विशेष

मुफ्त का खाना खाने निकली थी मैडम, बाद में एक थाली के देने पड़े पूरे 53 हजार रूपये

बड़ी-बड़ी होटलों का मुफ्त का खाना किसे अच्छा नहीं लगता. अगर खाना मनमुताबिक मिल जाए तो फिर क्या ही कहने. इंसान की भूख अपने आप ही बढ़ने लगती है. मगर ये मुफ्त की थाली आपको हजारों रुपये की पड़े तो क्या होगा. यक़ीनन आपके होश फाख्ता हो जाएंगे. ऐसा ही एक मामला सामने आया है. दरअसल मेरठ में स्कूल में पढ़ाने वाली एक मैडम के साथ कुछ ऐसा ही हुआ है. मुफ्त की थाली के चक्कर में मैडम के अकाउंट से लगभग 53 हजार रूपये उड़ गए है. अपने अकाउंट से अचानक इतना सारा पैसा जाने के बाद मैडम के होश उड़ गए. जब उन्हें इस ऑनलाइन ठगी का पता चला तो बेचारी शिकायत दर्ज कराने साइबर सेल पहुंची और जानकारी दी.

online fraud in meerut

आपको बता दें कि ऑनलाइन ठगी की वारदातें मेरठ और आसपास के जिलों में अब काफी बढ़ गई हैं. जानकारी के मुताबिक छिपी टैंक निवासी विनीता चौबे एक स्कूल में पढ़ाती है. उन्होंने बताया कि, उनकी फेसबुक आईडी पर एक होटल के नाम से खाने का ऑफर आया. इस ऑफर के तहत उन्हें एक थाली के साथ दो थालियां फ्री में मिल रही थी. वहीं मिलने वाली थाली के दाम सिर्फ 200 रूपये दर्शाए गए थे. थाली में खाने का मैन्यू दिए गए ऑफर के मुताबिक चुना जाना था. उन्होंने दिए गए लिंक पर क्लिक करके जानकारी दी. इसके कुछ ही देर में उनके पास एक कॉल आया और उन्हें ऑफर के बारे में बताया गया.

online fraud in meerut

इस दौरान कॉल पर वह साइबर ठग की बातों में आ गई और उन्होंने लिंक पर क्लिक कर दिया. पहली बार तो उनके अकाउंट से मात्र 10 रूपये काटे गए. लेकिन बाद में दो बार में 53 हजार रुपये कट गए. जब रूपये कटने का मेसेज उनके मोबाइल पर आया तो उनके होश उड़ गए. एटीएम में जाकर मिनी स्टेटमेंट में रकम उड़ाए जाने की पुष्टि हुई. इसके बाद उन्होंने फ़ौरन बैंक के कस्टमर केयर नंबर पर फोन कर अपना एकाउंट बंद करवाया. बाद में उन्होंने इसकी जानकरी साइबर सेल को दी.

online fraud in meerut

वहीं इस तरह के एक अन्य मामले में नौचंदी थाना क्षेत्र के वैशाली निवासी अमित ने बताया कि उसके पास भी रिश्तेदार बनकर एक व्यक्ति ने फोन किया था. उस व्यक्ति ने उनके अकाउंट में कुछ पैसे डालने की बात कही थी. मगर जब उस लिंक पर क्लीक किया गया तो उनके ही अकाउंट से 25 हजार रुपये कट गए. इस मामले में पीड़ित ने साइबर सेल में शिकायत दर्ज करवाई है.

साइबर सेल ने एक दिन में ही साइबर क्राइम की दो शिकायतें आने से इन मामलों को गंभीरता से लेते हुए जांच शुरू कर दी है. एक शिक्षिका के साथ जब इस तरह का क्राइम हो सकता है तो यक़ीनन आम आदमी भी इन प्रलोभन का शिकार बन सकता है. इसलिए ऑनलाइन आने वाले किसी भी प्रलोभन में न फसें. थोड़े से फायदें के चक्कर में आपका काफी नुकसान हो सकता है.

Back to top button