बॉलीवुड

लोगों को डिस्कों डांस करवाने वाले बप्‍पी लाहिड़ी ने क्या खो दी अपनी आवाज़, खुद सामने आकर दी सफाई

बीते ज़माने के जाने माने सिंगर और कंपोजर बप्‍पी लाहिड़ी (Bappi Lahiri) इन दिनों चर्चा में हैं. काफी दिनों से उनकी हेल्थ को लेकर खबरे सामने आ रही है. बताया जा रहा था कि 68 साल के बप्‍पी दा की सेहत ठीक नहीं है. इन खबरों में बताया गया कि 68 साल के बप्‍पी लाहिड़ी ने अपनी आवाज खो दी है. बप्‍पी लाहिड़ी की आवाज के चले जाने के बारे में सुनकर उनके चाहने वालों को जोर का झटका लगा है. अब सिंगर-कंपोजर बप्‍पी लाहिड़ी ने खुद बयान जारी कर इन अफवाहों को सिरे से खारिज कर दिया है. उन्होंने बताया कि, वह पूरी तरह से ठीक है.

 bappi lahiri

सिंगर ने अपने इंस्टाग्राम पर लिखा, मीडिया में अपने स्वास्थ्य के बारे में इन झूठी ख़बरों को देखकर मैं काफी परेशान हूँ. अपने चाहने वालों की दुआओं की वजह से मैं पूरी तरह स्वस्थ हूँ. उनकी इस पोस्‍ट के बाद उनके फैन्स को काफी सुकून मिला है. साथ ही उनके फैंस जमकर कमेंट्स भी कर रहे है. साथ ही उनके स्वस्थ रहने की कामना कर रहे है.

बप्पी दा के फैंस ने जाहिर किया गुस्सा

 bappi lahiri
अब बप्पी दा के फैंस ने इन ख़बरों पर अपना गुस्सा जाहिर किया है. कई सारे बॉलीवुड सितारों ने भी इस तरह की खबरों पर गुस्‍सा जाहिर किया है. बॉलीवुड सिंगर शान ने बप्‍पी दा के पोस्‍ट पर कमेंट करते हुए लिखा- ये बहुत बुरा है. बेवजह इस तरह की अफवाह कुछ लोगों
द्वारा फैलाई जा रही है. इसके अलावा सिंगर के एक फैन ने लिखा है, बप्पी दा हम आपसे बहुत अधिक प्रेम करते है, अभी आप 100 साल और जिएंगे. वहीं उनके एक अन्य फैन ने लिखा, आप ठीक है ये जानकर काफी ख़ुशी हुई. आप अपनी सेहत का ध्यान रखें. इसके अलावा उनके एक फैन ने लिखा, भगवान का शुक्र है कि आप स्वस्थ है. आपकी हेल्थ के बारे में जानकर आपकी चिंता होने लगी थी. वहीं एक यूज़र ने कमेंट किया, भगवान आपको खुश रखे, आप हमेशा हेल्दी रहे.

19 साल की उम्र में मुंबई आए थे बप्पी दा

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Bappi Lahiri (@bappilahiri_official_)

बता दें कि बप्पी लाहिड़ी बॉलीवुड गीतों में पॉप का तड़का लगाने के लिए जानें जाते है. उन्होंने भारतीय संगीत को एक नया टेस्ट दिया है. जब वह तीन साल के थे तो तबला बजाना सीखने लगे थे. उन्होंने छोटी सी उम्र से ही गीत-संगीत की तैयारी शुरू कर दी थी. बॉलीवुड के लीजेंड सिंगर किशोर कुमार उनके मामा थे और उन्‍हें ही बप्‍पी दा को म्यूजिक फीलिड में लाने का श्रेय दिया जाता है. बप्पी लाहिड़ी जब मात्र 19 वर्ष के थे तो कोलकाता से मुंबई रहने आ गए थे.

पहली बार उन्हें वर्ष 1973 में नन्‍हा शिकारी नाम की फिल्म में संगीत देने का मौका मिला. मगर उन्हें देश भर में पहचान 1975 में आई फ‍िल्‍म जख्‍मी से मिली थी. इस फिल्म में उन्हें मामा किशोर कुमार और मो. रफी के साथ गाना गाने का मौका मिला था.

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Bappi Lahiri (@bappilahiri_official_)

गौरतलब है कि वरिष्ठ संगीतकार को इस साल की शुरुआत में अप्रैल में एहतियात के तौर पर अस्पताल में भर्ती कराया गया था. उस समय उन्हें कोविड हो गया था. मगर अब भी वह कुछ बिमारियों से पीड़ित है.

Back to top button