विशेष

राहुल गांधी ने किए वैष्णो देवी के दर्शन, इससे पहले इंदिरा गांधी की चर्चा में रही थी ये तस्वीर

चुनाव से पहले राहुल गांधी का धार्मिक दौरा, फ़िरों खान के पोते ने खुद को बताया कश्मीरी पंडित

देश भर में ऐसे बहुत से धार्मिक स्थल हैं, जो लोगों के बीच आस्था का केंद्र बने हुए हैं। इन्ही धार्मिक स्थलों में से एक मां वैष्णो देवी का दरबार है। जहां पर बड़े-बड़े अभिनेताओं से लेकर राजनेता तक दर्शन करने के लिए पहुंचते हैं। इसी बीच कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और सांसद राहुल गांधी भी माता वैष्णो देवी मंदिर में दर्शन करने के लिए गुरुवार को जम्मू पहुंचे और यहां पर रुकने के बाद राहुल गांधी जम्मू कश्मीर के कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ मुलाकात कर कई मुद्दों पर चर्चा भी करने वाले हैं।

आपको बता दें कि राहुल गांधी ने करीब 16 सालों के उपरांत माता वैष्णो देवी के दर्शन किए हैं। इससे पहले वह अपनी बहन प्रियंका के साथ साल 2005 में माता वैष्णो देवी के दर्शन करने के लिए आए थे। ऐसा बताया जा रहा है कि कटरा से वह पैदल चलकर वैष्णो देवी के मंदिर पहुंचे। इसी बीच राहुल गांधी की दादी और पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल हो रही है। जिसमें देखा जा सकता है कि पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी वैष्णो माता के दर्शन करने के बाद पवित्र गुफा से निकलती हुई नजर आ रही हैं और उनके माथे पर चुनरी भी बंधी हुई दिख रही है।

इंदिरा गांधी की वैष्णो देवी मंदिर की गुफा की तस्वीरें सोशल मीडिया से लेकर अखबारों तक छाई रहती हैं। दरअसल, यह तस्वीर उस समय की है जब 1970 में इंदिरा गांधी ने वैष्णो देवी मंदिर में माथा टेका था। तब इंदिरा गांधी देश की प्रधानमंत्री हुआ करती थीं। इससे पहले भी यह तस्वीर सोशल मीडिया पर कई बार वायरल हो चुकी है। उस समय के दौरान इंदिरा गांधी बेहद पावरफुल हो गई थीं।

मिली जानकारी के अनुसार, राहुल गांधी मां वैष्णो देवी भवन पहुंचकर सायँकाल आयोजित होने वाली मां वैष्णो देवी की दिव्य आरती में शामिल हुए। उसके बाद मां वैष्णो देवी की आराधना करने के उपरांत मां वैष्णो देवी के चरणों में हाजिरी लगाकर विशेष पूजा-अर्चना की। राहुल गांधी रात्रि भवन पर ही विश्राम करने के बाद शुक्रवार की सुबह भवन से कटरा की तरफ वापस आकर जम्मू के लिए रवाना हो गए।

आपको बता दें कि राहुल गांधी का मंदिरों का दौरा हाल ही के दिनों में हमेशा चर्चा का विषय बना हुआ है। गुजरात चुनाव के दौरान यह सिलसिला शुरू हुआ था और अभी तक यह सिलसिला लगातार बना हुआ है। गुजरात चुनाव के दौरान राहुल गांधी सोमनाथ मंदिर में दर्शन करने के लिए पहुंचे थे। वहीं बीते दिनों राहुल गांधी जम्मू कश्मीर के अपने दौरे पर खीर भवानी मंदिर भी गए थे और वहां पर उन्होंने माथा टेका था। ऐसा बताया जा रहा है कि जब राहुल गांधी से वैष्णो देवी मंदिर पहुंचने का कारण पूछा गया तो उन्होंने साफ शब्दों में यह कहा कि वह माता के दर्शन और प्रार्थना करने पहुंचे हैं। वहां पर वह कोई राजनीतिक टिप्पणी नहीं करेंगे।

आपको बता दें कि राहुल गांधी से इतर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा भी अपने राजनीतिक दौरे से इतर मंदिर में माथा टेकते दिखी हैं। असम चुनाव के दौरान कामाख्या देवी मंदिर हो या फिर उत्तर प्रदेश के दौरे के समय वाराणसी का काशी विश्वनाथ मंदिर या विन्ध्यवासिनी देवी मंदिर, प्रियंका गांधी वाड्रा इन पवित्र स्थलों पर माथा एक चुकी हैं।

Related Articles

Back to top button