धार्मिक

क्या नारियल का बीज खाने से सच में होती है पुत्र की प्राप्ति? जानिए क्या कहती हैं मान्यताएं

अक्सर देखा गया है कि बहुत से लोग ऐसे हैं जो लड़की से ज्यादा लड़के की इच्छा रखते हैं। वैसे तो आजकल लड़का और लड़की दोनों एक समान हैं। लड़कियां भी किसी मामले में लड़कों से बिल्कुल भी पीछे नहीं है परंतु इसके बावजूद भी कई लोग पुत्र प्राप्ति की इच्छा के लिए तरह-तरह के उपाय अपनाते हैं।

पुत्र प्राप्ति को लेकर ऐसी कई मान्यताएं हैं, जिसमें से एक नारियल के बीज की भी मान्यता है। जी हां, ऐसा माना जाता है कि जिसे संतान सुख की प्राप्ति नहीं हो रही है या जो पुत्र प्राप्ति करना चाहता है। वह नारियल के बीज का प्रयोग कर पूर्ण विधि से संतान सुख की प्राप्ति कर सकता है।

आपको बता दें कि नारियल को श्रीफल के नाम से भी जानते हैं। नारियल का इस्तेमाल पूजा-पाठ और धार्मिक कामों में किया जाता है। नारियल को बहुत पवित्र माना गया है। कुछ नारियल ऐसे भी होते हैं, जिनके अंदर से बीज निकलते हैं, जिसको भगवान शिव जी का आशीर्वाद माना जाता है।

अगर किसी को पुत्र प्राप्ति की इच्छा है तो नारियल के बीज से सोमवार के दिन एक उपाय करना होगा। आप सोमवार के दिन प्रातः काल जल्दी उठ जाएं। इसकसे पश्चात स्नान आदि से निवृत्त होने के पश्चात साफ-सुथरे कपड़े धारण कर लीजिए। उसके बाद “ओम नमः शिवाय” मंत्र की एक माला जाप करें।

इसके बाद भगवान शिव जी से अपने मन की बात कहिए। अब आपको नारियल शिवलिंग के पास अर्पित करना होगा। आप यहां देसी घी का एक दीपक जलाएं और ओम नमः शिवाय मंत्र से भगवान शिव जी की श्रद्धापूर्वक पूजा-पाठ कीजिए।

जब आप इतना सब कुछ कर लें तो उसके पश्चात नारियल बीज को भगवान शिव जी के पास रखना होगा। अगर नारियल के अंदर बीज नहीं है तो ऐसी स्थिति में आप सिर्फ नारियल को भी शिवलिंग के पास रख सकते हैं। धर्म शास्त्रों के अनुसार, नारियल और नारियल के बीज को शिवलिंग पर अर्पित करने के महत्व के बारे में बताया गया है। उसके बाद आप शाम के समय नारियल या इसके बीज को गंगाजल के पात्र में डाल दीजिए।

अब आपको अगले दिन यानी कि मंगलवार के दिन नारियल के इस बीज को हनुमान जी का ध्यान करते हुए निहार मुंह गाय के दूध के साथ खा लीजिए परंतु आपको इस बात का विशेष ध्यान रखना होगा कि आपको नारियल का बीज सीधा और साबित निकलना होगा। आप नारियल के बीज को ना चबाएं। सोमवार के दिन सुबह यह उपाय किया जा सकता है। अगर आपसे भूल चूक हो जाती है और आप सुबह के समय पूजा पाठ पर लेते हैं तो ऐसी स्थिति में आप इस उपाय को शाम को भी कर सकते हैं।

नोट- उपरोक्त आपको जो भी जानकारी दी गई है, यह सब मान्यताओं पर आधारित है। हमारे द्वारा इस उपाय की पुष्टि नहीं की जाती है। जिन लोगों को लाख कोशिशों के बावजूद भी संतान सुख की प्राप्ति नहीं हो पा रही है। यह उपाय वह लोग अपना सकते हैं।

वैसे आजकल के जमाने में लड़का-लड़की एक समान हैं। इसी वजह से आपकी नियत संतान प्राप्ति की होनी चाहिए, आप सिर्फ पुत्र प्राप्ति की इच्छा ना करें क्योंकि बेटियां भी बेटों से किसी मामले में पीछे नहीं हैं।

Related Articles

Back to top button