बॉलीवुड

नहीं रही स्वर कोकिला लता मंगेशकर, 92 साल की उम्र में ली अंतिम सांस

भारत की स्वर कोकिला कही जाने वाली मशहूर गायिका लता मंगेशकर का निधन हो गया है। लता मंगेशकर लगभग 1 महीने से बीमार चल रही थी, ऐसे में उन्हें 8 जनवरी को ही मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां उनका लगातार इलाज चल रहा था।

lata mangeshkar

लता मंगेशकर को कोरोना के साथ-साथ निमोनिया भी हो गया था ,ऐसे में उन्हें डॉक्टर ने आईसीयू में एडमिट किया था, इसके बावजूद उन्होंने दुनिया को अलविदा कह दिया। 92 साल की लता मंगेशकर ने 6 फरवरी की सुबह अंतिम सांस ली। बता दे लता मंगेशकर के निधन से बॉलीवुड में शोक की लहर है। हर कोई सोशल मीडिया के माध्यम से उन्हें श्रद्धांजलि दे रहा है। वही फैंस को भी गहरा झटका लगा है और हर किसी की आंखें नम है।

बता दें, लता मंगेशकर का जन्म 28 सितंबर 1929 को मध्यप्रदेश के इंदौर में हुआ था। लता मंगेशकर ने अपने करियर में 30 से भी ज्यादा भाषाओं में गाने गाए हैं। इसी कारण लता मंगेशकर हो साल 2001 में भारत रत्न से भी नवाजा गया था। लता मंगेशकर ने पहली बार मराठी फिल्म ‘किति हसाल’ के लिए गाना गाया था। हालांकि उनका पहला गाना कभी रिलीज नहीं हुआ।

लता मंगेशकर को लेकर कहा जाता है कि संगीत की दुनिया में जो लता मंगेशकर ने मुकाम हासिल किया उसे हर कोई हासिल नहीं कर सकता ।लता मंगेशकर ने अपने करियर में ऐसे-ऐसे रिकॉर्ड अपने नाम दर्ज किए हैं जिन्हें कोई तोड़ नहीं सकता। उन्हें अपने करियर में कई पुरस्कार हासिल हुए हैं। इतना ही नहीं बल्कि लता मंगेशकर का नाम गिनीज बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में भी शामिल किया गया है। बता दें, लता मंगेशकर ने करीब 25000 से भी ज्यादा गाने गाए हैं।

lata mangeshkar

बता दें, लता मंगेशकर ने गायकी के साथ-साथ एक्टिंग की दुनिया में भी काम किया। उन्होंने ‘पाहिली मंगलागौर’, ‘बड़ी मां’ और ‘जीवन यात्रा’ जैसी फिल्मों में अपने अभिनय का जौहर भी दिखाया है। हालांकि उन्हें गायकी से दुनिया भर में पहचान हासिल हुई। जैसा कि हम सभी जानते हैं कि, लता मंगेशकर जीवन भरा आविवाहित रही। उन्हें महाराजा राजसिंह से प्यार हुआ था लेकिन उनका रिश्ता शादी के मुकाम तक नहीं पहुंच पाया।

दरअसल, राज सिंह के माता-पिता का कहना था कि वे उनके बेटे की शादी किसी आम घराने की लड़की से नहीं करना चाहते थे, इसलिए लता मंगेशकर और राज सिंह की शादी कभी नहीं हो पाई। बता दें, राज सिंह करीब 20 साल तक भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) से भी जुड़े रहे। वहीं लता मंगेशकर को भी क्रिकेट से बेहद प्यार था। लता मंगेशकर भले ही इस दुनिया को छोड़ कर चली गई है लेकिन वह अपने गानों के जरिए हमेशा फैंस के दिलों में जिंदा रहेगी।

Related Articles

Back to top button