विशेष

छोटी सी उम्र में कचौड़ी बेचने पर मजबूर 14 साल का बच्चा, वीडियो देख इमोशनल हुए लोग

देश में कोरोना महामारी की वजह से लाखों लोगों की कमाई का जरिया बंद हो गया। कोरोना के चलते किसी ने अपने परिवार को गंवाया तो किसी को अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ा। इसके बाद कई लोगों ने अपना गुजर-बसर करने के लिए छोटे-मोटे धंधे शुरू किए। इतना ही नहीं बल्कि घर की हालत देखकर कई बच्चे भी काम करने के लिए मजबूर हो रहे हैं। ऐसा ही एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। वीडियो में एक छोटा बच्चा कचौड़िया बेच रहा है। कहा जा रहा है कि, घर के हालात ठीक नहीं होने की वजह से बच्चे ने कचौड़ी बेचना शुरू कर दिया।

बता दें, यह कहानी अहमदाबाद के एक 14 साल की उम्र के लड़के की है। खबरों की माने तो कोरोना कहर की वजह से इस बच्चे की परिवार की आर्थिक स्थिति काफी बिगड़ चुकी है। इसके बाद बच्चे ने अपनी स्कूटी पर ही दही कचौड़ी का एक छोटा सा स्टॉल लगाया और 10 रुपए में कचौड़िया बेचना शुरू कर दिया। इसी दौरान किसी ने बच्चे का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर शेयर कर दिया जो देखते ही देखते वायरल हो गया। वायरल होते ही बच्चे की मदद करने के लिए भारी संख्या में भीड़ जुट गई और हर कोई उसकी मदद करने के लिए आगे आया।

कई सोशल मीडिया यूजर्स ने भी इस बच्चे की मदद के लिए अपील की। जिसके बाद कई लोग बच्चे के स्टॉल पर कचौड़ी खाने के लिए आए। बता दें, इस बच्चें ने अपना कचौड़ी का स्टॉल गुजरात के अहमदाबाद के मणिनगर रेलवे स्टेशन के पास लगाया हुआ है। बच्चे की वीडियो एक ट्विटर यूजर ने भी शेयर की है। उन्होंने इस वीडियो के साथ कैप्शन में लिखा कि, “अगर कोई अहमदाबाद से हैं तो कृपया जाए और इस बच्चे की मदद करें।”


इसके अलावा 22 सितंबर को विशाल नाम के टि्वटर यूजर ने भी बच्चे का वीडियो शेयर किया था। इन्होंने कैप्शन में लिखा कि, “हो सके तो मदद करें यह सिर्फ 14 साल का है और 10 रुपए में दही कचौड़ी खिलाता है। लोकेशन-मणिनगर रेलवे स्टेशन अहमदाबाद। इस मासूम का उद्देश्य अपने परिवार की मदद करना है। ऐसे बच्चे पर गर्व है ज्यादा से ज्यादा शेयर और मदद करें।” बता दें, इंटरनेट पर जैसे ही इस बच्चे की कहानी वायरल हुई तो अहमदाबाद के कई लोग कचौड़ी खाने के बहाने मदद के लिए पहुंच गए।

dahi kachori

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, इससे पहले तेलंगाना के एक 12 साल की उम्र के बच्चे का भी वीडियो सोशल मीडिया पर बड़ी तेजी से वायरल हुआ था। इस बच्चे की तारीफ न सिर्फ सोशल मीडिया यूजर्स ने की थी बल्कि राज्य के मंत्री केटी रामा राव ने भी खूब तारीफ की थी। इस बच्चे का नाम जयप्रकाश है जो अखबार बांटने का काम करता है। इस बच्चे से जब पूछा गया कि आप इतनी छोटी सी उम्र में यह काम क्यों कर रहे हो? तो बच्चे ने कहा कि, “मेहनत करने में कुछ भी गलत नहीं है। यह मेरे भविष्य के लिए बेहतर है जो आगे काम आएगा। पढ़ाई के साथ-साथ काम करने में कोई बुराई नहीं है।”


गौरतलब है कि, इससे पहले ‘बाबा का ढाबा’ का वीडियो भी खूब वायरल हुआ था जिसके बाद भारी संख्या में लोग बाबा की मदद करने के लिए पहुंचे थे। हालांकि मदद के बाद बाबा के तेवर काफी बढ़ गए थे, उसके बाद उनका धंधा फिर से ठप हो गया था।

baba ka dhaba

Back to top button