बॉलीवुड

आर्थिक तंगी से जूझ रहीं शगुफ्ता अली ने सोनू सूद से लगाई थी मदद की गुहार, लेकिन मिला था ये जवाब

बॉलीवुड इंडस्ट्री के मशहूर अभिनेता सोनू सूद कोरोना काल में जरूरतमंदों के मसीहा बने हुए हैं। कोरोना महामारी के बीच अभिनेता सोनू सूद लगातार गरीब और जरूरतमंद लोगों की हर संभव मदद कर रहे हैं और लगातार मुश्किलों में फंसे हुए लोगों की सहायता के लिए वह हमेशा तैयार रहते हैं। सोनू सूद ने आम लोगों की ही नहीं बल्कि कई मशहूर हस्तियों की भी सहायता की है। इसी बीच इंडस्ट्री की मशहूर अभिनेत्री शगुफ्ता अली ने भी सोनू सूद से मदद की गुहार लगाई है लेकिन उनको यह जवाब मिला था।

खबरों के अनुसार ऐसा बताया जा रहा है कि कोरोना महामारी की वजह से लगे लॉक डाउन के कारण शगुफ्ता अली को कोई भी काम नहीं मिल रहा है, जिसके कारण से उनकी आर्थिक स्थिति बहुत खराब हो चुकी है और उनके पास अपना इलाज करवाने तक के रुपए नहीं है। हाल ही में शगुफ्ता अली ने इस बात का खुलासा किया है कि उन्होंने अपनी कार से लेकर गहने तक बेच दिए हैं। अब उनके पास बेचने के लिए कुछ भी नहीं है।

अभिनेत्री ईशा गुप्ता अली ने बताया कि वह 20 साल से ब्रेस्ट कैंसर से पीड़ित हैं और उसकी तीसरी स्टेज से जूझ रही हैं, अब तक 9 कीमोथेरेपी सेशन हो चुकी है लेकिन अब अभिनेत्री के पास पैसे नहीं है जिसके चलते वह अपना इलाज कराने में सक्षम नहीं हो पा रही हैं। आर्थिक हालात बिगड़ने की वजह से अभिनेत्री मदद मांग रही हैं।

हाल ही में शगुफ्ता अली ने एक इंटरव्यू के दौरान यह बताया था कि सीने और टीवी आर्टिस्ट एसोसिएशन (सिनटा) ने उन्हें संपर्क किया लेकिन उन्होंने सहायता लेने से मना कर दिया क्योंकि वह लोग बहुत कम पैसों में उनकी सहायता कर रहे थे। इसके बाद शगुफ्ता अली ने सोनू सूद से भी मदद मांगने की कोशिश की परंतु अभिनेत्री को यह पता चला कि सोनू सूद आर्थिक तंगी से जूझ रहे लोगों की मदद नहीं करते बल्कि वह मुश्किल में फंसे लोगों तक सिर्फ सेवाएं पहुंचाते हैं।

आपको बता दें कि हाल ही के दिनों में शगुफ्ता अली ने यह बताया था कि डायबिटीज की वजह से उनका पैर पूरी तरह से प्रभावित हो गया था और उनके पैर सुन हो जाते और बहुत ज्यादा दर्द होता था। तनाव की वजह से अभिनेत्री का शुगर लेवल भी बढ़ गया, जिसने उनकी आंख को भी प्रभावित किया है। अभिनेत्री ने बताया कि इसी वजह से मुझे ट्रीटमेंट करवाना पड़ा। मैंने अपनी कार, गहने बेच दिए हैं। मैं ऑटो रिक्शा से डॉक्टर के पास जा रही हूं। उन्होंने बताया कि उनको जीने के लिए आर्थिक सहायता चाहिए। उन्होंने बताया कि उन्होंने लोगों से लोन लिए हैं। इसके अलावा उनको घर की ईएमआई, मेडिकल बिल भरना पड़ता है।

शगुफ्ता अली ने अपने करियर की शुरुआत साल 1989 में टेलीविजन सीरियल “दर्द” से की थी। उसी साल अभिनेत्री ने “कानून अपना-अपना” में भी काम किया था। बॉलीवुड में वह हीरो नंबर वन, सिर्फ तुम, अजूबा और इंटरनेशनल खिलाड़ी में भी काम कर चुकी हैं। शगुफ्ता अली ने टेलीविजन पर एक वीर की अरदास वीरा, पुनर्विवाह और बेपनाह जैसे कई धारावाहिक में काम किया है। साल 2018 के बाद शगुफ्ता अली को पर्दे पर नहीं देखा गया।

आपको बता दें कि हमेशा से ही शगुफ्ता अली अपने काम के प्रति समर्पित रही हैं। कैंसर के इलाज के 17 दिन बाद ही वह अपने काम पर वापस आ गईं थीं। उन्होंने बताया था कि उस वक्त मेरे पास ढेर सारा काम था और मुझे अपनी जिम्मेदारियों का पूरा एहसास था। उन्होंने बताया कि एक्सीडेंट में उनका पैर टूट गया था। जब वह अपने पिता से मिलने जा रही थीं तो उस दौरान उनके साथ दुर्घटना हो गई थी, जिसमें उनकी हड्डी दो भाग में बंट गई थी। हादसे के बाद उन्हें स्टील रॉड की सहायता लेनी पड़ी जो आज भी उनके पास है। अभिनेत्री ने बताया कि उन्होंने अपने जीवन के इस सफर में बहुत सी चुनौतियों का सामना किया है परंतु वह कभी भी नहीं घबराईं।

Back to top button