Uncategorized

दशरथ मांझी के परिवार ने नहीं लिया सोनू सूद की मदद का पैसा, टीम को आटा-दाल देकर लौटाया

दशरथ मांझी किसी परिचय के मोहताज नहीं हैं. उन्होंने अपनी पत्नी के प्रेम में पहाड़ का सीना चीर कर सड़क बना दिया था. उन्हें ‘माउंटेन मैन’ के नाम से भी जाना जाता है. उनके प्रेम, समर्पण और प्रेम के लिए किये गए अथक प्रयास से दुनिया वाकिफ है. मगर आज उसी माउंटेन मैन का परिवार बेहद गरीबी में जी रहा है. ऐसे में इस हाल में देश के हीरो और बॉलीवुड के अभिनेता सोनू सूद दशरथ मांझी के परिवार की मदद के लिए आगे आए थे. उन्होंने अपनी टीम को मांझी के घर भेजा था. मगर इस परिवार ने सोनू की मदद लेने से मना कर दिया था.

Dashrath Manjhi

इसके साथ ही इस रिपोर्ट में इस बात का भी खुलासा किया गया है कि, फिर टीम ने राशन खरीदकर दशरथ मांझी के घर पहुंचाया. इसमें चावल, आटा और आलू शामिल है. बता दें कि सोनू सूद तक किसी ने खबर पहुंचे थी कि दशरथ मांझी के परिवार को मदद की जरूरत है. इसके अलावा उनकी परपोती एक दुर्घटना में घायल हो गई है, उसे भी इलाज की जरूरत है. सोनू सूद तक जैसे ही यह खबर पहुंची उन्होंने तुरंत ही मदद पंहुचा दी. इसके साथ ही सोनू सूद की पहुंची हुई टीम ने माझी के परिवार से वादा भी किया है कि वह परपोती के पैर के ऑपरेशन में भी मदद करेगी.

Dashrath-Manjhi

सोनू सूद की टीम ने कहा है कि, जब भी वह बच्ची को इलाज के लिए अस्पताल जाते हैं तो वह डॉक्टर से एक बार उनकी बात करा दें. इस ऑपरेशन में जो भी खर्चा आएगा, वह सीधे अस्पताल तक पहुंचा देंगे. बता दें कि शुक्रवार के दिन अभिनेता सोनू सूद को ट्विटर पर टैग करते हुए एक ट्वीट किया गया, ‘सोनू सूद सर, दशरथ मांझी को माउंटेन मैन के नाम से जाना जाता है. इनके ऊपर एक फिल्म भी बनाई गई है. उन्होंने अपने पत्नी के प्रेम में एक पहाड़ को चिर दिया था और सड़क बना डाली थी. आज उसी मांझी का परिवार खाने के लिए दाने-दाने को तरस रहा है. इन लोगों को आपकी मदद की जरुरत है.

sonu sood help dashrath manjhi family

इस ट्वीट के अगले दिन ही यानी शनिवार को सोनू ने जवाब देते हुए लिखा, आज से आपकी तंगी खत्म. आज ही हो जाएगा भाई और उसी शाम उनके घर तक मदद भी पहुंच गई. वहीं सोनू सूद तक मदद की गुहार लगाने वाले नंबरों पर फोन करने पर पता चला कि दशरथ के परिवार को शनिवार शाम को ही मदद पंहुचा दी गई थी.

sonu sood help dashrath manjhi family

गौरतलब है कि सोनू सूद लगातार लोगों की मदद कर रहे हैं. पहले लॉकडाउन में फंसे लोगों को उन्होंने घर तक पहुंचाया, उसके बाद किसी को ट्रैक्टर देना तो किसी को दवा पहुंचाने का काम उनकी टीम लगातार मदद कर रही है. सोनू सूद और उनकी टीम पिछले साल लगे लॉक डाउन के बाद से ही सक्रिय होकर लोगों की मदद कर रही है. सोनू अब तक हजारों लोगों की मदद कर चुके है. वह मेडिकल से लेकर लोगो तक राशन भी पंहुचा रहे है. साथ ही अनाथ बच्चों की पढाई का भी ध्यान रख रहे है.

Back to top button