बॉलीवुड

फिल्म “शोले” में सांभा बनकर मैक मोहन ने जीत लिया था सबका दिल, जानिए क्या करता है इनका परिवार

बॉलीवुड इंडस्ट्री में एक से बढ़कर एक कलाकार हैं, जिन्होंने अपने किरदार और बेहतरीन अभिनय के बलबूते दर्शकों के दिलों में एक खास जगह बनाई है। अगर हम 90 के दशक की बात करें तो उस दौर में भी ऐसे कई कलाकार रहे हैं, जिन्होंने अपने किरदार के माध्यम से लोगों को बेहद प्रभावित किया था। आज भी लोग उन किरदारों को याद करते हैं। उन्ही किरदारों में से एक किरदार “सांभा” का भी है। फिल्म ‘शोले” में सांभा के किरदार के लोग आज भी नहीं भुला पाए हैं।

फिल्म “शोले” में धर्मेंद्र, हेमा मालिनी, अमिताभ बच्चन, संजीव कपूर के किरदार को जितनी लोकप्रियता हासिल हुई है उतनी ही इस फिल्म में गब्बर और उनके दाहिने हाथ यानी कि सांभा को भी मिली है। फिल्म शोले में सांभा के किरदार को दर्शकों द्वारा काफी पसंद किया गया था। इस किरदार को मैक मोहन ने निभाया था।

सांभा के रोल में मैक मोहन को कभी न मिटने वाली पहचान दी थी। भले ही आज मैक मोहन हमारे बीच में मौजूद नहीं हैं परंतु फैंस उन्हें आज भी उनके शानदार अभिनय के लिए याद करते हैं और वह फैंस के दिलों में हमेशा जिंदा रहेंगे। मैक मोहन का जन्म 24 अप्रैल 1938 को हुआ था। अगर वह हमारे बीच आज जिंदा होते तो वह 83 साल के हो गए होते। आपको बता दें कि 10 मई 2010 को 72 वर्ष की आयु में मैक मोहन का निधन फेफड़ों के कैंसर की वजह से हुआ था।

अभिनेता मैक मोहन को सारी दुनिया इसी नाम से जानती है परंतु उनका असली नाम मोहन मक्किनी था लेकिन उन्हें शोहरत मैक मोहन के नाम से मिली है। जब उन्होंने इंडस्ट्री में अपना कदम रखा तो अपना नाम बदलकर मैक मोहन रख लिया था। पाकिस्तान के कराची शहर में जन्मे मैक मोहन के पिता ब्रिटिश आर्मी में कर्नल हुआ करते थे। मैक मोहन के पिता का ट्रांसफर कराची से लखनऊ हो गया था। मैक मोहन ने अपनी पढ़ाई लखनऊ से ही की। आपको बता दें कि बचपन में मैक मोहन एक क्रिकेटर बनना चाहते थे परंतु उनकी किस्मत में शायद कुछ और ही लिखा था। वह क्रिकेटर की जगह एक्टर बन गए।

मैक मोहन ने अपने बॉलीवुड करियर की शुरुआत साल 1964 में आई फिल्म “हकीकत” से की थी। अपने 46 साल के फिल्मी करियर में मैक मोहन ने लगभग 175 फिल्मों में काम किया परंतु मैक मोहन को सबसे ज्यादा लोकप्रियता फिल्म “शोले” के सांभा के किरदार से हासिल हुई थी। अगर हम मैक मोहन की निजी जिंदगी की बात करें तो साल 1986 में मैक मोहन ने मिनी मक्किनी के साथ विवाह किया था। शादी के बाद मैक मोहन और मिनी मक्किनी के तीन बचे हुए। उनकी दो बेटियां और एक बेटा है, जिनका नाम मंजरी मक्किनी, विनती मक्किनी और बेटा विक्रांत मक्किनी है।

मैक मोहन की बड़ी बेटी मंजरी है। उसने अपना करियर फिल्म डायरेक्शन में बनाया है। मंजरी ने “द लास्ट मार्बल” और “द कॉर्नर टेबल” जैसी फिल्मों का डायरेक्शन किया है। आपको बता दें कि मंजरी की शादी हो चुकी है और वह कैलिफोर्निया में अपने पति के साथ ही रहती हैं। वह समय निकाल कर अपने परिवार से मिलने के लिए मुंबई आती रहती हैं।

मैक मोहन की दूसरे नंबर वाली बेटी यानी विनीता अक्सर लाइमलाइट में बनी रहती हैं। विनीता सोशल मीडिया पर अधिक सक्रिय रहती हैं और वह अपने फैंस के बीच अपनी तस्वीरें शेयर करती रहती हैं, जिसे उनके फैंस बहुत पसंद करते हैं। बता दें विनीता एक अभिनेत्री, प्रोड्यूसर और स्क्रीन राइटर हैं।

अगर मैक मोहन के बेटे विक्रांत की बात की जाए तो वह भी एक अभिनेता हैं। उन्होंने मंजरी की फिल्म “द लास्ट मार्बल” में अभिनय किया है। आपको बता दें कि फिल्म शोले में सांभा की भूमिका निभाने वाले अभिनेता मैक मोहन बॉलीवुड की खूबसूरत अभिनेत्री रवीना टंडन के सगे मामा है, जिसके बारे में शायद ही किसी को मालूम होगा।

Back to top button