बॉलीवुडमनोरंजन

14 साल की लड़की के प्यार में दीवाने हो गए थे अमज़द, कहा- जल्दी बड़ी हो जाओं, तुमसे शादी करनी है

बॉलीवुड की दुनिया में वैसे तो कई ऐसे विलन्स हैं जिनकी शानदार एक्टिंग लोगों को पसंद आई है लेकिन इसी इंडस्ट्री में कुछ ऐसे भी खलनायक हुए हैं जिनका अभिनय और जिनके किरदार हमेशा के लिए अमर हो गए। इन्ही में से एक हैं हिंदी सिनेमा के गब्बर सिंह यानी अमजद खान। भले ही अमजद आज हम सभी के बीच ना हो लेकिन वह अपनी शानदार अदाकारी के जरिये हमेशा लोगों के दिलों में बसे रहेंगे। अमजद खान के जीवन के कई रहस्य है जिनके बारे मे बहुत से व्यक्ति अंजान है और इन्ही रहस्यों में से एक हैं उनकी प्रेम कहानी।

जल्दी बड़ी हो जाओ तुमसे शादी करना है…

ढेरों हिट फिल्में देने वाले अमजद खान की लव लाइफ इतनी दिलचस्प हैं कि हर कोई उनकी प्रेम कहानी सुनकर डूब जाता है। शेहला खान और अमजद मुंबई के बांद्रा में एक-दूसरे के पड़ोसी थे। वह एक-दूसरे के साथ खेलने जाया करते थे। दोनों कॉलेज में भी साथ थे। धीरे-धीरे अमजद को शेहला से प्यार हो गया। इसी बीच अमजद ने एक दिन शेहला से पूछा कि तुम्हारी उम्र क्या है? तब शेहला ने उन्होनें 14 साल बताया। तब अमजद ने कहा कि, ‘तुम जल्दी बड़ी हो जाओ मैं तुमसे शादी करना चाहता हूं।’

भेजा था शादी का प्रपोजल

खुद शेहला ने इस बात का जिक्र करते हुए इंटरव्यू में कहा था कि, इस घटना के बाद अमजद ने मेरे घर पर शादी का प्रस्ताव भी भेजा था लेकिन मेरी उम्र उस समय छोटी थी। इसीलिए घर वालों ने इस शादी के लिए मना कर दिया था। लेकिन हम दोनों का प्यार बरकरार रहा। इसके बाद शेहला को आगे की पढ़ाई पूरी करने के लिए अलीगढ़ भेज दिया, ताकि दोनों काफी दूर रहें, लेकिन अमजद का प्यार उन्हे फिर से मुंबई ले आया।

छुपकर मिलते रहे

कई सालों तक दोनों एक-दूसरे से छुप-छुपकर मिलते रहे और फिर एक दिन दोनों के घर वालों ने उनके रिश्ते को स्वीकार लिया। जिसके बाद उन्होने 1972 में शादी हो गई। जिस दिन 1973 में बड़े बेटे शादाब के जन्म के दिन ही अमजद खान को शोले में गब्बर का रोल भी मिला था।

विरासत में मिला अभिनय

बता दें, अमजद खान को अभिनय विरासत में मिला है। उनके पिता जकारिया खान ने भी कई सारी फिल्मों में खलनायक की भूमिका निभाई थी, उन्ही को देखकर अमजद ने भी अभिनय की दुनिया में कदम रखा। फिल्म ‘शोले’ ने अमजद खान की किस्मत रातों-रात बदल दी। उनके गब्बर के किरदार को लोगों ने खूब पसंद किया। उन्होंने ‘शोले’ के अलावा ‘लावारिस’, ‘हीरालाल-पन्नालाल’, ‘मुकद्दर का सिकंदर’, ‘परवरिश’ जैसी और भी कई बड़ी फिल्मों में काम किया।

48 की उम्र में हुई मौत

27 जुलाई 1992 का वो मनहूस दिन भी आया जब वो इस दुनिया को अलविदा कह गए। दरअसल हर दिन की तरह ही अमजद खान को शाम 7 बजे किसी से मिलना था और वो तैयार होने के लिए अपने कमरे में गए थे, जहां उनकी दिल का दौरा पड़ने की वजह से महज 48 की उम्र में मौत हो गई थी।

Related Articles

Back to top button