बॉलीवुड

कलाई काटी, खुद को सिगरेट से जलाया, मौत वाले दिन भी पी थी शराब, मां ने खोले दिव्या भारती के राज

दिव्या भारती एक ऐसी भारतीय फिल्म अभिनेत्री थीं, जिन्होंने 90 के दशक की शुरुआत में कई सफल हिंदी फिल्मों में अभिनय किया था। दिव्या भारती बहुत कम समय में खुद को 90 के दशक की प्रमुख अभिनेत्री के रूप में स्थापित करने में कामयाब रही थीं। भले ही दिव्या भारती अब हमारे बीच में नहीं रहीं परंतु उन्होंने अपने छोटे से फिल्मी करियर में अच्छी खासी लोकप्रियता हासिल की। महज 19 साल की उम्र तक दिव्या भारती ने 20 फिल्मों में अभिनय किया था।

25 फरवरी 1974 को मुंबई महाराष्ट्र में जन्मी दिव्या भारती ने महज 14 साल की उम्र से ही फिल्मों में काम करना शुरू कर दिया था। आपको बता दें कि दिव्या भारती का जन्म मुंबई के ओम प्रकाश भारती के घर में हुआ था, जो एक बीमा अधिकारी थे और उनकी पत्नी का मीता भारती था। दिव्या भारती बचपन में बहुत चुलबुली स्वभाव की थीं, जिसकी वजह से सब उन्हें प्यार से गुड़िया कहा करते थे।

दिव्या भारती ने बहुत छोटी उम्र से ही फिल्मों में प्रयास शुरू कर दिया था और कई असफल प्रयासों के बाद, साल 1990 में 16 साल की उम्र में दिव्या ने अपनी पहली तेलुगु फिल्म “बोब्बिली राजा” से डेब्यू किया था। साल 1992 में रिलीज हुई फिल्म “विश्वात्मा” से दिव्या भारती को बेहतरीन सफलता हासिल हुई थी, जिसके बाद उनका नाम बॉलीवुड इंडस्ट्री की जानी-मानी अभिनेत्रियों के लिस्ट में शुमार हो गया था, जिसके बाद दिव्या भारती ने पीछे मुड़कर नहीं देखा।

दिव्या भारती अपने महज 3 साल के करियर में डायरेक्टर्स की पसंदीदा अभिनेत्री बन चुकी थीं। दिव्या भारती ने “शोला और शबनम”, “दीवाना” जैसी कई सफल फिल्मों में अभिनय किया और लोग उनके अभिनय के साथ-साथ उनकी खूबसूरती के भी दीवाने हो गए थे। दिव्या भारती ने जितनी जल्दी फिल्मों में काम किया और जितनी जल्दी सफलता हासिल की, उतनी ही जल्दी उन्होंने शादी भी की थी परंतु बहुत ही जल्द वह दुनिया को छोड़ कर चली गई थीं।

आपको बता दें कि 5 अप्रैल 1993 को दिव्या भारती अपने अपार्टमेंट की 5 फ्लोर की बालकनी से गिर गई, जिसके बाद एक बेहद प्रतिभावान और खूबसूरत अदाकारा इस दुनिया को अलविदा कह कर चली गई थी परंतु इनकी मौत आत्महत्या थी या दुर्घटना, यह अभी तक रहस्य बना हुआ है। कई मीडिया रिपोर्ट्स का दावा है कि दिव्या भारती का निधन अपार्टमेंट की बिल्डिंग से गिरने से हुआ था। वहीं शक की सुई उनके पति रहे साजिद नाडियावाला पर घूमी थी। बता दें कि दिव्या भारती और साजिद नाडियावाला साल 1992 में विवाह के बंधन में बंधे थे।

जब दिव्या भारती का निधन हो गया तो उसके बाद उनकी मां ने दिव्या को लेकर कई चौंका देने वाले खुलासे किए थे। एक इंटरव्यू के दौरान दिव्या भारती के माँ ने यह बताया था कि हादसे वाले दिन दिव्या ने रम पी थी लेकिन वह ड्रक्स नहीं लेती थी। दिव्या भारती की मां ने इस बात को भी स्वीकार किया था कि दिव्या गुस्से में खुद को ही नुकसान पहुंचा देती थी। उन्होंने कहा कि मौत से कुछ दिनों पहले ही वह खुद को हर्ट कर रही थी।

दिव्या भारती की मां मीता भारती ने कहा था कि एक बार तो दिव्या ने अपनी कलाई तक काट ली थी. जबकि उन्होंने अपने हाथ भी सिगरेट से जला दिए थे। कलाई पर कट के निशान थे। दिव्या की माँ मीता भारती ने कहा था कि “अपनी बेटी की मौत के सदमे में मैंने कई साल तनाव में गुजारे हैं।”

वहीं एक इंटरव्यू के दौरान साजिद ने यह कहा था कि वह हमेशा पर्स में दिव्या की तस्वीर रखते हैं। उनके घर में आज भी दिव्या वही सम्मान है। जबकि उनके बच्चे दिव्या को बड़ी मां का दर्जा देते हैं और उन्हें इसी नाम से बुलाते हैं।

Back to top button