. बाद में सायरा बानों के विरोध के चलते दिलीप कुमार को इस महिला को तलाक देना पड़ा. कहा जाता है कि यह एक प्लान था जिसके तहत वह महिला दिलीप कुमार के निजी राज़ अपने पत्रकार पति को दे रही थी. इसके बाद दिलीप कुमार और सायरा बानों का साथ अंतिम समय तक बना रहा.

Back to top button