धार्मिक

सामुद्रिक शास्त्र: जिंदगी के कई गहरे राज खोलते हैं पैर की उंगलियों के तिल, जानिए इनका मतलब

पंडित-आचार्य हाथ की लकीरों को देखकर हमारा भविष्य बता देते हैं। हाथ की लकीरों से यह अनुमान लगाया जा सकता है कि हमारे भाग्य और भविष्य में क्या लिखा है। हाथ पर होने वाली अलग-अलग लकीरे हमारे भविष्य से जुड़े हुए कई राज खोल देती हैं।

ज्योतिष शास्त्र के अलावा सामुद्रिक शास्त्र एक ऐसी विद्या है जिससे शरीर की बनावट और शरीर पर बने निशान से हम अपने जीवन से जुड़ी हुई बहुत सी बातें जान सकते हैं। सामुद्रिक शास्त्र में ऐसा बताया गया है कि हमारे शरीर पर तिल का बहुत विशेष महत्व है।

हर व्यक्ति के शरीर पर तिल होते हैं। पैर पर तिल का अपना अलग ही महत्व और मतलब होता है। इसके साथ ही हर तिल के हिसाब से फलित भी बदला गया है।

आज हम इस लेख के माध्यम से पैरों पर मौजूद तिलों के बारे में बात करने वाले हैं। पैर की अलग-अलग उंगलियों पर तिल होने का मतलब अलग अलग होता है, जिसको सामुद्रिक शास्त्र की सहायता से समझ सकते हैं। तो चलिए जानते हैं इसके बारे में…

पैर की कनिष्ठा पर तिल का मतलब

अगर किसी व्यक्ति के पैर की कनिष्ठा यानी की सबसे छोटी उंगली पर तिल का निशान है, तो इसका मतलब यह होता है कि वह व्यक्ति बहुत चंचल स्वभाव का है। ऐसी मान्यता है कि यह लोग एक जगह नहीं रह सकते हैं। यह लोग बहुत महत्वकांक्षी माने जाते हैं। इन लोगों को महंगी-महंगी चीजें खरीदने का बहुत शौक होता है। यह खूब मेहनत करके अपने शौक को पूरा करते हैं।

अनामिका उंगली पर तिल का मतलब

अगर किसी व्यक्ति की अनामिका उंगली पर तिल है तो वह बहुत भाग्यशाली होता हैं। पैर की सबसे छोटी उंगली के बराबर वाली उंगली को अनामिका कहा जाता है। यह लोग हर चीज में जल्दबाजी दिखाते हैं। इन लोगों के अंदर धैर्य की कमी रहती है। लेकिन ये सामने वाले को बहुत जल्दी प्रभावित कर लेते हैं, जो इनकी एक बहुत खास बात होती है।

अंगूठे पर तिल

अगर किसी व्यक्ति के पैर के अंगूठे पर तिल है, तो इसका यह अर्थ होता है कि उस व्यक्ति को घूमना-फिरना बहुत पसंद है। अगर इन लोगों को कभी मौका मिलता है तो दुनिया से दूरी बनाकर अपने साथ समय व्यतीत करने दूर जाना चाहते हैं। इन लोगों को शांति पसंद है और यह किसी भी लड़ाई झगड़े से दूर रहना पसंद करते हैं। चाहे परिस्थितियां कैसी भी हों, यह लोग हमेशा ही खुश रहते हैं।

तर्जनी पर तिल का मतलब

अगर किसी की तर्जनी उंगली यानी कि अंगूठे के बराबर वाली उंगली पर तिल है, तो इसका अर्थ यह होता है कि व्यक्ति बहुत भाग्यशाली है। इस तरह के लोगों को अपने जीवन में कभी भी किसी चीज की कमी नहीं होती है। यह लोग बहुत मस्तमौला स्वभाव के माने जाते हैं। इन लोगों को घूमना-फिरना बहुत पसंद होता है। इन लोगों को कंजूसी बिल्कुल भी पसंद नहीं होती है। पैसा खर्च करने के मामले में यह सबसे आगे रहते हैं।

पैर की मध्यमा पर तिल का मतलब

अगर किसी के पैर की मध्यमा उंगली यानी की पैर की बीच वाली उंगली पर तिल है तो वह व्यक्ति बहुत सारी भाषाओं का ज्ञान रखते है। इन लोगों को लोकप्रिय होने की हार्दिक इच्छा होती है। यह लोग बड़े नेता हो सकते हैं। इन लोगों की वाणी बहुत प्रभावशाली होती है, जिससे वह सामने वाले को बहुत जल्दी आकर्षित कर लेते हैं। इन्हें अपना जीवन खुलकर जीना बहुत पसंद होता है।

Related Articles

Back to top button