बॉलीवुड

सायरा बानो दिलीप कुमार की बॉडी से लिपटे आंसू बहाती रही,कहा था- ‘धरम, देखो साहेब ने पलक झपकी है

बॉलीवुड के लीजेंडरी अभिनेता दिलीप कुमार बुधवार को हम सभी को छोड़ कर जा चुके है. उन्होंने लगभग चार दशक तक हिंदी सिनेमा पर राज़ किया था. उनके निधन से फिल्म जगत के एक युग का अंत हो चुका है. दिलीप कुमार को इस महीने में दो बार अस्पताल में भर्ती कराया गया था. मगर बुधवार की सुबह मुंबई के हिंदुजा अस्पताल में उन्होंने आखिरी सांस ली. दिलीप साहब का इलाज करने वाले डॉक्टर जलील पारकर ने इस बात की जानकारी दी थी.

अभिनेता के निधन के बाद उनके पार्थिव शरीर को बांद्रा स्थित उनके घर में लाया गया जहां फिल्म इंडस्ट्री के दिग्गज लोगों ने उनका अंतिम दर्शन किया. दिलीप कुमार के जाने के बाद से ही उनकी पत्नी सायरा बानो पूरी तरह से बेसुध हो गई.

saira banu reaction on seeing dilip kumar dead body

दिलीप कुमार और सायरा बानो की शादी 1966 में हुई थी. उस समय से दोनों एक-दूसरे के सुख-दुख में साथी थे. उनके जाने से सायरा बानो का सहारा छिन गया और वे बेहद गमगीन रहने लगी थी. दिलीप कुमार की मौत की खबर जंगल में आग की तरह फैली और उनके घर में चाहने वालों का तांता लग गया. सायरा ने एक गेस्ट के सामने कहा कि अब मैं क्या करुँगी. जब दिलीप कुमार के पार्थिव शरीर को उनके घर पर लाया गया तो वहां का नज़ारा बेहद ही ग़मगीन था. सायरा बानों की आखों में आंसू रुक नहीं रहे थे.

saira banu reaction on seeing dilip kumar dead body

सायरा बानों दिलीप कुमार के पार्थिव शरीर से लिपट-लिपट कर रो रही थी. उन्हें देख कर ऐसा लगता था कि जैसे दिलीप कुमार जीवित हैं और उनसे लिपटकर वह कुछ उनसे कहना चाह रही हो. उन्हें इस तरह से देखकर वहां मौजूद हर व्यक्ति अपनी भावनाओं पर कंट्रोल नहीं कर पा रहा था. उनके कुछ रिश्तेदार के साथ ही बॉलीवुड के कई बड़े नाम दिलीप साहब के घर पहुंचे थे. सायरा बानों को इस दुःख की घडी में शाहरुख खान सँभालते हुए नज़र आ रहे थे. 7 जुलाई को शाम 5 बजे मुंबई के जुहू कब्रिस्तान में पूरे राजकीय सम्मान के साथ दिलीप कुमार को सुपूर्द-ए-खाक कर दिया गया.

saira banu reaction on seeing dilip kumar dead body

मुगले आजम, नया दौर, शहीद, गंगा जमुना, देवदास, राम और श्याम जैसी फिल्मों ने उन्हें अभिनय सम्राट बनाया. मधुबाला, कामिनी कौशल, वैजयंती माली जैसी अभिनेत्रियों से उनके रोमांस के चर्चे खूब रहे लेकिन शादी उन्होंने सायरा बानों से रचाई. दिलीप कुमार किसी भी फंक्शन में अकेले नहीं जाते थे उनके साथ हमेशा ही उनकी पत्नी सायरा बानों होती ही थी. 11 अक्टूबर 1966 को जब उन्होंने खुद से 22 साल छोटी 25 वर्षीय अभिनेत्री सायरा बानो के साथ शादी की तो जमाना चौंक गया. तब उनकी उम्र 44 की थी. सायरा बानो अपने समय की ब्यूटी क्वीन कहलाती थी.

saira banu reaction on seeing dilip kumar dead body

दिलीप कुमार ने पहली बार1949 में फिल्म “अंदाज़” में राजकपूर के साथ काम किया था. यह फिल्म एक हिट साबित हुई थी. दीदार (1951) और देवदास (1955) जैसी फिल्मों में गंभीर भूमिकाओं के लिए मशहूर होने के कारण उन्हें ट्रेजडी किंग कहा जाने लगा. मुग़ले-ए-आज़म (1960) में दिलीप कुमार ने मुगल शहजादा जहाँगीर की भूमिका निभाई थी. 1970, 1980 और 1990 के दशक तक उन्होंने कम फिल्मों में काम किया. इस दौरान उनकी प्रमुख फिल्में थीं: क्रांति, विधाता , दुनिया , कर्मा, इज़्ज़तदार और सौदागर आदि. वर्ष 1998 में बनी फिल्म “किला” में वह आखरी बार नज़र आए थे. दिलीप कुमार पद्म भूषण और पद्म विभूषण से सम्मानित थे.

Back to top button