बॉलीवुडविशेष

कुछ ऐसे थे सुशांत के 50 सपने, पढ़िए पूरी लिस्ट

रविवार से ही सोशल मीडिया पर सुशांत सिंह राजपूत की बातें और यादें खूब वायरल हो रही हैं। उनकी आखिरी पोस्ट से लेकर पुरानी पोस्ट भी लगातार शेयर की जा रही हैं। ऐसी ही एक पोस्ट सुशांत के सपनों की तिजोरी खोलती नजर आई है। दरअसल सुशांत सिंह राजपूत ने अपने सोशल मीडिया पर अपनी बकेट लिस्ट ‘MY 50 DREAMS & COUNTING! 123…’ कैप्शन के साथ शेयर की थी। जो उनके जाने के बाद खूब वायरल हो रही है।

सुशांत के 50 सपने-

अपनी इस पोस्ट में सुशांत ने मरने से पहले 50 सपनों को पूरा करने की लिस्ट बनाई थी। फिल्मों से जुड़े सुशांत के सपने तो पूरे हो ही रहे थे पर कुछ ऐसे सपने भी थे जो फिल्म जगत से बिल्कुल परे थे। एक्टिंग की दुनिया में अपने पैर जमा चुके सुशांत अपनी ज़िंदगी में कई काम करना चाहते थे। 14 सितंबर 2019 को उन्होंने सोशल मीडिया अकाउंट में अपने इन्हीं सपनों के बारे में खुलकर बात की थी। अपनी बकेट लिस्ट अपने जीवन में पूरा करने का ख्वाब देखने वाले सुशांत की इच्छाओं में अंतरिक्ष से उनका लगाव साफ़ झलकता था।

पहले पन्ने की पहली 7 इच्छाएं-

सुशांत की ओर से शेयर की गई बकेट लिस्ट के पहले पन्ने में 7 सपने लिखे हुए थे।

  1. हवाई जहाज़ उड़ाना सीखना,
  2. आयरनमैन ट्राएथलॉन के लिए तैयारी करना,
  3. बांए हाथ से क्रिकेट मैच खेलना,
  4. मोर्स कोड सीखना,
  5. बच्चों को स्पेस के बारे में सीखने में मदद करना,
  6. चैंपियन के साथ टेनिस खेलना
  7. और फोर क्लैप पुशअप करना सुशांत की लिस्ट की पहली 7 इच्छाएं थीं।

अंतरिक्ष और ग्रहों में थी ख़ास रुचि

अपने अभिनय और मुसकान से पहचाने जाने वाले सुशांत के सपनों का दूसरा पन्ना उनकी अंतरिक्ष और ग्रहों में रुचि को साफ दर्शाता है। इसलिए दूसरे पन्ने का पहला सपना ही एक हफ्ते में चांद, मंगल, बृहस्पति और शनि ग्रह को उनकी कक्षा में घूमते हुए मॉनिटर करना था।

इसके अलावा

  1. ब्लू होल में गोता लगाना,
  2. डबल स्लिट एक्सपेरिमेंट को एक बार करके देखना,
  3. 1 हजार पेड़ लगाना,
  4. डेल्ही कॉलेज ऑफ़ इंजीनियरिंग के होस्टल में एक शाम बिताना,
  5. 100 बच्चों को इसरो या नासा में वर्कशॉप के लिए भेजना
  6. और कैलाश में मेडिटेशन करना सुशांत की फ़ेहरिश्त के अगले 7 सपने थे।

किताबों का शौक रखने वाले ख़ुद भी लिखना चाहते थे किताब

  1. चैंपियन के साथ पोकर खेलना,
  2. किताब लिखना,
  3. सर्न की लैब देखने जाना,
  4. ध्रुवीय रोशनी को देखते हुए पेंट करना,
  5. नासा का एक और वर्कशॉप अटेंड करना,
  6. 6 महीने में सिक्स पैक एब्स बनाना,
  7. सेनोटेस में तैराकी करना,
  8. नेत्रहीनों को कोडिंग सिखाना,
  9. जंगल में एक हफ्ता गुज़ारना,
  10. वैदिक ज्योतिषशास्त्र को समझना,
  11. डिज़्नीलैंड देखना तीसरे पन्ने की में लिखी कुछ और ख्वाहिशें थीं।

विशाल टेलिस्कोप से एंड्रोमेडा गैलेक्सी भी देखना चाहते थे सुशांत

सुशांत के सपनों की लिस्ट काफी लंबी थी।

  1. वो लोगो विज़िट करना चाहते थे,
  2. एक घोड़ा पालना,
  3. दस तरह के डांस फॉर्म सीखना,
  4. फ्री एजुकेशन के लिए काम करना,
  5. विशाल टेलिस्कोप से एंड्रोमेडा गैलेक्सी देखना और उसका अध्ययन करना,
  6. क्रिया योग सीखना,
  7. अंटार्कटिका घूमने जाना,
  8. महिलाओं की स्वरक्षा की ट्रेनिंग के लिए मदद करना
  9. और सक्रिय ज्वालामुखी को कैमरे में कैद करना सुशांत के सपनों का चौथा पन्ना था।

 

50 गानों को गिटार पर सीखना भी था सपना

पांचवां पन्ना 8 और सपनों से भरा था।

  1. खेती सीखना
  2. बच्चों को डांस सिखाना
  3. दोनों हाथों से एक जैसी तीरंदाज़ी करना
  4. रेसनिक-हेलिडे की मशहूर भौतिकी की किताब पूरी पढ़ना
  5. पॉलिनेशन एस्ट्रोनॉमी को समझना
  6. मशहूर 50 गानों को गिटार पर बजाना सीखना
  7. चैँपियन के साथ शतरंज की बिसात पर बैठना
  8. लैँबर्गिनी खरीदना

आखिरी पन्ना और आखिरी 9 सपने…

आखिरी पन्ने में सुशांत के आखिरी 9 सपने लिखे थे।

  1. जिनमें वियना में सेंट स्टिफन कैथेड्रेल जाना,
  2. विजिबल साउंड और वाइब्रेशन के प्रयोग करना,
  3. इंडियन डिफेंस फोर्सेज़ के लिए बच्चों को तैयार करना,
  4. स्वामी विवेकानंद पर एक डॉक्यूमेंट्री बनाना,
  5. सर्फ बोर्ड पर लहरों से खेलना
  6. आर्टिफिशीअल इंटोलिजेंस पर काम करना,
  7. ब्राजिल का डांस
  8. मार्शल आर्ट फ़ॉर्म सीखना
  9. और ट्रेन में बैठकर पूरा यूरोप घूमना शामिल था।

काबिल-ए-गौर है कि, इन 50 सपनों में से सुशांत ने 11 सपने पूरे कर दिए थे पर अब ना तो उन सपनों को देखने वाली वो आंखें है और ना ही उन्हें पूरा करने वाले सुशांत। रविवार को सुशांत अपने बांद्रा वाले घर में मृत पाए गए। जिस के बाद सोमवार को उन्हें अंतिम विदाई दी गई।

Related Articles

Back to top button