अजब ग़जब

पिता ने बेटियों की विदाई के समय पूरा किया बचपन का सपना, हेलीकॉप्टर से भेजा ससुराल

एक पिता का सबसे बड़ा सपना होता है कि वो अपने बच्चों के सारे सपनों को पूरा करे। इसके लिए पिता जीतोड़ मेहनत करता है। इन दिनों एक ऐसा ही मामला चर्चा में बना हुआ है, जहां एक पिता ने अपनी बेटियों के हेलीकॉप्टर में बैठने का सपना पूरा किया।

पिता ने बेटियों को दिया सरप्राइस

यह मामला राजस्थान के झुंझुनूं से सामने आया है। यहां खेदड़ों की ढाणी में सुरेश खेदड़ नामक व्यक्ति ने अपनी दो बेटियों डॉ. पूनम खेदड़ और डॉ. प्रियंका खेदड़ का बचपन का सपना पूरा किया। दरअसल, प्रियंका और पूनम की हमेशा से वे कभी हेलीकॉप्टर में बैठेगी।

पिता अपनी बेटियों की इच्छा के बारे में शुरुआत से पता था। जब दोनों बेटियों ने पढ़कर और आयुर्वेद में चिकित्सक बनकर अपने पिता का नाम रोशन किया तो पिता ने भी अपनी बेटियों का सपना पूरा करने का सरप्राइस दे दिया।

देखने को जुटी भीड़

जानकारी के मुताबिक, सुरेश खेदड़ की दोनों बेटियों की शादी बुहाना के पास ढाकामांडी गांव के दो भाइयों डॉ. हेमंत और अनुरोग के साथ तय हुई। शादी के बाद जब विदाई का समय आया तो पिता सुरेश खेदड़ ने दोनों बेटियों को हैलिकॉप्टर से विदा करने का सरप्राइज दिया तो दोनों को काफी खुशी हुई। हेलीकॉप्टर से हुई इस अनोखी विदाई को देखने के लिए लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा।

बेटियों को माता-पिता पर गर्व

इस बारे में बेटियों ने कहा कि, ”हमारे लिए यह बड़ी ही फक्र की बात है कि हमारे माता-पिता ने हम दोनों बहनों की हेलीकॉप्टर से विदाई की। यह हमारे लिए बहुत बड़ा सरप्राइज था, हमें अपने माता-पिता पर गर्व हैं। जो हेलीकॉप्टर से विदाई देकर हमें ससुराल में भेज रहे हैं। हर माता-पिता की इच्छा होती है कि वह अपने बच्चों के सभी सपने पूरे करें।”

शिक्षा क्षेत्र से जुड़ा पूरा परिवार

दुल्हन का पूरा परिवार शिक्षा के क्षेत्र से जुड़ा हुआ है। पूनम और प्रियंका के पिता सुरेश खेदड़ सूरजगढ़ कस्बे में निजी शिक्षण संस्थान चलाते हैं। उनके चाचा और चाची भी निजी स्कूल का संचालन करते हैं।

वहीं दूसरे दुल्हे पक्ष में पिता हरिसिंह ढाका सरकारी स्कूल में पीटीआई के रूप में कार्यरत हैं और बुहाना निकटवर्ती ढाकामांडी निवासी दुल्हा डॉ. हेमन्त असिस्टेंट प्रोफेसर है। जबकि अनुराग आयुर्वेदिक चिकित्सक की पढ़ाई कर रहा है।

हेलीकॉप्टर से दुल्हन ले गया दूल्हा

इससे पहले कन्नौज जिले में भी एक दुल्हन की हेलीकाप्टर से विदाई हुई थी। यहां एक दूल्हा अपनी दुल्हन को हेलिकॉप्टर से विदा कराकर लेकर गया। दूल्हे के पिता ने बताया कि, उनके बेटे की दिली इच्छा थी उसकी दुल्हन मंडप से हेलिकॉप्टर में विदा होकर घर आए। पिता ने बेटे की ख्वाहिश को पूरा करने के लिए लाखों रुपये खर्च कर दिए।

Related Articles

Back to top button