मनोरंजनविशेष

बच्चों को स्कूल भेजकर मम्मी-पापा बनाने लगते थे पोर्न फिल्में, ऐसे सामने आई असलियत

भगवान की तरफ से दिया गया सबसे कीमती उपहार माता-पिता होते हैं। हर किसी मनुष्य के जीवन में माता-पिता का स्थान भगवान ने से पहले आता है। माता-पिता पूजनीय होते हैं। हर माता-पिता अपने बच्चों को निस्वार्थ भाव से प्यार देते हैं और उनकी हर खुशी का पूरा-पूरा ख्याल रखते हैं।

अपने बच्चों की खुशियों के लिए माता-पिता अपनी खुशियों का त्याग भी कर देते हैं। चाहे बच्चे कितने भी बड़े हो जाएं परंतु जीवन भर वह अपने माता-पिता के लिए छोटे ही रहते हैं और माता-पिता अपने बच्चों को उम्र भर एक जैसा ही प्यार देते हैं। वहीं हर बच्चे के लिए उनके माता-पिता रोल मॉडल होते हैं। बच्चे हमेशा से ही आगे चलकर अपने माता-पिता की तरह ही बनना चाहते हैं।

अक्सर देखा गया है कि कई मामलों में माता-पिता की वजह से बच्चों को शर्मिंदगी का सामना भी करना पड़ जाता है। आए दिन इस तरह की बहुत सी खबरें सुनने और देखने को मिल जाती हैं। इसी बीच आज हम आपको एक ऐसी खबर बताने जा रहे हैं जिसमें माता-पिता अपने बच्चों को स्कूल भेजकर घर पर ही पोर्न फिल्म बनाते थे और वह इन फिल्मों के माध्यम से पैसा कमा रहे हैं। इन दिनों यह खबर चर्चा का विषय बनी हुई है।

दरअसल, हम आपको जिस खबर के बारे में जानकारी दे रहे हैं यह इंग्लैंड की है, जहां पर रहने वाले एक कपल की चर्चा हर कोई कर रहा है। यह कपल करोड़पतियों की लिस्ट में शामिल है और इस कपल के बच्चे साउथएन्ड के महंगे स्कूल में पढ़ाई करते हैं परंतु बच्चों को यह बात मालूम नहीं थी कि उसके माता-पिता इतना ढेर सारा पैसा किसके जरिए कमा रहे हैं। साउथएन्ड (Southend) में रहने वाले जेस (Jess) और माइक मिलर (Mike Miller) अपने बच्चों को स्कूल भेजने के बाद अपने काम पर लग जाया करते थे।

जेस (Jess) और माइक मिलर (Mike Miller) पोर्न फिल्में बनाने का काम था। जैसे ही उनके बच्चे स्कूल चले जाते थे तो घर पर ही वह अश्लील फिल्में बनाना शुरु कर देते थे। इन फिल्मों के माध्यम से उन्होंने लगभग 5 करोड़ रुपए की मोटी कमाई कर ली थी परंतु बच्चों को यह जानकारी नहीं थी कि आखिर उनके माता-पिता यह काम करते हैं। बच्चों को अपने माता-पिता की असलियत उस समय पता लगी जब बच्चों के स्कूल के पैरंट्स ने उन्हें असलियत बताई थी। पहले तो बच्चों को भरोसा नहीं हुआ परंतु जब बाद में सबूत के तौर पर वीडियोस देखा तो उनको भरोसा हो गया था।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, जेस (32) और माइक मिलर (33) पोर्न फिल्में बनाकर करोड़ों रुपए की कमाई किया करते थे परंतु उन्होंने अपने बच्चों से सच्चाई छुपा कर रखी थी। बच्चों की नजर में वह मेकअप आर्टिस्ट और इवेंट मैनेजर थे परंतु असलियत कुछ और ही थी। जैसे ही बच्चे घर से बाहर चले जाते थे तो वह घर पर ही अश्लील फिल्मों की शूटिंग करने लगते थे। जो भी इन फिल्मों के माध्यम से कमाई हुआ करती थी, उन पैसों से यह कपल महंगी महंगी गाड़ियां और घर खरीदा करता था परंतु माता-पिता के काम के बारे में बच्चों के सामने असलियत उनके स्कूल में खुल गई।

दरअसल, स्कूल के अंदर पढ़ने वाले दूसरों बच्चों के कुछ माता-पिता ने उनके मां-बाप के वीडियोस देखे थे, जिसके बारे में उन्होंने जेस और मिलेर के बच्चों को बताया। पहले तो बच्चों को यकीन नहीं हुआ लेकिन जब सबूत के तौर पर उन्होंने वीडियो देखा तो उनको यकीन हो गया। शुरुआत में तो उन्हें बहुत दिक्कत हुई थी लेकिन बाद में उन्होंने अपने माता-पिता का पूरा सपोर्ट किया। बच्चों का सपोर्ट मिलने के बाद अब कपल अपने काम को अच्छे से कर पा रहे हैं और और खूब मोटा पैसा कमाते हैं।

Back to top button